• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • प्रेगनेंसी के 9वें महीने में करेंगी ये 4 जरूरी काम तो डिलीवरी में नहीं आएगी दिक्‍कत

प्रेगनेंसी के 9वें महीने में करेंगी ये 4 जरूरी काम तो डिलीवरी में नहीं आएगी दिक्‍कत

प्रेगनेंसी में तनाव से छुटकारा पाना जरूरी. Image : shutterstock

प्रेगनेंसी में तनाव से छुटकारा पाना जरूरी. Image : shutterstock

Easy Delivery Tips : प्रेगनेंसी (Pregnancy) के दौरान अगर महिला अत्‍यधिक स्ट्रेस (Stress) में है तो इसका प्रभाव डिलीवरी (Delivery) पर भी पड़ सकता है. ऐसे में खुद को स्‍ट्रेस से दूर रखने के लिए कुछ जरूरी चीजों को जरूर अपनाएं.

  • Share this:

    If You Do These 4 Things In 9th Month Then There Will Be No Problem In Delivery : तनाव किसी भी स्थिति में सेहत के लिए खराब है. लेकिन जब बात प्रेगनेंसी (Pregnancy) और डिलीवरी (Delivery) की आती है तो ये जानलेवा भी हो सकता है. यह एक ऐसी अवस्‍था है जब आप दो लोगों के जीवन की जिम्‍मेदारी को जी रही होती हैं. ऐसे में खुद को किसी भी कीमत पर बेकार के तनावों (Stress) से दूर रखना आपकी और परिवार वालों की एक बड़ी जिम्‍मेदारी होती है. हालांकि ये समय किसी भी महिला के लिए उसके जीवन के सबसे कठिन समय में से एक होता है. हेल्‍थसाइट के मुताबिक, अगर आप तनाव से खुद को मुक्‍त रखें और हेल्‍दी और हैपी प्रेगनेंसी जिएं तो आपके भ्रूण में पल रहा बच्‍चा कई तरह के मानसिक और शारीरिक बीमारियों से बच सकता है. तो आइए जानते हैं कि हम प्रेगनेंसी के नौवें महीने में ऐसा क्‍या काम करें जिससे तनाव हम पर हावी ना हो और हम आसानी से बिना किसी कॉम्‍प्‍लीकेशन के बच्‍चे को डिलीवर कर सकें.

    तनाव कितना खतरनाक

    तनाव के कारण समय से पहले बच्चे के होने की समस्या बढ़ जाती है. तनाव से गर्भ में पल रहे शिशु का वजन भी कम हो सकता है. बच्चा एडीएचडी जैसी स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हो सकता है  और उसके  शारीरिक और मानसिक विकास में बाधा हो सकती है.

    यह भी पढ़ें- अगर रात में सोते हैं कम, तो बुढ़ापे में डिमेंशिया के हो सकते हैं शिकार- रिसर्च

    प्रेगनेंसी में तनाव से छुटकारा पाने के लिए करें ये 4 काम

    1.पॉजिटिव रहें

    अगर किसी तरह की समस्‍या है तो उसे हंसते हुए टाल जाएं. क्‍योंकि कई बार समस्‍या उतनी प्रॉब्‍लमेटिक नहीं होती जितना हमें लगती है. चीजों को लेकर हमेशा पॉजिटिव रहें और यह ठान लें कि जो होगा बेहतर के लिए हीं होगा.

    2.खुद को रखें हेल्‍दी

    आपकी पहली प्रायरटी आपकी खुद की सेहत होनी चाहिए. आप बेहतर खाएं और अनहेल्‍दी खाने से बचें. जब मन हो वॉक पर जाएं. दिन भर बैठे रहने की बजाए कुछ देर योगा या मेडिटेशन करें. डॉक्‍टर की सलाह लेती रहें.

    यह भी पढ़ें- वर्कआउट के बाद अगर शरीर में होता है दर्द, तो ऐसे मिलेगी राहत

    3.डीप ब्रीदिंग जरूरी

    प्रेगनेंट महिलाओं के लिए ब्रीदिंग ट्रिक्‍स सीखना बहुत ही जरूरी है. ऐसे में अपने लास्‍ट ट्रैमेस्‍टर में खूब सांस लेने का एक्‍सरसाइज करें. ऐसा करने से डिलीवरी के समय आपको डीप ब्रीदिंग में दिक्‍कत नहीं आएगी और आप प्रसव के लंबे समय को बेहतर तरीके से झेल पाएंगी.

    4.म्‍यूजिक सुनें

    बेहतर म्‍यूजिक आपको तनाव से तो दूर रहेगा ही, आप मानसिक रूप से सकारात्‍मक भी महसूस करेंगे. यह आपके पेट में मौजूद शिशु के लिए भी बेहतर होता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज