अगर फेंक देते हैं आटे का चोकर तो जान लें इसके हैं कई फायदे भी

गेहूं का चोकर देता है सेहत और त्वचा को कई फायदे-Image/ shutterstock

गेहूं (Wheat) के आटे का चोकर यानी भूसी (Bran) जिसको आप फेंक देते हैं वो कई पोषक तत्वों (Nutrients) से भरपूर होती है. इसके सेवन से सेहत को तो कई फायदे मिलते हैं. स्किन पर इसका इस्तेमाल करने से भी बहुत फायदे मिलते हैं.

  • Share this:
    ज्यादातर लोग गेहूं (Wheat) का आटा छानकर इसके चोकर यानी भूसी (Bran) को अलग करने के बाद ही रोटी बनाना पसंद करते हैं और बचे हुए चोकर को फेंक देते हैं. जबकि ऐसा करना सेहत के लिहाज से सही नहीं है. दरअसल इस चोकर में गेहूं की बाहरी परत भी शामिल होती है जिसमें कैल्शियम, विटामिन बी, वसा, प्रोटीन, रेशा, पोटेशियम, ताम्बा, जिंक, क्लोरिन, सल्फर, थियामिन, विटामिन ए, विटामिन के, विटामिन ई, आयरन, आक्जेलिक एसिड और सोडियम जैसे कई पौष्टिक तत्व (Nutrients) होते हैं. जो शरीर के लिए बेहद ज़रूरी होते हैं और इनकी मौजूदगी से शरीर को कई सारे फायदे मिल सकते हैं. इतना ही नहीं इसके इस्तेमाल से सेहत के साथ स्किन को भी कई सारे फायदे मिलते हैं. आज हम यहां आपको गेहूं के चोकर के फायदों के बारे बताते हैं. जिसके बाद आप अगली बार चोकर को फेंकने की बजाय इस्तेमाल ज़रूर करना चाहेंगे.

    ये भी पढ़ें: व्हीट ग्रास जूस से दूर होगी सूजन, हाजमा होगा दुरुस्‍त, जान लें इसके अन्‍य फायदे

     सेहत के लिए चोकर के फायदे 

    चोकर सहित आटे का इस्तेमाल करने से पाचन तंत्र सही रहता है और कब्ज की दिक्कत से निजात मिलती है.

    चोकर के सेवन से कोलेस्ट्रोल कंट्रोल में रहता है जिससे हार्ट सम्बन्धी दिक्कतें होने का खतरा कम होता है.

    आटे में चोकर की मौजूदगी से आंत या पेट में होने वाली मरोड़ से निजात मिलती है.

    चोकर का सेवन करने से शरीर में फैट की मात्रा नहीं बढ़ती है.

    चोकर के सेवन से पेट की सारी गंदगी साफ़ होती है और पेट में किसी तरह की दिक्कत नहीं होती है.

    चोकर मिक्स आटा खाने से अमाशय के घाव को ठीक होने में मदद मिलती है.

    इसका सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है और डायबिटीज होने का खतरा नहीं रहता है.

    चोकर का सेवन करने से शरीर में ब्लड की कमी को पूरा करने में मदद मिलती है.

    चोकर सहित आटे की रोटी खाने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

    भूख न लगने की दिक्कत को भी चोकर के सेवन से कम किया जा सकता है.

    ये भी पढ़ें: क्या आप जानते हैं हरसिंगार सेहत के लिए कितनी तरह से फायदेमंद है ?

    स्किन को मिलते हैं ये फायदे

    गेहूं के आटे का चोकर यानी भूसी को स्क्रबर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. स्क्रब तैयार करने के लिए दो-तीन बड़े चम्मच चोकर लें. इसमें एक बड़ा चम्मच शहद मिलाएं और थोड़ा सा कच्चा दूध मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें. अब इससे आप अपने चेहरे, गर्दन, कोहनी और घुटनों पर स्क्रब कर सकते हैं. इससे स्किन में ग्लो आता है. डेड स्किन से निजात मिलती है और स्किन सॉफ्ट बनती है. स्किन के कालेपन और दाग-धब्बों से छुटकारा मिलता है. साथ ही स्किन में निखार भी आता है. इसके इस्तेमाल से स्किन को पोषण भी मिलता है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
    Published by:Meenal Tingel
    First published: