मां की इन पांच आदतों को बहुत कम उम्र में ही सीख लेते हैं बच्चे

मां की इन पांच आदतों को बहुत कम उम्र में ही सीख लेते हैं बच्चे
मां के इन पांच कामों को बच्चे बहुत कम उम्र में ही अपना लेते हैं.

बच्चे (Children) की पहली गुरु उसकी मां (Mother) होती है. वही बच्चों को शब्दों और रिश्तों (Relationship) का ज्ञान करती है. मां की आदतों (Habits) और उसके काम को देखकर बच्चे बहुत कम उम्र में ही इन चीजों को सीख जाते हैं. बच्चे मां की इन पांच आदतों से ज्यादा प्रभावित होते हैं...

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 12, 2020, 8:10 PM IST
  • Share this:
बच्‍चों (Child) की सबसे पहली दोस्‍त और गुरु उनकी मां (Mother) होती है. मां जैसे शब्दों को बोलती है बच्चे उसे सीखते हैं. उसी तरह के शब्दों को बोलने की कोशिश करते हैं. ऐसे में मां को चाहिए कि वो ऐसा काम करें जिसको देखकर बच्चे प्रेरित (Motivate) हों और कम उम्र से ही अच्छे काम सीख लें. तो आइए आज हम मां के उन कामों के बारे में बताते हैं, जिनको बच्चे बहुत कम उम्र से ही अपना लेते हैं. मां की आदत को देखकर बच्चे खुद वैसा करते हैं...

बाथ सेशन
अगर कोई मां घर से बाहर जाने से पहने नहाती है और तैयार होती है तो बच्चे भी अपनी मां को देखकर ऐसा करेंगे. क्योंकि बच्चा अपनी मां की इस आदत को देखकर दिमाग में बैठा लेता है. और जैसे-जैसे बड़ा होता है. इन चीजों को करने का प्रयास करता है. ऐसे में लाभ यह है कि बच्‍चे खुद को साफ सुथरा रखते हैं और साफ-सफाई पर ध्‍यान देते हैं.

एक्‍सरसाइज करना
आजकल की महिलाओं को घर के काम और ऑफिस वर्क से समय ही नहीं मिलता कि वो एक्सरसाइज करें. अगर करती भी हैं तो जिम जाकर जहां पर उनके बच्चे इस चीज को नहीं देख सकते. ऐसे में अगर अपने बच्‍चे को हेल्‍दी और एक्टिव बनाना चाहते हैं तो आपको बच्चो के सामने घर पर ही एक्सरसाइज करनी चाहिए. ताकि बच्चे भी आपको देखकर बचपन से एक्सरसाइज को आपने रुटीन में शामिल कर सकें.



बच्‍चों की डाइट में शामिल करें ये चीजें, आंखों की रोशनी हमेशा रहेगी तेज

समय पर सोना
एक मां अपने बच्‍चे को एक अच्‍छी आदत सिखा सकती हैं. ये आदत है समय पर सोने और जगने की. मां को चाहिए कि वह बच्‍चों को समझाएं कि शरीर और दिमाग को एनर्जी के लिए पर्याप्‍त नींद लेना जरूरी है. आप अपने बच्‍चे के लिए स्‍लीप रुटीन तैयार करें और उसके साथ खुद भी समय पर सोएं. जब मां बाप खुद ऐसा करेंगे तो बच्‍चे आसानी से इसे सीख लेंगे.

ईटिंग हैबिट्स
अच्‍छी ईटिंग हैबिट्स हर उम्र के लोगों के लिए बहुत जरूरी है. इससे आप और आपका पूरा परिवार हेल्‍दी रहता है. आप जब भी खाना खाती हैं तो बच्‍चे को भी टेबल मैनर्स और अच्‍छी ईटिंग हैबिट्स के बारे में बताएं. ये बहुत ही अच्छी और महत्‍वपूर्ण आदत है जो बच्‍चे अपनी मां से सीखते हैं.

हाथ धोने की आदन
बच्चा हमेशा देखता है कि उसकी मां हर काम को करने के बाद हाथ धोती है. खाना बनाने के पहले और खाना बनाने के बाद भी हाथ और किचन की सफाई करती हैं ऐसे में बच्चे को इस बात का अससास हो जाता है कि कोई काम करने से पहले उनको हाथ धोना चाहिए. मााता-पिता को चाहिए कि वो अपने बच्चों को स्वच्छता के बारे में बताएं.कई बार आप भूल जाते हैं कि दिनभर आपके हाथ दरवाजा खोलने और बंद करने, शौचालय फ्लश करने, अपने टैबलेट या फोन को छूने में कैसे सक्रिय रहे हैं. ऐसे काम को करने के बाद हाथ धोना है. बच्चों को यह बात समझाएं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज