लाइव टीवी

आईलाइनर लगाते समय महिलाएं करती हैं ये 4 गलतियां, आज ही सुधार लें

News18Hindi
Updated: February 8, 2020, 7:12 PM IST
आईलाइनर लगाते समय महिलाएं करती हैं ये 4 गलतियां, आज ही सुधार लें
अब ऑकेजन को ध्यान में रखते हुए आईलाइनर के स्टाइल को तय किया जाता है.

बहुत सी महिलाओं को आईलाइनर लगाना बहुत बड़ा टास्‍क लगता है, ऐसे में इसे लगाना मुश्किल होने के साथ-साथ आपके लुक को बना या बिगाड़ भी सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 8, 2020, 7:12 PM IST
  • Share this:
आजकल की ट्रेंडी लाइफस्टाइल में आईलाइनर लगाना काफी कॉमन हो गया है. हालांकि इसको लगाने के तरीके बदल गए है. अब ऑकेजन को ध्यान में रखते हुए आईलाइनर के स्टाइल को तय किया जाता है. ऐसे में आईलाइनर लगाना आपका रोज का ब्‍यूटी स्टेटमेंट बन सकता है. कुछ महिलाएं रोज, तो कुछ केवल खास मौकों पर ही आईलाइनर लगाना पसंद करती हैं.

इसे भी पढ़ेंः बिना क्रीम लगाए दूर हो सकती हैं चेहरे की झुर्रियां, इन 6 तरीकों से करें सिर की मसाज

वहीं बहुत सी महिलाओं को आईलाइनर लगाना बहुत बड़ा टास्‍क लगता है, ऐसे में इसे लगाना मुश्किल होने के साथ-साथ आपके लुक को बना या बिगाड़ भी सकता है. इसलिए इसे लगाने के लिए सही तकनीक को अपनाना बहुत जरूरी है. आपकी छोटी सी गलती सबकुछ बर्बाद कर सकती है. आइए आपको बताते हैं आईलाइनर लगाते समय कौन सी सामान्य गलतियां करती हैं आप.

बहुत से महिलाएं आईलाइनर को आंख के ऊपरी हिस्से की बजाय नीचे की ओर लगाना पसंद करती हैं.


लाइनर लगाते समय पलकों को झपकाना
यह सबसे आम लेकिन सबसे बड़ी गलती हो सकती है क्‍योंकि अगर आपको आईलाइनर लगाते समय अपनी पलकों को टटोलने या झपकाने की आदत है, तो यह आपके मेकअप को बिगाड़ सकती है. ऐसा करने से आपको आईलाइनर में सफाई नहीं मिलेगी. यदि आप लिक्विड आईलाइनर का इस्‍तेमाल करती हैं तो आंखे झपकाने पर यह आपकी आंखों के अंदर भी जा सकता है जिससे आपकी आंखों को नुकसान पहुंच सकता है.

आंख के निचले हिस्से पर लिक्विड आईलाइनर का इस्तेमाल करनाबहुत से महिलाएं आईलाइनर को आंख के ऊपरी हिस्से की बजाय नीचे की ओर लगाना पसंद करती हैं. वहीं कुछ महिलाएं आंखों के ऊपरी और निचली, दोनों ओर आईलाइनर लगाती हैं. महिलाओं को लगता है कि ऐसा करने से उनकी आंखें बड़ी दिखेंगी लेकिन यह बिल्कुल गलत है. निचली लैश लाइन पर लिक्विड आईलाइनर लगाने से न केवल आपकी आंखें छोटी दिखेंगी बल्कि ओवर भी दिखेंगी. अगर आप अपनी निचली लैश लाइन पर कुछ लगाना चाहती हैं तो काजल का इस्तेमाल करें.

आईलाइनर लगाने के बाद कर्लर का इस्तेमाल करना
आईलाइनर एकमात्र ऐसा ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट है, जो आपकी लैशेस के सबसे करीब लगता है. यदि आप आईलाइनर लगाने के बाद कर्लर का उपयोग करते हैं, तो इससे यह फीका हो जाएगा या लाइनर को हटा देगा. सिर्फ इतना ही नहीं यह असमान व पैची भी दिखने लगेगा और आपके लुक को खराब कर देगा. इसलिए आईलाइनर लगाने से पहले अपनी पलकों को कर्ल कर लें या फिर आई लैशेज लगा लें और फिर इसका उपयोग करें.

इसे भी पढ़ेंः अब घर बैठे मेथी से सफेद बाल होंगे काले, हेयर फॉल की समस्या से मिलेगा छुटकारा

आईलाइनर एकमात्र ऐसा ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट है, जो आपकी लैशेस के सबसे करीब लगता है.


पुराने या सूखे आईलाइनर का उपयोग करना
अगर आप नियमित रूप से आईलाइनर नहीं लगाती हैं तो आप हमेशा अपने आईलाइनर के उपयोग से पहले उसकी जांच जरूर कर लें कि वह ज्‍यादा पुराना न हो गया हो. पुराना आईलाइनर लगाने से आपकी आंखों को नुकसान पहुंच सकता है. पुराना आईलाइनर आंखों के इंफेक्‍शन का कारण बन सकता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 7:12 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर