इसलिए बकवास होता है एकतरफा मोहब्बत का कॉन्सेप्ट

प्रेम करें, इज़हार करें, इंतिज़ार करें लेकिन किसी को भी खुद से खेलने ना दें. अपना वजूद, अपनी शर्तें बनाएं रखें.

News18Hindi
Updated: December 8, 2018, 9:51 AM IST
इसलिए बकवास होता है एकतरफा मोहब्बत का कॉन्सेप्ट
एकतरफा 'प्यार'
News18Hindi
Updated: December 8, 2018, 9:51 AM IST
'एकतरफा प्यार की ताकत ही कुछ और होती है, औऱों के रिश्तों की तरह ये दो लोगों में नहीं बंटती है... सिर्फ मेरा हक है इसपे...' जैसे डायलॉग्स सुनकर लड़के उस लड़की के लिए भी रोने लग जाते हैं जिसको वे जानते तक नहीं!

जब आप किसी लड़की को चाहते हैं, लेकिन वो ये नही चाहती कि आप उसे चाहें फिर भी आप उसे चाहते रहते हैं तो इसे 'एकतरफा प्यार' कहा गया है. हालांकि इसमें प्यार जैसा कुछ होता नहीं है लेकिन इस कॉन्सेप्ट को इतना बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया है कि लोग एकतरफा प्रेम को कोई दैवीय अवस्था समझने लगे हैं.  लेकिन क्या सचमुच एकतरफा प्यार जैसा कुछ होता है?

लड़की को प्यार और पार्टनर को समझने के लिए थोड़ा टाइम देना तो बनता है

मानवीय भावनाएं बहुत उलझी हुई होती हैं. इसलिए थोड़े समय के लिए किसी का इंतज़ार किया जा सकता है लेकिन इसके लिए सबसे ज़रूरी है कि आप उस शख्स से अपने दिल का हाल बयां करें. अगर आपको किसी से प्रेम है तो उसे जता ज़रूर दें. इसके बाद आपको फैसला उनपर छोड़ देना चाहिए. अक्सर ऐसा होता है कि हम बात नहीं करते बस ख्यालों में जीते हैं. हम उसके बारे में खूब सोचते हैं, हमें लगता है कि वो तो हमारे बारे में सबकुछ जानती ही होगी, हालात से वाकिफ़ होगी लेकिन ऐसा नहीं होता है. ज़्यादातर केसेस में लड़की को पता भी नहीं होता कि कोई उसके बारे में इतना सोचता है. जी हां, सोचता है क्योंकि जो आप करते हैं उसे प्यार नहीं कहते हैं.

मैं उसके लिए महंगा गिफ्ट ले जाता हूं, जो कहती है करता हूं, जताने की ज़रूरत है क्या? 

बिना बताए तरह-तरह की कलाएं दिखाने से बेहतर है साफ शब्दों में जो मन में है वो कहें. क्योंकि अपना प्रेम प्रदर्शित करने के लिए कई बार हम उस खास शख्स के लिए कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं और हमें लगता है कि इससे वह शख्स खुश होकर हमें अपना लेगा जो बिल्कुल ग़लत है. कई बार कुछ लोग लड़कियों की इस भावना का फायदा उठाकर उनका शोषण करते हैं, या लड़के भावनाओं में बहकर कुछ भी कर देते हैं और बाद में पछताने के सिवाय कुछ नहीं बचता है. इसलिए प्रेम करें, इज़हार करें, इंतिज़ार करें लेकिन किसी को भी खुद से खेलने ना दें. अपना वजूद, अपनी शर्तें बनाएं रखें. ये बहुत ज़रूरी है.

यार मैं उतना अच्छा नहीं दिखता, लेकिन उससे बहुत प्यार करता हूं
Loading...

अगर आप किसी को अच्छे नहीं लगते हैं तो यह सोचना कि आप अच्छे ही नहीं हैं, ये गलत धारणा है. किसी सलमान खान पसंद होता है किसी को अक्षय कुमार. जबकि दोनों हीरो हैं. इसलिए यह बात समझें कि सबकी अपनी-अपनी पसंद होती है. एकतरफा 'प्यार' वाले लोग उस लड़की के अलावा सबसे दिल का हाल बताते रहते हैं और अक्सर खुद को बेचारा दिखाते रहते हैं. लोगों से सहानुभूति के चक्कर में कई बार उपहास का पात्र बनते हैं. इससे वे अनायास ही दुख, निराशा, डिप्रेशन, और हीन भावना से घिर जाते हैं.

भाई या तो वो या फिर कोई नहीं, उसके बिना मैं नहीं जी सकता

अब तक आप उस ख्याली दुनिया में इतना फंस चुके होते हैं कि निकलना मुश्किल हो जाता है. हमारे दिमाग ने जो ताना-बाना बुना है वही हमारे लिए जाल बन जाता है. हमारा किसी काम में मन नहीं लगता है जिसकी वजह से और तनाव होता है. एकतरफा प्रेम आखिर एकतरफ ही रह जाता है और हमें कोई ना कोई रास्ता निकालना ही पड़ता है. कई बार पुलिस स्टेशन में समझाए जाते हैं तो कई बार नस काटने के बाद समझ आता है. माध्यम कोई भी हो लेकिन आपको होश आता ज़रूर है.

अब कोई और नहीं आ सकती है, उसी की यादों के सहारे ज़िंदगी गुज़ार दूंगा

जीवन बहुत कीमती होता है. हमें अपनी आंखों पर पड़े पर्दे को हटाकर सच्चाई देखनी चाहिए. और अपने करियर का ताना-बाना बुनना चाहिए ना कि किसी शख्स का. प्रेम कीजिए, खूब कीजिए, समर्पण के साथ कीजिए लेकिन एकतरफा नहीं, क्योंकि प्रेम पूर्णता का एहसास है अधूरेपन का नहीं. साथ का एहसास है अकेलेपन का नहीं. जीने की हिम्मत है मरने की प्रेरणा नहीं. शायरी पढ़ने का मज़ा तभी है जब सामने कोई सुनने वाला भी हो.

ये भी पढ़ें:
एक अंजलि गई तो उसके शरीर से पांच और अंजलियां जिंदा हो गईं
मैं दिन के उजाले में ह्यूमन राइट्स लॉयर हूं और रात के अंधेरे में ड्रैग क्‍वीन
'मैं बार में नाचती थी, लेकिन मेरी मर्जी के खिलाफ कोई मर्द मुझे क्‍यों हाथ लगाता'
घर पर शॉर्ट स्‍कर्ट भी पहनना मना था, अब टू पीस पहनकर बॉडी दिखाती हूं

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर