ये एक फल आपके दांतों को रख सकता है स्वस्थ

अगर आप इस फल का सेवन करते हैं तो आपके दांतों की समस्या खत्म हो सकती है. आइए आपको बताते हैं इस जादुई फल के बारे में-

News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 9:08 AM IST
ये एक फल आपके दांतों को रख सकता है स्वस्थ
अगर आप इस फल का सेवन करते हैं तो आपके दांतों की समस्या खत्म हो सकती है. आइए आपको बताते हैं इस जादुई फल के बारे में-
News18Hindi
Updated: July 23, 2019, 9:08 AM IST
दांतों के रख-रखाव को लेकर माता-पिता बचपन से ही कई तरह की चीजें सिखाना शुरू कर देते हैं क्योंकि दांतों की समस्या बचपन से ही शुरू हो जाती है और इसका सबसे बड़ा कारण है सही टूथपेस्ट का चुनाव न कर पाना और सही तरीके से ब्रश न कर पाना. लेकिन क्या आपको पता है कि एक फल को खाने से भी आप अपने दांतों की रखवाली कर सकते हैं. अगर आप इस फल का सेवन करते हैं तो आपके दांतों की समस्या खत्म हो सकती है. आइए आपको बताते हैं इस जादुई फल के बारे में-

  • डेंटिस्ट का मानना है कि अगर टूथपेस्ट और माउथवॉश में ब्लूबेरी का इस्तेमाल करें तो दांतों की सेहत अच्छी बनी रहती है. इस दावे से पहले ही वैज्ञानिकों ने बताया था कि मुंह में बैक्टीरिया की गतिविधि कम करके दांत खराब होने का खतरा कम किया जा सकता है.

  • ब्लूबेरी जैसे फल पॉलीफिनॉल्स का अच्छा स्रोत होते हैं. पॉलिफिनॉल्स एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो शरीर को बैक्टीरिया के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करते हैं. यूनिवर्सिटी ऑफ क्वीन्सलैंड के शोधकर्ताओं ने मुंह के बैक्टीरिया पर क्रैनबेरी, ब्लूबेरी और स्ट्रॉबेरी के असर का परीक्षण किया.


  • जर्नल ओरल साइसेंज में प्रकाशित हुए नतीजों में पाया गया कि ब्लूबेरी के सेवन से बैक्टीरिया की संख्या में काफी कमी देखी गई है. शोधकर्ताओं का मानना है कि ब्लूबेरी का कैविटीज से लड़ने में प्राकृतिक हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है.

  • ओएचएफ की रिपोर्ट के मुताबिक, दिन में एक मुठ्ठी बेरीज खाने से ओरल हेल्थ की समस्याएं घट सकती हैं. ब्लूबेरीज को ब्रेकफास्ट में कॉर्नफ्लेक्स, योगर्ट या कई तरीकों से इस्तेमाल किया जा सकता है.


Loading...

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
First published: July 23, 2019, 9:08 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...