होम /न्यूज /जीवन शैली /आपकी ये 5 गलतियां हैं चेहरे पर डार्क स्पॉट्स के लिए जिम्मेदार, हाइपरपिगमेंटेशन से बचने के लिए बदलें आदत, स्किन में दिखेगा इंस्टेंट ग्लो

आपकी ये 5 गलतियां हैं चेहरे पर डार्क स्पॉट्स के लिए जिम्मेदार, हाइपरपिगमेंटेशन से बचने के लिए बदलें आदत, स्किन में दिखेगा इंस्टेंट ग्लो

नाइट टाइम स्किन केयर ट्रीटमेंट अगर आपको सूट नहीं कर रहा है तो उसे इस्तेमाल न करें. Image: Shutterstock

नाइट टाइम स्किन केयर ट्रीटमेंट अगर आपको सूट नहीं कर रहा है तो उसे इस्तेमाल न करें. Image: Shutterstock

Dark Spots And Pigmentation : अगर आप अपने चेहरे पर हो रहे डार्क स्पॉट्स (Dark Spots) और पिगमेंटेशन (Pigmentation) की सम ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

जरूरत से ज्‍यादा स्किन को स्‍क्रब कर रहे हैं तो इसकी वजह से हाइपर पिगमेंटेशन की समस्‍या हो सकती है.
नींबू में सिट्रिक एसिड होता है जो स्किन का PH बैलेंस बिगाड़ भी सकता है.

Dark Spots And Pigmentation : अगर चेहरे पर पिगमेंटेशन आ रहे हैं या डार्क स्‍पॉट (Dark Spots) नजर आ रहे हैं तो यह स्किन के लिए एक बुरी खबर हो सकती है. इन्‍हें सही समय पर रोका ना जाए तो यह तेजी से बढ सकता है और आपकी सारी खूबसूरती को खराब कर सकता है. हालांकि यह भी सच है कि पिगमेंटेशन की समस्या को हटाना आसान नही होता. इनसे बचने का सबसे बढिया उपाय है कि हम इन्‍हें आने से पहले ही उपचार कर लें. ऐसे में लाइफ स्‍टाइल में बदलाव भी काफी फायदेमंद साबित होता है. दरअसल स्किन एक्‍सपर्ट यह मानते हैं कि अगर आप अपनी लाइफ स्‍टाइल में कुछ ग‍लतियों को करने से बचें तो आप स्किन की इन समस्‍याओं से भी बच सकते हैं. लेकिन अगर आप इन्‍हें इग्‍नोर करते रहे तो आपकी स्किन पर एजिंग की समस्‍या भी आ सकती है और अपनी उम्र से दस साल बड़े लग सकते हैं. तो आइए जानते हैं कि आखिर किन गलतियों के कारण चेहरे पर पिगमेंटेशन (Pigmentation) और ब्‍लैक स्‍पॉट की समस्‍या होती है.

इन बातों का रखें ख्‍याल

  • अगर आप घर पर फ्लोरोसेंट लाइट में रहते हैं और घंटों स्‍क्रीन के सामने रहते हैं तो स्किन पर पिगमेंटेशन की समस्‍या आ सकती है.ऐसे में आप SPF वाला सनस्क्रीन घर पर भी लगाएं.
  • अगर आप जरूरत से ज्‍यादा स्किन को स्‍क्रब कर रहे हैं तो इसकी वजह से हाइपर पिगमेंटेशन की समस्‍या हो सकती है. ऐसे में हफ्ते में दो बार और ऑयली स्किन के लिए हफ्ते में 1 बार एक्सफोलिएशन ही करें.

इसे भी पढ़ेंं : आपमें भी तो नहीं है ये 5 आदतें? बन सकती हैं किडनी खराब होनें की वजह, आज ही बदलें

  • एक्ने को फोड़ना, दानों को हटाने की कोशिश करना, पस निकालना आदि से हाइपरपिगमेंटेशन की समस्या बढ़ सकता है. इसलिए ऐसी आदतों को छोड़ दें.
  • सनस्क्रीन का इस्तेमाल आपको हमेशा करना चाहिए. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो धूप और यूवी किरणों की वजह से स्किन पर हाइपर पिगमेंटेशन, डार्कनेस, टैनिंग की समस्‍या हो सकती है.
  • कुछ ऐसे प्रोडक्ट्स भी होते हैं जो स्किन को इरिटेट कर सकते हैं जैसे एसिडिक टोनर आदि. ऐसे में नाइट टाइम स्किन केयर ट्रीटमेंट अगर आपको सूट नहीं कर रहा है तो उसे इस्तेमाल न करें.इसे भी पढ़ें : Weight Loss Tips: ब्लैक कॉफी में डालें ये एक चीज, महीने भर में हो जाएगा वजन कम
  • नींबू में सिट्रिक एसिड होता है जो स्किन का PH बैलेंस बिगाड़ भी सकता है. अगर आप स्किन पर नींबू के रस का डायरेक्‍ट इस्तेमाल कर रहे हैं तो धूप से दूर रहें. इसकी वजह से स्किन सेंसिटिव हो जाता है और चेहरे पर हाइपरपिगमेंटेशन की समस्‍या आ सकती है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Beauty Tips, Lifestyle, Skin care

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें