क्या होता है फैब्रिक मास्क, WHO ने बताया इसे बनाने और पहनने का तरीका

क्या होता है फैब्रिक मास्क, WHO ने बताया इसे बनाने और पहनने का तरीका
सबसे पहले अपने हाथों को सैनिटाइजर या फिर साबुन से साफ कर लें.

टेड्रोस ने भी कहा कि अगर फैब्रिक मास्क (Fabric Mask) का प्रयोग किया जा रहा है तो कम से कम इसमें तीन लेयर जरूर होनी चाहिए. ये तीनों लेयर अलग-अलग मटेरियल की बनी होनी चाहिए जिसमें से चेहरे के पास वाली लेयर कॉटन, दूसरी लेयर पॉलीप्रोपाईलीन और आखिरी सिंथेटिक लेयर होनी चाहिए.

  • Share this:
दुनिया भर में हर रोज कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं और भारत (India) में भी ये अभी भी काफी तेज़ी से फैल रहा है. जहां एक ओर सभी देशों की सरकारें इसे लेकर जागरूकता अभियान चला रही हैं वहीं दूसरी ओर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) भी इस बीमारी की रोकथाम के लिए हर जरूरी कोशिश कर रहा है. WHO की तरफ से इस बीमारी से बचने के लिए समय-समय पर गाइडलाइंस (Guidelines) जारी की जा रही है. WHO की तरफ से अब फेस मास्क को लेकर कुछ अहम जानकारी दी हई है. लेटेस्ट गाइडलाइंस के मुताबिक रिस्क फैक्टर वाले लोगों को मेडिकल मास्क (Medical Mask) और अन्य सभी लोगों को तीन लेयर वाला फैब्रिक मास्क (Fabric Mask) जरूर पहनना चाहिए. ऐसा इसलिए ताकि स्वस्थ लोगों को संक्रमण फैलाने वाली ड्रॉपलेट्स (Droplets) से खतरा कम हो.

ये जानकारी WHO के डायरेक्टर जनरल डॉक्टर टेड्रोस एढानॉम ने प्रेस बुलेटिन के जरिए दी. इस बुलेटिन को WHO के फेसबुक पेज पर भी देखा जा सकता है. डॉक्टर टेड्रोस ने कहा, 'रिसर्च के अनुसार WHO ये एडवाइस करता है कि दुनिया भर की सरकारों को आम लोगों को मास्क पहनने के लिए जागरूक करना चाहिए. जहां भी ट्रांसमिशन बहुत बढ़ गया है और फिजिकल डिस्टेंस मुमकिन नहीं है, जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट्स, दुकानें, भीड़-भाड़ वाली जगह वहां मास्क पहनना बहुत जरूरी है. टेड्रोस ने ये भी कहा कि अगर फैब्रिक मास्क का प्रयोग किया जा रहा है तो कम से कम इसमें तीन लेयर जरूर होनी चाहिए. ये तीनों लेयर अलग-अलग मटेरियल की बनी होनी चाहिए जिसमें से चेहरे के पास वाली लेयर कॉटन, दूसरी लेयर पॉलीप्रोपाईलीन और आखिरी सिंथेटिक लेयर होनी चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः मॉल, मंदिर और ऑफिस से घर लौटने के बाद कपड़ों को ऐसे करें सैनिटाइज, नहीं तो पड़ सकता है पछताना



घर पर कैसे बनाएं फैब्रिक मास्क



डब्ल्यूएचओ के अनुसार, होममेड फैब्रिक मास्क वायरस से 70 फीसदी तक सुरक्षा प्रदान करते हैं. आपको बता दें कि यह स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, कोरोना पॉजिटिव रोगियों और उनकी देखभाल करने वाले लोगों के लिए सही नहीं है. आइए आपको बताते हैं कि आप घर पर अपना खुद का फैब्रिक फेस मास्क कैसे बना सकते हैं?

मास्‍क बनाने का तरीका
कपड़े का एक चौकोर टुकड़ा लें और इसे चौड़ाई में लगभग 3 इंच के आयत में मोड़ें. इसके बाद कपड़े के दोनों तरफ इलास्टिक बैंड लगाएं. अब, बाहरी किनारों को केंद्र की तरफ मोड़ें और इसे दोनों तरफ फैलाएं और आपका मास्क तैयार है.

कपड़े के 2 टुकड़े का करे इस्‍तेमाल
कोरोनवायरस से बचने के लिए लोगों ने एक अच्छे, नए और दोबारा इस्‍तेमाल में आने वाले मास्‍क की सिलाई की विस्तृत प्रक्रिया शेयर की है. इसे बनाने के लिए समान आकार के कपड़े के 2 टुकड़े लें. सुई और धागे का उपयोग करके, उसकी दोनों साइड की एक साथ सिलाई करें. अब आपके पास एक आयताकार होना चाहिए जो 2 तरफ से सिला जाता है, एक लूप बनाता है. इसे अंदर बाहर फ्लिप करें और इसे ठीक से आयरन करें. इसकी 3-4 प्लीट्स बनाएं. बची हुई साइड की सिलाई करें और मास्‍क के ऊपर और नीचे बांधने के लिए उपयोग की जाने वाली स्ट्रिप्स की सिलाई करें.

WHO की एडवाइजरी में बताया गया है कि आखिर मास्क पहनने का सही तरीका क्या है:

क्या है फैब्रिक मास्क पहनने का सही तरीका
WHO ने वीडियो जारी कर बताया है कि अगर आप फैब्रिक मास्क पहन रहे हैं तो उसका सही तरीका क्या है. सर्जिकल मास्क या फैब्रिक मास्क उन सभी लोगों को पहनना चाहिए जो कोविड 19 संक्रमण जोन में हैं और जहां पब्लिक प्लेस पर फिजिकल डिस्टेंसिंग 1 मीटर से कम होने की गुंजाइश है.

इसे भी पढ़ेंः Work From Home करने वाले जरूर खाएं डार्क चॉकलेट, स्ट्रेस से जुड़ा है कनेक्शन

सबसे पहले अपने हाथों को सैनिटाइजर या फिर साबुन से साफ कर लें. अगर साबुन से हाथ धो रहे हैं तो कम से कम 20 सेकंड तक धोएं. अब जरूरी है कि आप साफ मास्क पहनें. मास्क के बीच वाले हिस्से को हाथ न लगाएं. इसे सीधे नाक पर लगाना है और ध्यान रखना है कि चेहरे और मास्क के बीच में कोई गैप नहीं होना चाहिए.

मास्क को जितनी भी बार छूना हो हमेशा अपने हाथों को सैनिटाइज करें या धोएं. इस वक्त भी मास्क के बीच वाले हिस्से को नहीं छूना है. साथ ही, जब मास्क उतार लें तो फिर से हाथों को सैनिटाइज करें.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading