स्टूडेंट्स का स्ट्रेस कम करेगी डॉग थैरेपी

शोधकर्ताओं के मुताबिक डॉग थैरेपी यूनिवर्सिटी कैंपस में काफी मशहूर हो रही है. इस थैरेपी की मदद से स्टूडेंट्स पर काफी पॉजिटिव इफेक्ट देखा जा रहा है. इससे उनमें स्ट्रेस के साथ नेगेटिविटी भी कम होती दिखाई दी है.

News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 2:16 PM IST
स्टूडेंट्स का स्ट्रेस कम करेगी डॉग थैरेपी
dog therapy- डॉग थैरेपी
News18Hindi
Updated: March 14, 2018, 2:16 PM IST
क्या आपको एग्जाम फोबिया है? क्या आपको पढ़ाई पूरी न हो पाने की वजह से टेंशन हो रही है? टेस्ट में अच्छे नंबर से पास न होने के कारण आपको स्ट्रेस रहता है? अगर हां, तो कोशिश करिए कि आप थोड़ा वक्त अपने पालतू जानवर के साथ बिताएं. हाल ही में हुई एक स्टडी से पता चला है कि अगर स्टूडेंट्स थोड़ा समय अपने डॉग के साथ बिताते हैं तो इससे वे अपनी हेल्थ को बेहतर करने के साथ स्ट्रेस को भी कम कर सकते हैं.

शोधकर्ताओं के मुताबिक डॉग थैरेपी यूनिवर्सिटी कैंपस में काफी मशहूर हो रही है. इस थैरेपी की मदद से स्टूडेंट्स पर काफी पॉजिटिव इफेक्ट देखा जा रहा है. इससे उनमें स्ट्रेस के साथ नेगेटिविटी भी कम होती दिखाई दी है.

एग्ज़ाम के समय अपने बच्चे से कभी न कहें ये बातें


ये रिसर्च यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया, कनाडा में हुई है. इसके अलावा अगर स्टूडेंट्स अपने असाइनमेंट के लिए क्लास के बाहर रहते हैं और अपने पालतू जानवर के साथ समय बिताते हैं तो ये एक तरीका भी उनके लिए काफी कारगर है.

इसे साबित करने के लिए शोधकर्ताओं ने करीब 246 स्टूडेंट्स पर डॉग थैरेपी अपनाकर देखी जिसमें स्टूडेंट्स ने अपने पालतू जानवर के साथ बातें की और उनके साथ खेल भी खेले. निष्कर्ष बताते हैं कि ऐसा करने के बाद स्टूडेंट्स ज्यादा खुश और स्ट्रेस-फ्री दिखाई दिए. साथ ही उनका एनर्जी लेवल भी काफी अच्छा रहा.

स्टूडेंट के अच्छे भविष्य के लिए यूनिवर्सिटी में अगर ये रूल अपनाया जाए तो उनके एग्जाम सुकून से बीत सकते हैं और वे स्ट्रेस-फ्री रह सकते हैं.

Pic credit: pexels.com
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Lifestyle News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर