अपना शहर चुनें

States

वट सावित्री व्रत: इस पूजा सामग्री के बिना अधूरा है व्रत, ये है सटीक पूजन विधि

वट सावित्री
वट सावित्री

वट सावित्री व्रत पति की लंबी आयु के लिए रखा जाता है. इसमें पूजन सामग्री का काफी महत्व होता है क्योंकि इसके बिना पूजा अधूरी मानी जाती है.

  • Share this:
हिंदू धर्म में ज़्यादातर महिलाएं पति को देवता का स्वरूप मानती हैं . ऐसे कई व्रत होते हैं जो पति की लंबी आयु और उसकी सलामती के लिए रखे जाते हैं. ऐसा ही एक व्रत है वट सावित्री व्रत. इस बार ये व्रत 3 जून को पड़ रहा है. आइए जानते हैं व्रत की विधि और इसमें किस पूजा सामग्री का इस्तेमाल होगा.

वट सावित्री व्रत पति की लंबी आयु के लिए रखा जाता है. इसमें पूजन सामग्री का काफी महत्व होता है क्योंकि इसके बिना पूजा अधूरी मानी जाती है. इसलिए बेहतर है कि व्रत रखने से पहले ही आप ये पूजा सामग्री खरीदकर घर पर रख लें ताकि ऐन वक्त पर जल्दबाजी में कोई सामान भूल न जाएं.

भारत के हर घर में रोज शाम पिटती है एक 'देवी'! आखिर क्यों?



वत सावित्री व्रत के लिए पूजन सामग्री:
बांस की लकड़ी से बना बेना (पंखा)

लाल और पीले रंग का कलावा

अगरबत्ती या धूपबत्ती

पांच प्रकार के 5 फल

तांबे के लोटे में पानी

पूजा के लिए सिन्दूर (बिना इस्तेमाल किया हुआ)

लाल रंग का वस्त्र बिछाने के लिए.

तस्वीर: (AP Photo/Rafiq Maqbool)


प्यार की तलाश में हैं लोग! क्या शादी से उठ गया है विश्वास?

वट सावित्री व्रत पूजा विधि:
शादीशुदा महिलाएं इस दिन तड़के सुबह उठकर नहा-धोकर पवित्र हो जाएं. इसके बाद लाल या पीली साड़ी पहनकर पूरा दुल्हन की तरह सजें-संवरें. अब बांस की पूजा वाली डलिया में पूजा का सारा सामान व्यवस्थित तरीके से रख लें. अब वट (बरगद) के पेड़ के नीचे के स्थान को अच्छे से साफ़ कर वहां एक चौकी लगाकर सावित्री और सत्यवान की मूर्ति स्थापित कर दें. इसके बाद फूल, रोली, कलावा, अक्षत, दिया, धूपबत्ती और सिन्दूर से उनका पूजन करें. इसके बाद उन्हें लाल रंग का वस्त्र अर्पित करें और साथ ही फल भी चढ़ाएं. इसके बाद बेना (पंखे) से हवा करें. अब अपने बालों में बरगद का एक पत्ता खोंस लें. अब खड़े होकर 5, 11, 21, 51, 108 यानी कि विषम संख्या में वट के पेड़ के चारों तरफ परिक्रमा करें. पंडित जी से आग्रह करें कि वो वट सावित्री व्रत की कथा का पाठ करें.

लाइफस्टाइल, खानपान, रिश्ते और धर्म से जुड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज