किसी को सब्जी, तो किसी को मेकअप प्रोडक्ट चाहिए सस्ते, जानिए क्या है महिलाओं की आम बजट से उम्मीदें

महिलाओं का कहना है कि बजट में कुछ ऐसा आना चाहिए, जिससे घरेलु सामान सस्ता हो जाए.

खासकर महिलाएं इस बजट पर टकटकी लगाकर बैठी हुईं है. इस बजट में क्या आएगा इसका इंतजार हर महिला को है? क्या उन्हें रोजमर्रा के सामानों में छूट मिलेगी, क्या बजट में मेकअप का सामान सस्ता होगा ? क्या बजट में ग्रोसरी के सामान पर टैक्स कम होगा ?

  • Share this:
    1 फरवरी यानी शनिवार को देश का आम बजट पेश होने वाला है. इस बजट से देश के तमाम नागरिकों को काफी उम्मीदे हैं. खासकर महिलाएं इस बजट पर टकटकी लगाकर बैठी हुईं है. इस बजट में क्या आएगा इसका इंतजार हर महिला को है? क्या उन्हें रोजमर्रा के सामानों में छूट मिलेगी, क्या बजट में मेकअप का सामान सस्ता होगा ? क्या बजट में ग्रोसरी के सामान पर टैक्स कम होगा ?

    आखिरकार बजट से महिलाओं की उम्मीदें क्या है आइए जानते हैं. ज्यादातर महिलाओं का कहना है कि बजट में कुछ ऐसा आना चाहिए, जिससे घरेलू सामान सस्ता हो जाए.

    सामान सस्ता होगा, तभी बचत होगी
    ऑफिस के साथ घर संभालने वाली नाज का कहना है कि वह चाहती हैं कि इस बजट में कुछ चीजें होनी चाहिए, जिससे घर का रोजाना का सामान सस्ता होना चाहिए. नाज के मुताबिक, सामान सस्ता होगा तभी महिलाएं कुछ बचत कर पाएंगी.

    स्कूल गर्ल इस बजट में ब्यूटी प्रोडक्ट्स के सस्ते होने की उम्मीद लगा रही हैं.
    स्कूल गर्ल इस बजट में ब्यूटी प्रोडक्ट्स के सस्ते होने की उम्मीद लगा रही हैं.


    ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर निगाहें
    वेबसाइट कोडिंग सेक्टर में काम करने वाली सोनाली
    का कहना है कि वो इस बजट में ब्यूटी प्रोडक्ट्स के सस्ते होने की उम्मीद कर रही हैं. उनका कहना है कि वर्तमान में ब्यूटी प्रोडक्ट्स काफी महंगे हो गए हैं, अगर बजट में इन प्रोडक्ट्स से टैक्स कम होता है तो ये महिलाओं के लिए अच्छा रहेगा.

    महिला सशक्तीकरण के लिए प्रावधान
    डीयू में बीएससी की पढ़ाई कर रहीं शिल्पा चौहान का कहना है कि बजट में उन्हें महिला सशक्तीकरण के लिए भी प्रावधान किए जाने की उम्मीद है. उनके अनुसार एक महिला का भविष्य सुरक्षित होने के बाद परिवार का भविष्य सुरक्षित रह सकता है.

    इस बजट से कुछ महिलाएं शिक्षा के सस्ता होने की उम्मीद कर रही हैं.
    इस बजट से कुछ महिलाएं शिक्षा के सस्ता होने की उम्मीद कर रही हैं.


    शिक्षा हो सस्ती
    ग्रहणी दीपा
    का कहना है कि वह इस बजट से शिक्षा के सस्ता होने की उम्मीद कर रही हैं. दीपा का कहना है कि वर्तमान में बच्चों के स्कूलों की फीस और किताबें बहुत महंगी हो गई है, जिसके कारण घर का बजट बिगड़ता है. इसलिए वह चाहती हैं कि शिक्षा का बजट ज्यादा हो, ताकि बच्चों की शिक्षा से किसी तरह का समझौता न करना पड़े.

    बजट से महिलाओं को उम्मीद है कि सब्जियां सस्ती हो जाए.
    बजट से महिलाओं को उम्मीद है कि सब्जियां सस्ती हो जाए.


    सब्जियां हों सस्ती
    नीना गुप्ता जो कि एक स्टे एट होम (घर संभालने वालीं) हैं उनका कहना है कि इस बजट में सस्ती सब्जियों के लिए कुछ खास होना चाहिए. नीना का कहना है कि सब्जियों में पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं, जिन्हें इस्तेमाल करना अब महिलाओं के लिए मुश्किल बनता जा रहा है. वर्तमान में सब्जियां इतनी महंगी कि इसे खाना- खिलाना और बजट मैनेज करना नामुमकिन सा लगता है. नीना ने कहा कि वह इस बजट में सब्जियों के दामों में कटौती के लिए कुछ चाहती हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.