#काम की बात: ऑर्गेज्‍म क्‍या होता है?

पुरुष की इंद्रिय को दोबारा संबंध बनाने के लिए सक्षम होने में थोड़ा समय लगता है. लेकिन एक बात हमेशा याद रखनी चाहिए कि मंजिल तक पहुंचना महत्‍वपूर्ण है, यह नहीं कि आपकी मंजिल किस रास्‍ते से होकर जाती है.


Updated: April 17, 2018, 4:26 PM IST
#काम की बात: ऑर्गेज्‍म क्‍या होता है?
जानिए क्या कहता है विज्ञान

Updated: April 17, 2018, 4:26 PM IST
प्रश्‍न : सेक्‍स के संदर्भ में अकसर ऑगेज्‍म शब्‍द सुनने और पढ़ने में आता है. इसका क्‍या अर्थ है? 

डॉ. पारस शाह

एक शब्‍द में कहें तो इसका अर्थ है चरम सुख या चरम आनंद.

ऑर्गेज्‍म को अलग-अलग भाषाओं में अलग-अलग नाम से जाना जाता है. ऑर्गेज्‍म शब्द ग्रीक वर्ड “ओर्गो” से आया है. ग्रीक भाषा में ओर्गो का अर्थ होता है- “टू स्वेल विद लस्ट.” ऑर्गेज्‍म को हिंदी में चरम सीमा भी कहते हैं. अलग-अलग भाषाओं में इसे अलग-अलग नाम दिए गए हैं. लेकिन मतलब सबका एक ही है और वो है- “इनफ एंड नथिंग मोर.”

हिंदी भाषी इसे संतोष कहते हैं, गुजराती लोग इसे परम सुख कहते हैं, महाराष्‍ट्र में इसे समाधान कहा जाता है, उर्दू भाषा में इसे सुकून कहते हैं, सिंधी में शांति कहते हैं. तमिल भाषी इसे तृप्ति कहते हैं और तेलुगू भाषी संतृप्ति कहते हैं. कश्‍मीरी लोग इसे खुशी कहते हैं और अंग्रेजी भाषा में इसे क्‍लाइमेक्‍स कहा जाता है.



मेरे पास एक झोपड़पट्टी में रहने वाली महिला काउंसलिंग के लिए आई थी. उसने चरमसीमा की तुलना नशे के साथ की. उसका कहना था, हम नशे में नहीं आते और हमारे शौहर खत्‍म हो जाते हैं. कहने का आशय यह है कि ऑर्गेज्‍म को अलग-अलग भाषाओं में अलग-अलग नाम से जाना जाता है. लेकिन हर भाषा में उस शब्‍द का अर्थ एक ही है- “इनफ एंड नथिंग मोर.”

महिलाएं मल्टी ऑर्गेज्मिक होती हैं. यानी एक बार सेक्‍स की संपूर्ण प्रक्रिया में वह कई बार ऑर्गेज्‍म यानी चरम सुख का अनुभव करने में सक्षम होती हैं. जबकि पुरुषों की शारीरिक संरचना बिलकुल अलग है. एक बार चरम सुख का अनुभव करने के बाद वह पुन: उसी आनंद का अनुभव करने में सक्षम नहीं होता क्‍योंकि उसकी इंद्रिय में शिथिलता आ जाती है. पुरुष की इंद्रिय को दोबारा संबंध बनाने के लिए सक्षम होने में थोड़ा समय लगता है. लेकिन एक बात हमेशा याद रखनी चाहिए कि मंजिल तक पहुंचना महत्‍वपूर्ण है, यह नहीं कि आपकी मंजिल किस रास्‍ते से होकर जाती है.

(डॉ. पारस शाह सानिध्‍य मल्‍टी स्‍पेशिएलिटी हॉस्पिटल में चीफ कंसल्‍टेंट सेक्‍सोलॉजिस्‍ट हैं.)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर