Home /News /lifestyle /

मीटिंग्स और कलीग से बात करने में ही वेस्ट हो जाता है टाइम? समय बचाने ये 4 टिप्स आएंगे काम

मीटिंग्स और कलीग से बात करने में ही वेस्ट हो जाता है टाइम? समय बचाने ये 4 टिप्स आएंगे काम

पेंडिंग वर्क के चलते आपको ऑफिस में देर रात तक रुकना पड़ सकता है, इससे आपके फैमिली टाइम का नुकसान हो सकता है. (फोटो-shutterstock.com)

पेंडिंग वर्क के चलते आपको ऑफिस में देर रात तक रुकना पड़ सकता है, इससे आपके फैमिली टाइम का नुकसान हो सकता है. (फोटो-shutterstock.com)

Four ways to save time at work : ऑफिस में कई बार ये देखने में आया है कि कलीग्स (Colleagues) की ओर से प्राप्त होने वाले अनपेक्षित अनुरोध (unexpected request) आपको ऑफिस के बहुत जरूरी कामों को करने से रोक सकते हैं. इस वजह से आपको ऑफिस में देर रात तक रुकना पड़ सकता है या इससे आपके फैमिली टाइम का नुकसान हो सकता है. काम के दौरान अपना समय बचाने के लिए आपको कुछ सीमाएं तय करनी होंगी.

अधिक पढ़ें ...

4 ways to save time at work : आजकल की लाइफस्टाइल में इंसान की लाइफ सिर्फ ऑफिस और घर के बीच ही गुजरती है. सुबह ऑफिस निकलना और रात को घर आना. इस बीच दोनों ही जगहों में से अगर कहीं भी ज्यादा समय लगा तो दूसरे को परेशानी होना तय माना जाता है. मतलब ये है कि दोनों ही जगहों पर बराबर टाइम देना है. ऑफिस में कई बार ये देखने में आया है कि कलीग्स (Colleagues) की ओर से प्राप्त होने वाले अनपेक्षित अनुरोध (unexpected request) आपको ऑफिस के बहुत जरूरी कामों को करने से रोक सकते हैं. इस वजह से आपको ऑफिस में देर रात तक रुकना पड़ सकता है या इससे आपके फैमिली टाइम का नुकसान हो सकता है. ऑफिस में वर्किंग के दौरान अपना टाइम बचाने के लिए आपको कुछ सीमाएं तय करनी होंगी.

दैनिक भास्कर अखबार ने हार्वर्ड बिजनेस रिव्यू (Harvard Business Review) के हवाले इसके लिए कुछ टिप्स बताए हैं, जो आपको ऑफिस में आपके टाइम की बचत करेंगे

कुछ डेट्स को पहले से ब्लॉक कर सकते हैं
अपने कैलेंडर में कुछ डेट्स को “बिज़ी (Busy)’ का टैग दें. अगर इस टाइम फ्रेम के दौरान आपसे मीटिंग करने के लिए कोई पूछे भी, तो उन्हें दूसरा समय दें. अगर आपकी मीटिंग एक बड़े समूह के साथ होने वाली है तो थोड़ा विचार करने के बाद तय करें कि इस मीटिंग में आपका रहना वाकई जरूरी है या आपके बिना भी काम चल सकता है.

यह भी पढ़ें-
बढ़ती उम्र में भी ‘सुपर फिट’ हैं फरहान अख्तर, युवा हैं उनकी दमदार बॉडी के कायल

मीटिंग खत्म करने का टाइम फिक्स करें
अगर आप मीटिंग को लीड कर रहे हैं, तो टाइम फिक्स करें कि ये मीटिंग कितने समय तक जारी रखनी है. दो अलग मीटिंग हैं, तो उन्हें एक के बाद एक लगातार रखें. मीटिंग शुरू होने से पहले ही बता दें कि आपको इस मीटिंग को हर हाल में 2.30 बजे तक खत्म करना ही होगा,  इसलिए सबसे जरूरी मुद्दों पर सबसे पहले बात शुरू कर ली जाए.

विनम्रता से ‘NO’ कहना सीखें
आपके ब्लॉक किए हुए “बिजी’ दिनों के दौरान अगर कोई कलीग आपकी डेस्क पर आकर बात करना शुरू करते हैं या मीटिंग के लिए बुलाते हैं तो उन्हें विनम्रता (Politeness) के साथ मना कर सकते हैं. अगर आपके केबिन में दरवाजा है, तो काम के दौरान उसे बंद करके ही बैठें. कॉफी शॉप या कॉन्फ्रेंस रूम में जाकर भी बैठ सकते हैं.

यह भी पढ़ें-
खूबसूरती बढ़ानी है तो अच्छी नींद है जरूरी, जानें वजह

ई-मेल के जरिए बातचीत बेहतर
मैसेज आप तक किस मीडियम से पहुंचते हैं? अगर आप लोगों को ई-मेल के जरिए बात करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं, तो आपको तब तक मैसेज देखने की जरूरत नहीं है, जब तक आप जवाब देने के लिए तैयार नहीं होते. अगर आपको काम संबंधी ईमेल रात को 10 बजे मिलता है, तो उसका जवाब अगले दिन भी दिया जा सकता है.

Tags: Lifestyle, Office, Office culture

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर