होम /न्यूज /जीवन शैली /हेल्थ को इंप्रूव करने में मददगार हैं पेट्स, जानें आपको कैसा करना चाहिए बर्ताव

हेल्थ को इंप्रूव करने में मददगार हैं पेट्स, जानें आपको कैसा करना चाहिए बर्ताव

पेट एनिमल्स हमारी जिंदगी को सुधारने में मदद करते हैं. (image-canva)

पेट एनिमल्स हमारी जिंदगी को सुधारने में मदद करते हैं. (image-canva)

जानवरों के प्रति लोगों को अच्छा बर्ताव करना चाहिए. कुछ जानवर हमारी जिंदगी का हिस्सा होते हैं. बड़ी संख्या में लोग कुत्त ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

हेनरिक ज़िमरमैन ने की थी वर्ल्ड एनिमल वेलफेयर डे की शुरुआत.
हर साल 4 अक्टूबर को एक नई थीम के साथ मनाया जाता है वर्ल्ड एनिमल डे.
पूरी दुनिया को जानवरों के प्रति जागरूक करना है इस दिन का उद्देश्य.

Animal Welfare Importance: एनिमल वेलफेयर यानी पशु कल्याण के बारे में जानना हर किसी के लिए फायदेमंद हो सकता है. एनिमल लवर्स अक्सर घरों से निकलकर मासूम जानवरों के लिए कुछ करने का मौका ढूंढते हैं. जानवरों का हमारी जिंदगी में काफी महत्व होता है. पेट्स एनिमल हमारी हेल्थ को इंप्रूव करने में मददगार साबित हो सकते हैं. जानवरों के प्रति दयालु बनना चाहिए. पूरी दुनिया में जानवरों के लिए एक अच्छा और सुरक्षित वातावरण तैयार करने के लिए लोगों को जागरूक किया जाता है. हम सभी को एनिमल्स को लेकर पॉजिटिव एटीट्यूड रखना चाहिए. एनिमल्स के साथ आपको कैसा बर्ताव करना चाहिए, इस बारे में कुछ जरूरी बातें जान लीजिए.

इसे भी पढ़ें- कोलेस्ट्रॉल कम करने से लेकर स्किन के लिए भी सुपर ड्रिंक है बटर मिल्क

एनिमल्स के लिए जरूर करें ये काम
अंतरराष्ट्रीय पशु कल्याण दिवस के जरिए लोगों को एनिमल्स के प्रति जागरूक कियाजाता है. जानवरों के घर जंगलों को उनके लिए सुरक्षित करना, जानवरों की लुप्त होती प्रजातियों को बचाना, जानवरों के प्रति संवेदनशील होना और पशुओं की भावनाओं का सम्मान कर उनके साथ सही बर्ताव करना जरूरी होता है.

इस मुद्दे पर लिखी जा चुकीं कई किताबें 
दुनिया को सही तरह चलाने के लिए प्रकृति में बैलेंस होना बहुत जरूरी है. इसीलिए 1925 में 24 मार्च को वर्ल्ड एनिमल डे की शुरुआत एक जर्मन लेखक हेनरिक ज़िमरमैन के द्वारा की है थी. हेनरिक ज़िमरमैन ने आसपास पशुओं के साथ हो रहे गलत बर्ताव को लेकर एक पत्रिका लिखी थी, “आदमी और डॉग”(Man And Dog) जिसमें उन्होंने कुछ सालो तक एनिमल्स के साथ हो रहे व्यवहार को देखने के बाद दुनियाभर में पशुओं के संरक्षण और पशुओं के प्रति जागरूकता फैलाने के 4 अक्टूबर को एक प्रोग्राम आयोजित किया जिसमें बहुत से लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया.

यह भी पढ़ेंः डायबिटीज समेत कई बीमारियों की वजह बन सकता है इंसुलिन रेजिस्टेंस

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Lifestyle

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें