• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • कई कोशिशों के बावजूद, भ्रूण जीवित नहीं रहता, क्या करना चाहिए?

कई कोशिशों के बावजूद, भ्रूण जीवित नहीं रहता, क्या करना चाहिए?

अक्सर पुरुष और महिलाओं के मन में सवाल उठते हैं कि शुक्राणु संबंध बनाने के बाद आएंगे, ताकि पत्नी को गर्भ न हो.

संबंध बनते समय 99 प्रतिशत स्त्राव जो स्खलन के बाद बाहर निकलने हैं और सिर्फ 1 प्रतिशत शुक्राणु ही योनि की दीवार पर चिपके रहते हैं.

  • Share this:
    सवालः शादी को 5 साल हो गए हैं. हम गर्भधारण करन के कई प्रयास करते हैं, लेकिन भ्रूण ठहरता नहीं है. संबंध बनाने के दौरान कई बार कोशिशें करने के बावजूद पत्नी की योनि से सारे वायरस निकल जाते हैं. ऐसी स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए? मुझे कैसे संबंध बनाना चाहिए, ताकि भ्रूण बना रहे.

    सेक्सोलॉजिस्ट, डीआरएस। पारस शाह

    जवाबः अब तक कई ऐसे मामले सामने आए हैं, जहां शादी को काफी लंबा समय हो गया है. सभी रिपोर्ट्स भी सामान्य है, लेकिन पत्नी गर्भवती नहीं हो पा रही है.

    अक्सर पुरुष और महिलाओं के मन में सवाल उठते हैं कि शुक्राणु संबंध बनाने के बाद आएंगे, ताकि पत्नी को गर्भ न हो. जानकारी के लिए बता दें कि यह एक भ्रम है. जब किसी पुरुष का वीर्य होता है, तो उसके पास केवल 1 प्रतिशत शुक्राणु होते हैं और 99 प्रतिशत में आसपास की ग्रंथि का स्त्राव होता है.

    इसे भी पढ़ें: पुरुषों की Fertilty को नुकसान पहुंचा रही हैं ये चीजें, आज ही हो जाएं सावधान

    संबंध बनते समय 99 प्रतिशत स्त्राव जो स्खलन के बाद बाहर निकलने हैं और सिर्फ 1 प्रतिशत शुक्राणु ही योनि की दीवार पर चिपके रहते हैं. शुक्राणु जितनी तेजी से बाहर निकलते हैं उससे कहीं ज्यादा धीरे गर्भ में पहुंचते हैं. इस समय यदि गर्भाशय और शुक्राणु संभोग करते हैं, तो निषेचन होता है. इसलिए यदि आपको यह संदेह है कि वीर्य स्खलन के बाद बाहर निकलता है, तो यह सामान्य है. इसके लिए किसी भी तरह के उपचार या दवा की आवश्यकता नहीं होती है.

    यदि आप दोनों की रिपोर्ट सामान्य है औ फिर भी गर्भधारण योग्य नही है, तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए.

    नोट: सेक्सोलॉजिस्ट डॉक्टर पारस शाह से News18 गुजरात के लिए पूछे गए सवाल और उनके द्वारा दिए गए जवाब.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज