Nariyal Pag Recipe: जन्माष्टमी पर बनाएं जन्माष्टमी मेवा, जो खाए बार बार मांगे

Nariyal Pag Recipe: जन्माष्टमी पर बनाएं जन्माष्टमी मेवा, जो खाए बार बार मांगे
नारियल पाक जन्माष्टमी मेवा की रेसिपी (फोटो साभार: instagram/spicymusings)

नारियल पाक (Nariyal Pag/ Janmashtami Meva Pak): जन्माष्टमी मेवा को नारियल पाग भी कहा जाता है. जन्माष्टमी मेवा काफी यमी होता है. तो आइए जानते हैं जन्माष्टमी मेवा बनाने की रेसिपी...

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 10, 2020, 3:35 PM IST
  • Share this:
नारियल पाक (Nariyal Pag/ Janmashtami Meva Pak): जन्माष्टमी (Janmashtami) इस बार 12 अगस्त को मनाई जाएगी. जन्माष्टमी का त्योहार भगवान कृष्ण के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है. इन दिन भगवान कृष्ण के बाल गोपाल रूप की पूजा होती है. इस मौके को खास बनाने के लिए क्यों न आप इस बार जन्माष्टमी मेवा बनाएं, इसे आप प्रसाद के तौर पर बाल गोपाल को अर्पित कर सकते हैं. साथ ही इसे प्रसाद के तौर पर बाद में खुद भी खा सकते हैं. जन्माष्टमी मेवा को नारियल पाग भी कहा जाता है. जन्माष्टमी मेवा काफी यमी होता है. तो आइए जानते हैं जन्माष्टमी मेवा बनाने की रेसिपी...

इस रेसिपी का वीडियो देखने के लिए क्लिक करें 

सामग्री:



मखाने – 1 कप
सूखा नारियल – 1 कप कद्दूकस किया हुआ
खरबूजे के बीज – 1 कप
चीनी – 2 कप
घी – ¾ कप
बादाम – ½ कप
गोंद – ⅓ कप
खसखस – ¼ कप
सफेद मिर्च – 1 छोटी चम्मच
इलाइची – 10 से 12 (पाउडर)

जन्माष्टमी मेवा की रेसिपी:
जन्माष्टमी मेवा बनाने के लिए मखाने, गरी, काजू, बादाम और अन्य ड्राई फ्रूट्स को छोटे-छोटे टुकड़ों को क़तर लें. अब एक कढ़ाई में घी गर्म करें और उसमें एक-एक करके सभी मेवों को भून लें. इस बात का ख्याल रहे कि चिरौंजी व खरबूजे के बीज को भी हल्की आंच पर भूनें अन्यथा ये जल सकते हैं.

शुद्ध देसी घी में गोंद को भी भून लें. भूनने के बाद इसे हाथ से तोड़कर चूरे जैसा बना लें. अब एक कढ़ाई में चीनी और पानी डालकर एक तार की चाशनी बना लीजिये. चाशनी को बीच-बीच में चेक करते रहें. तैयार चाशनी में भूने हुए सभी मेवों को अच्छी तरह से मिला लें. बाद में इसमें इलाइची पाउडर मिला लें.

अब इस मिश्रण को घी लगी थाली में निकाल लें और ठंडा होने दें. इसके बाद इसे चाकू से बर्फी के आकार में काट लें. तैयार है आपका स्वादिष्ट जन्माष्टमी मेवा. अब इस जन्माष्टमी मेवा बाल गोपाल को लगाएं अपने हाथ के बनाए इस जन्माष्टमी मेवा का भोग और लोगों को प्रसाद की तरह भी दे सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज