Home /News /lifestyle /

what is postpartum cramping and how to prevent in hindi

डिलीवरी के बाद हो सकती है पोस्टपार्टम क्रैंपिंग, जानिए इससे कैसे बचें

क्या होती है पोस्टपार्टम क्रैंपिंग, Image-Canva

क्या होती है पोस्टपार्टम क्रैंपिंग, Image-Canva

Postpartum cramping- अगर आपको भी डिलीवरी होने के बाद कुछ लक्षणों का सामना करना पड़ता है जैसे किसी किसी चीज की भूख लगती है, पेट दर्द होता है और मूड स्विंग होते हैं तो जानिए इनके कारण और साथ ही जानें इनसे बचने का तरीका.

हाइलाइट्स

डिलीवरी के बाद मूड स्विंग होना है आम समस्या.
डिलीवरी के बाद प्रोजेस्टेरोन हार्मोन बढ़ जाता है.
यूट्रस में खिंचाव होने के कारण भी दर्द हो सकता है.

Postpartum cramping: प्रेग्नेंसी के 9 महीने लंबे सफर में आप हो सकता है काफी परेशान रही हो. इस दौरान आपको बहुत सारे लक्षण भी देखने को मिले होंगे लेकिन डिलीवरी होने के बाद भी आपका पीछा इतनी जल्दी इन लक्षणों से नहीं छूट जाने वाला है क्योंकि पोस्ट पार्टम लक्षणों की बारी ही इस समय आती है. इस समय आपको क्रैंप्स, मूड स्विंग और क्रेविंग आदि जैसे लक्षण देखने को मिल रहे होंगे. इनके बारे में सोच कर ही हो सकता है आप काफी परेशान हो और यह सोच रही हों कि इनसे कब राहत मिलेगी. तो आइए आज के आर्टिकल में जानते हैं कि पोस्ट पार्टम क्रैंपिंग किस वजह से होती है और इस लक्षण से कैसे खुद  को बचाया जा सकता है.

कारण
हेल्थ लाइन के मुताबिक कई बार डिलीवरी होने के बाद भी आपको थोड़ा बहुत दर्द होता है और यह मिनी कॉन्ट्रैक्शन का नतीजा होता है. यह दर्द कुछ दिनों के बाद अपने आप ही चला जाता है.
-अगर आपकी सी सेक्शन डिलीवरी हुई है तो इसमें भी आपका यूटरस कॉन्ट्रैक्ट होता है और जब तक यह अपने नॉर्मल साइज में नहीं आ जाता है तब तक आपको यह समस्या देखने को मिलती रहेगी. जैसे जैसे आप के टिश्यू हील होते जायेंगे वैसे वैसे आपको दर्द से राहत मिलती जायेगी.

यह भी पढें- अंडा नहीं खाते तो इन फूड्स से पाएं भरपूर प्रोटीन, अभी जान लीजिए

-प्रेग्नेंसी के बाद प्रोजेस्ट्रॉन हार्मोन काफी ज्यादा मात्रा में बढ़ जाता है और इस कारण कब्ज भी हो जाती है. कभी-कभार कब्ज के कारण भी पेट दर्द हो सकता है. किसी दवाई या डाइजेस्टिव सिस्टम को हेल्दी रखने वाली टिप्स इस स्थिति में काम आ सकती हैं.

-अगर बच्चे को जन्म देने के दौरान किसी तरह के इंफेक्शन से जूझ रही हैं तो भी आपको बाद में क्रैंप्स जैसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है. इस केस में आप को अपने डॉक्टर के पास जाना चाहिए और इसके बारे में पता करना चाहिए.

ये भी पढ़ें: देर रात को भूख लग जाती है? इन फूड्स को खाने से मिलेगा पोषण

Tags: Health, Lifestyle, Pregnancy

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर