अगर आप भी चाहती हैं कर्ली-कर्ली बाल तो अपनाएं Pineappling Hairstyle Trick, ये होंगे फायदे

अगर आप भी चाहती हैं कर्ली-कर्ली बाल तो अपनाएं Pineappling Hairstyle Trick, ये होंगे फायदे
कर्ली हेयर्स को मैनेज करने में पाइनेप्पल हेयरस्टाइलिंग तकनीक काफी काम आती है.

कर्ली हेयर्स (Curly Hair) नेचुरल हेयर्स की अपेक्षा अधिक केयर की मांगते हैं. अगर आपके हेयर्स कर्ली हैं तो आप Pineappling Hairstyling Technique की मदद से अपने बालों को आसानी से मैनेज कर सकती हैं.

  • Share this:
लड़कियों और महिलाओं में कर्ली हेयर स्टाइल (Curly hairstyles) का क्रेज इन दिनों तेजी से बढ़ा है. महिलाएं (Womens) अपने बालों को कर्ली लुक देने के लिए तरह-तरह के उपाय करती हैं. दरअसल, कर्ली हेयर्स नेचुरल हेयर्स की अपेक्षा अधिक केयर की मांगते हैं. अगर इनकी देखरेख में थोड़ी भी लापरवाही हुई तो इनको सुलझाना काफी मुश्किल हो जाता है. साथ ही देखने में भी काफी अजीब लगते हैं. कर्ली हेयर्स को मैनेज करने और स्टाइलिश बनाने में पाइनेप्पलिंग हेयरस्टाइ (Pineappling Hairstyle ) तकनीक काफी काम आती है. आपने देखा होगा कि जब आप सुबह सोकर उठती हैं तो आपके बाल काफी उलझे और अजीब नजर आते हैं.

कर्ली हेयर्स सुबह उठने के बाद काफी उलझ जाते हैं. ऐसे में सोते समय अगर बालों को पाइनेप्पल हेयरस्टाइलिंग तकनीक से बांधें तो अगली सुबह बाल ज्यों के त्यों मिलेंगे. यह वास्तव में एक हाई पोनीटेल स्टाइल है, जिसे थोड़ा सा अलग तरीके से कैरी किया जाता है. आइए आपको पाइनेप्पल तकनीक और इसके फायदों के बारे में बताते हैं.

पाइनेप्पल तकनीक क्या है
पाइनेप्पल तकनीक जितनी आसान है, उतनी ही प्रभावी भी है. इसके लिए आप सिर को उल्टा करें ताकि सारे बाल आगे की तरफ आ जाएं. अब आप सारे बाल लेकर उसे स्क्रंच से बांधें. बस आपका हेयरस्टाइल रेडी है.
इन बातों का ध्यान रखें


बालों को बांधने के लिए रबर नहीं बल्कि स्क्रंच का इस्तेमाल करें. इसके साथ ही इस बात का भी ध्यान रखें कि वह थोड़ा लूज हो. कभी भी स्क्रंच रबर को बेहद टाइट ना बांधें. हेयर्स लूज लगें तो परेशान होने की जरूरत नहीं है. आप इसे ऐसे ही छोड़ सकती हैं या फिर आगे से स्कार्फ को हेडबैंड की तरह भी बांध सकती हैं. अगर आप अपने हेयर्स में फ्रिजीनेस को मिनिमम रखना चाहती हैं तो सोते समय सिल्क पिलोकवर का इस्तेमाल करें.

पाइनेप्पल तकनीक के फायदे
- सोते समय कर्ली हेयर्स को ऐसे बांधने से बालों में फ्रिजीनेस बहुत कम होती है.
- अगर आप अपने नेचुरल हेयर कर्ल्स के लुक को मेंटेन रखना चाहती हैं तो पाइनेप्पल तकनीक आपके लिए सही है.
- सोते समय पाइनेप्पल तकनीक का सहारा लेने से अगली सुबह बाल सुलझाने के लिए समय और मेहनत दोनों नष्ट नहीं करना पड़ता.
- कर्ली हेयर गर्ल्स को अक्सर हेयरस्टाइलिंग करते हुए काफी परेशानी होती है, लेकिन अगर आप चंद सेकंड में अपने बालों को एक चिक लुक देना चाहती हैं तो पाइनेप्पल हेयरस्टाइलिंग बना सकती हैं.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन की वजह से हो रहा है ब्रेकअप, इन खास तरीकों से करें पैचअप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज