होम /न्यूज /जीवन शैली /Traveller Diarrhoea: क्या है ट्रैवलर डायरिया इंफेक्शन, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

Traveller Diarrhoea: क्या है ट्रैवलर डायरिया इंफेक्शन, जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

ट्रैवल डायरिया क्या है,Image-canva

ट्रैवल डायरिया क्या है,Image-canva

What is traveller diarrhoea-ट्रैवलिंग के दौरान खराब खान पान से पेट में कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं. इससे एक तरह का इ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

ट्रैवलिंग में खान पान से पेट में कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं.
ट्रैवलिंग से एक तरह का इन्फेक्शन हो जाता है,

What is Traveller Diarrhoea: ट्रैवलर्स डायरिया एक तरीके के पेट में होने वाला इन्फेक्शन होता है. ये इन्फेक्शन खराब खाने और पानी से हो सकता है. ये समस्या ज्यादातर उन लोगों को होती है जो काफी ज्यादा ट्रेवल करते हैं. जिस वजह से इस इन्फेक्शन को ट्रैवलर्स डायरिया का नाम दिया गया है, एशिया सहित मध्य ईस्ट और लैटिन अमेरिका में इस बिमारी का खतरा सबसे ज्यादा होता है, वहीं आस्ट्रेलिया, जापान, मध्य यूरोप में ये इन्फेक्शन बहुत कम होता है.

एक्सपर्ट्स के मुताबिक ट्रैवलर्स डायरिया खराब सार्वजनिक सफाई वाली जगहों में ट्रेवल करने के दस दिनों के अंदर होता है. क्या खाया है, और कैसा खाया है इस बात पर भी इस इन्फेक्शन के फैलने की संभावना होती है. वहीं कच्ची सब्जियों के सेवन, खराब फल, और दूषित नल का पानी पीने से इस इन्फेक्शन का खतरा बढ़ सकता है.

ट्रैवलर्स डायरिया के लक्षण
हेल्थलाइन के मुताबिक अचानक से दस्त शुरू हो जाना.
-बुखार, मतली और उल्टियां आना.
-पेचिश और ब्लोटिंग होना.
-दर्दनाक गैस और ऐंठन होना.
-बेचैनी और कमजोरी महसूस होना.

ट्रैवलर्स डायरिया के कारण
-बाथरूम जाने के बाद हाथ ना धोना
-खाने को खराब तरीके से पकाना और स्टोर करना
-खाना पकाने में इस्तेमाल किये जाने वाले बर्तनों को ठीक से साफ़ न करना

इसे भी पढ़ें-बच्चों में ज्यादा पसीना आना हार्ट संबंधी परेशानियां हो सकती है, ऐसे करें उपचार

ट्रैवलर्स डायरिया  का उपचार
बॉडी चेकअप
मरीज को नियमित रूप से डॉक्टर से बॉडी चेकअप करवाना चाहिए. इसके अलावा इन्फेक्शन की जांच के लिए ब्लड टेस्ट भी करवाया जा सकता है.  इसे डीहाइड्रेशन के बारे में पता लगाया जा सकता है.

खूब पियें लिक्विड
ट्रैवलर्स डायरिया का उपचार खूब सारा लिक्विड पी कर किया जा सकता है. इसमें ओरल डिहाईड्रेशन सोल्यूशन भी मददगार हो सकता है.

लें ओवर द काउंटर दवाएं
पेट के इन्फेक्शन को कम करने के लिए लोपरामाइड ली जा सकती है. दस्त आने की समस्या को इससे कम किया जा सकता है. ये एंटीबायोटिक है, जिसकी स्लाग डॉक्टर्स भी देते हैं.

फायदेमंद प्रोबायोटिक्स
प्रोबायोटिक्स में अच्छे बैक्टीरिया के स्रोत होते हैं. जिसे आंतों का स्वास्थ्य अच्छा रहता है. इसे चुकंदर, डार्क चॉकलेट, ग्रीन ऑलिव, किमची, गोभी, खमीरी रोटी और दही से लिया जा सकता है.

यह भी पढ़ेंः यूरिक एसिड बढ़ने से किडनी फेलियर का खतरा, जानें इसे कंट्रोल करने का तरीका

डाइट में शामिल करें ये चीजें
हेल्दी खाना खाने से पेट के इन्फेक्शन को कम किया जा सकता है. डाइट में केले, चावल, दलिया, आलू, सूप जैसी चीजों को शामिल किया जा सकता है. ये सब चीजें ट्रैवलर्स डायरिया के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकती हैं.

तो कुछ इस तरह से ट्रैवलर्स डायरिया यानी की पेट के इन्फेक्शन से जुड़े लक्षणों, कारणों को जानकर इसका उपचार किया जा सकता है.

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें