लाइव टीवी

World Cancer Day 2020: ब्रेस्ट कैंसर के इन लक्षणों को न करें इग्नोर, हो सकता है बेहद खतरनाक

News18Hindi
Updated: February 4, 2020, 11:19 AM IST
World Cancer Day 2020: ब्रेस्ट कैंसर के इन लक्षणों को न करें इग्नोर, हो सकता है बेहद खतरनाक
हर साल 21 लाख महिलाएं स्तन (ब्रेस्ट) कैंसर की चपेट में आती है.

डब्लूएचओ (WHO) के मुताबिक, केवल ब्रेस्ट कैंसर ही 12 प्रकार का होता है. दुर्भाग्यवश इसको लेकर ज्यादातर महिलाओं में जागरुकता का अभाव है. इसलिए विश्व कैंसर दिवस के मौके पर हम आपको बताने जा रहे हैं ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण क्या हो सकते हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2020, 11:19 AM IST
  • Share this:
World Cancer Day 2020: दुनिया भर में आज यानी की 4 फरवरी को वर्ल्ड कैंसर डे के रूप में मनाया जा रहा है. इस बार विश्व कैंसर दिवस 2020 की थीम (World Cancer Day 2020 Theme) आई एम एंड आई विल (I Am and I Will) रखी गई है. विश्व स्तर पर कैंसर से जूझ रहे लोगों में ज्यादातर महिलाएं शामिल हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, हर साल 21 लाख महिलाएं स्तन (ब्रेस्ट) कैंसर की चपेट में आती है. भारत के आंकड़ों पर नजर डालें तो डब्लूएचओ के मुताबिक, हर 28वीं महिला को किसी ने किसी रूप में ब्रेस्ट कैंसर होता है. डब्लूएचओ का कहना है कि भारत में महिलाओं को कैंसर के प्रति जागरूक करना बेहद जरूरी है.

12 प्रकार का होता है ब्रेस्ट कैंसर
डब्लूएचओ के मुताबिक, केवल ब्रेस्ट कैंसर ही 12 प्रकार का होता है. दुर्भाग्यवश इसको लेकर ज्यादातर महिलाओं में जागरुकता का अभाव है. इसलिए विश्व कैंसर दिवस के मौके पर हम आपको बताने जा रहे हैं ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण क्या हो सकते हैं और यह कैसे शरीर बनते हैं. साथ ही ब्रेस्ट कैंसर के उपाय क्या हैं. डॉक्टरों के अनुसार, ब्रेस्ट कैंसर में कैंसर सेल्स ब्रेस्ट के टिश्यूज में बनते हैं. ब्रेस्ट के बाद ये टिश्यूज पूरे शरीर में फैल जाते हैं. कुछ मामलों में ब्रेस्ट कैंसर वायु प्रदूषण से हो सकता है.

इसे भी पढ़ें : वर्जिनिटी वापस पाने के लिए महिलाएं कर रही हैं ये खतरनाक काम, लोग बोले- 'बैन करो इसे'

ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण को पहचानें

>>चेहरे और शरीर की स्किन में सूजन, लालिमा का होना

>> ब्रेस्ट के साइज में बदलाव होना>> निप्पल और ब्रेस्ट में दर्द रहना या सूजन

>> निप्पल में खून का आना

>> आर्मपिट में लंप का देखना

>> ब्रेस्ट और आसपास के हिस्सों में खुजली रहना या लगातार सूजन का बना रहना

>> स्तनों को दबाने पर तेज दर्द महसूस होना

किसी भी महिला को ऊपर दिए गए लक्षणों में से कोई भी समझ आता है, तो तुरंत अपने डॉक्टर या नजदीकी अस्पताल में संपर्क करें.

ब्रेस्ट कैंसर का कारण क्या है?

>> एक उम्र तक गर्भधारण न करना

>> ज्यादा उम्र के बाद गर्भवती होना

>> शिशु को स्तनपान न करवाना

>> वजन का अचानक तेजी से बढ़ना

>> अनियंत्रित लाइफस्टाइल

>> ज्यादा मात्रा में शराब का सेवन करना

कैसे करें ब्रेस्ट कैंसर से बचाव

- विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, ब्रेस्ट कैंसर से बचाव के लिए सबसे जरूरी है नियंत्रित खानपान होना.

- ब्रेस्ट कैंसर से बचने के लिए सबसे जरूरी है हेल्दी लाइट डाइट को फॉलो करना

- अगर, आपको कैंसर के लक्षणों में से कोई भी नजर आता है तो शराब का सेवन करना बंद कर दें.

- ब्रेस्ट कैंसर से निजात सर्जरी, कीमोथेरेपी, रेडियोथेरिपी या फिर हार्मोन थेरेपी को अपनाया जाता है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 10:11 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर