होम /न्यूज /जीवन शैली /हेयर ट्रांसप्लांट से पाना है यंग लुक तो ट्रीटमेंट से पहले जान लें ये जरूरी बातें

हेयर ट्रांसप्लांट से पाना है यंग लुक तो ट्रीटमेंट से पहले जान लें ये जरूरी बातें

हेयर ट्रांसप्लांट से जुड़ी जरूरी बातें (image-canva)

हेयर ट्रांसप्लांट से जुड़ी जरूरी बातें (image-canva)

Hair transplant - हेयर ट्रांसप्लांटेशन एक सर्जिकल प्रोसेस होता है जिसमें सिर के एक हिस्से से सभी फॉलिकल्स और जड़ों को ह ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

हेयर ट्रांसप्लांट में बाल परमानेंट होते है, ये बाल टूटते और झड़ते नहीं है.
गंजेपन से परेशान लोगों के लिए ये एक बेहतरीन ऑप्शन है.
हेयर ट्रांसप्लांट में इनफेक्शन होने का भी कोई खतरा नहीं होता है.

Important Facts about Hair Transplantation : आजकल कम उम्र में बाल झड़ जाना काफी आम समस्या बन गई है, ये परेशानी लगभग हर चौथे व्यक्ति में आसानी से देखने को मिल सकती है. बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं और कई बार ये समस्या जेनेटिक भी होती है. झड़ते बालों से परेशान लोग आजकल हेयर ट्रांसप्लांटेशन का सहारा ले सकते हैं. हेयर ट्रांसप्लांट एक सर्जिकल प्रोसेस है, जिसमें सिर के एक हिस्से से सभी फॉलिकल्स और जड़ों को हटाकर उनके गंजेपन वाले हिस्से में ट्रांसप्लांट किया जाता है. हालांकि हेयर ट्रांसप्लांट को लेकर अधिकतर लोगों के बीच बालों का झड़ना और हेयर ट्रांसप्लांट के बाद बालों की देखभाल करने को लेकर अलग-अलग तरह की कंफ्यूजन बनी रहती हैं. ट्रांसप्लांट और इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर बहुत सारे वहम भी होते हैं. अगर आप भी ऐसी ही समास्याओं से परेशान हैं, तो आइए जानतें हैं हेयर ट्रांसप्लांट से जुड़ी कुछ जरूरी बातों के बारे में

हेयर ट्रांसप्लांट से जुड़ी कुछ जरूरी बातें :
खुजली की समस्या :
इंडियन एक्सप्रेस डॉट कॉम के मुताबिक हेयर ट्रांसप्लांट कराने के बाद खुजली की समस्या होना बेहद कॉमन प्रॉब्लम है,अगर इस दिक्कत का सही से इलाज नहीं किया जाता है तो यह समस्या एक गंभीर रूप ले लेती है. खुजली मुख्य रूप से स्कैल्प में हुए बदलाव के कारण होती है और इसे हर रोज अच्छा शैंपू करके कंट्रोल किया जा सकता है.

इंफेक्शन का डर :
कई बार लोग हेयर ट्रांसप्लांट करवाने में डरते हैं कि कहीं इनफेक्शन न हो जाए लेकिन हेयर ट्रांसप्लांट में इनफेक्शन होने का बहुत कम ही चांस होता है. ऐसा बहुत कम होता है लेकिन हज़ार में से किसी एक व्यक्ति को अगर इंफेक्शन हो भी जाता है तो उसे एंटीबायोटिक्स से ठीक किया जा सकता है.

नॉर्मल हेयर की तरह ट्रीट कर सकते हैं :
जब हेयर ट्रांसप्लांट किए गए बाल बढ़ने लगते हैं तो आप उनको अपने नॉर्मल हेयर्स के जैसे ट्रीट कर सकते हैं, ट्रांसप्लांट हेयर्स नेचुरल हेयर्स जैसे ही होते हैं. ट्रांसप्लांटेड हेयर्स को किसी भी विशेष देखभाल की जरूरत नहीं होती है.

ये भी पढ़ें: स्किन और हेयर प्रॉब्लम्स दूर करने के लिए इस्तेमाल करें फिटकरी, जानें खासियत

ट्रांसप्लांट हेयर्स परमानेंट होते हैं :
हेयर ट्रांसप्लांट में बाल परमानेंट ही होते हैं, और ये बाल गिरते और झड़ते भी नहीं है. इनको आप अपने अनुसार बड़ा और छोटा भी कर सकते हैं और आप अपनी पसंद का हेयर स्टाइल कैरी कर सकते हैं.

ऑफ्टर केयर :
हेयर ट्रांसप्लांट के समय आपकों डाक्टर एंटीबायोटिक्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी दवाएं लिखते हैं यदि आप उसे नियमित रूप से लेते हैं तो ये आपके लिए लाभकारी होता है. जब आप हेयर ट्रांसप्लांट करवाए तो 3 दिनों तक सीधे धूप के संपर्क में आने से बचें और बहुत अधिक एक्सरसाइज करने से भी कुछ दिन परहेज करें.

ये भी पढ़ें: क्या है रिवर्स हेयर वॉशिंग? जानें, इसके फायदे और नुकसान

Tags: Lifestyle, Tips and Tricks

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें