किताबें पढ़ना चाहते हैं लेकिन समय नहीं है, अब इस जगह सुन सकते हैं ऑडियो बुक

प्रीलिम्स के लिए बेसिक किताबें जैसे एनसीआरटी की किताबें पढ़ी. अखबार को काफी बारीकी से पढ़ा. यूपीएससी के कई मॉक टेस्ट अटेंड किए.
प्रीलिम्स के लिए बेसिक किताबें जैसे एनसीआरटी की किताबें पढ़ी. अखबार को काफी बारीकी से पढ़ा. यूपीएससी के कई मॉक टेस्ट अटेंड किए.

किताब पढ़ने (Book Reading) से मेमोरी (Memory) बढ़ती है, तनाव (Stress) कम होता है और दिमाग तरोताजा रहता है. कई अध्ययनों से यह बात साबित हुई है कि पढ़ने की आदत Alzheimer जैसी बीमारी की संभावना को कम करती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2020, 5:39 PM IST
  • Share this:
बहुत लोगों को किताबें पढ़ने (Book Reading) का शौक होता हैं. इस तरह के लोग कहीं भी किताब दिखी तो उठाकर पढ़ने लग जाते हैं. यह आदत न सिर्फ किसी को रचनात्मक बनाती है, बल्कि मानसिक स्वास्थ्य (Mental Health) को भी ठीक रखती है. पढ़ने से मेमोरी (Memory) बढ़ती है, तनाव (Stress) कम होता है और दिमाग तरोताजा रहता है. कई अध्ययनों से यह बात साबित हुई है कि पढ़ने की आदत Alzheimer जैसी बीमारी की संभावना को कम करती है. कई लोगों को रात में सोने से पहले कोई पॉजिटिव किताब पढ़ने की आदत होती है. इनका कहना होता है की इससे नींद भी अच्छी आती है. Globalization के इस युग में भाग-दौड़ भरी जिंदगी के कारण किताबें हम से दूर होती जा रही हैं क्योकि हमारे पास समय का अभाव होता जा रहा है. लेकिन वक्त के साथ ही किताबें नए रूप में हमारे सामने आ रही हैं. पहले ऐसा नहीं था.

जैसे–जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, वैसे–वैसे हमारे पास इतना समय नहीं हो पाता है कि हम कोई एक किताब पूरी तरह से पढ़ सकें. ऐसे में हमारे वैज्ञानिकों ने नवीन टेक्नोलॉजी का विकास किया है जिसमें किताबों को पढ़ने के बजाय सुना जा सकता है. इस तरह की किताब को ऑडियो किताब (Audio Books) कहा जाता है. इससे पहले हमने ebook के बारे में सुना था. स्मार्टफोन में Audio Books से सम्बंधित बहुत सारे ऐप्स मिल जाएगें. इन ऐप्स की मदद से हम सफर के दौरान भीड़-भाड़ वाली जगहों पर भी अपनी मनपसंद किताबों को सुन सकते हैं और इसके लिए अलग स्थान कि आवयश्कता नहीं होती. इसे रात में सोने के पहले भी सुन सकते हैं. लंच के समय भी हम ऐसा कर सकते हैं.

इसे भी पढ़ेंः 'वो रंग है ही नहीं जो तेरे बदन में नहीं', आज पेश हैं रंग पर अशआर



Free Hindi Audio Books and Hindi Podcast-pocket FM यह मोबाइल ऐप google play store पर मौजूद है जिसे आप डाउनलोड करके फ्री में बहुत सारी किताबों को सुन सकते हैं. पॉडकास्ट से आप जिस भी सब्जेक्ट के बारे में ज्यादा जानने की उम्मीद कर रहे हैं, उसकी पूर्ति कर सकते है. पॉडकास्ट में सबसे पहला फायदा यह है कि हमारे दिमाग के लिए पढ़ना और सुनना एक जैसा ही होता है. आप सभी ऑडियोबुक अब KUKUFM App जिसे आप अपने फोन पर डाउनलोड करके जब भी जहां भी सुनना चाहते हैं, सुन सकते हैं व ऑडियोबुक डाउनलोड कर सकते हैं, यह सभी के लिए बिल्कुल फ्री है.
इसे भी पढ़ेंः Kaka Hathrasi 114th Birth Anniversary: 'नाम मिला कुछ और तो, शक्ल-अक्ल कुछ और', काका हाथरसी की कविताएं

अमेजन के स्वामित्व वाली कंपनी, ऑडिबल ने खासतौर पर भारतीय बाजार के लिए गूगल प्ले स्टोर पर ऑडिबल सुनो ऐप लॉन्च किया है. ऑडिबल सुनो ऐप के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यह पूरी तरह से मुफ्त है. इसका मतलब है कि उपयोगकर्ताओं को इस ऐप पर मौजूद लेखन सामग्री को सुनने के लिए किसी भी सदस्यता शुल्क का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज