होम /न्यूज /जीवन शैली /World Cotton Day 2022: कब और क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड कॉटन डे? जानें इतिहास और महत्व

World Cotton Day 2022: कब और क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड कॉटन डे? जानें इतिहास और महत्व

कपास उद्योग से करोड़ों लोग जुड़े हुए हैं. (image-canva)

कपास उद्योग से करोड़ों लोग जुड़े हुए हैं. (image-canva)

World Cotton Day History: दुनियाभर में कॉटन प्रोडक्शन को बढ़ावा देने और उसकी अर्थव्यवस्था की सभी समस्याओं को एक मंच देन ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

2019 में पहली बार 'वर्ल्ड कॉटन डे' सेलिब्रेट किया गया था.
पूरी दुनिया में कपास का प्रोडक्शन बड़े पैमाने पर होता है.

World Cotton Day, History And Significance: विश्व कपास दिवस (वर्ल्ड कॉटन डे) का आयोजन सबसे पहले 2019 में संयुक्त राष्ट्रीय, विश्व खाद्य संगठन, अंतर्राष्ट्रीय कपास सलाहकार समिति द्वारा किया गया था. जिसके बाद विश्व कपास दिवस को हर साल 7 अक्टूबर को मनाया जाता है. पुराने समय से कॉटन के कपड़ो से लेकर कपास को कई अन्य तरह से भी इस्तेमाल किया जाता रहा है. कपास का प्रोडक्शन ना केवल भारत बल्कि पूरे विश्व में बड़े पैमाने पर किया जाता है, इसीलिए कपास का उत्पादन हर साल काफी लोगों जरूरतमंद लोगों को रोजगार देता है. वर्ल्ड कॉटन डे का उद्देश्य भर में कपास उत्पादन और कपास अर्थव्यवस्था की चुनौतियों को दुनिया के सामने साझा करना और उनके सही परिणाम तक पहुंचना है. आइए जानते हैं वर्ल्ड कॉटन डे का महत्व और उद्देश्य क्या है.

यह भी पढ़ेंः हार्ट अटैक के बढ़ते मामलों से घट रहा जिम का क्रेज? हकीकत जान ले

वर्ल्ड कॉटन डे का इतिहास
दुनियाभर में कॉटन का प्रोडक्शन किया जाता है, क्योंकि कॉटन फाइबर कपड़ों में काफी ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है इसके अलावा भी कपास को कई खाद्य सामग्रियों को बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. इसीलिए 2019 में नेचुरल फाइबर कपास के उत्पादन, व्यापार और लाभ को देखते हुए इसे बढ़ावा देने के लिए 7 अक्टूबर को विश्व कपास दिवस या वर्ल्ड कॉटन डे के तौर पर घोषित किया गया था.

वर्ल्ड कॉटन डे का महत्व
वर्ल्ड कॉटन डे को पूरी दुनिया में हर साल 7 अक्टूबर को मनाया जाता है. विश्व कपास दिवस में कई समारोह आयोजित किए जाते हैं. जिनका उद्देश्य है, कपास के उत्पादन और उससे जुड़ी सभी गतिविधियों से संबंधित शोधकर्ताओं, किसानों और बड़े व्यवसायी को महत्वपूर्ण विषय साझा करने के लिए एक मंच का निर्माण करना है.

यह भी पढ़ेंः मीठा खाने से नहीं होगी डायबिटीज? एक्सपर्ट की राय जानकर हैरान रह जाएंगे

वर्ल्ड कॉटन डे का उद्देश्य
– वर्ल्ड कॉटन डे का मुख्य उद्देश्य कपास उत्पादन के लिए सभी हितकारी परिवर्तन करना और कपास व्यापार से जुड़ी जरूरी मान्यताएं देना है.
– कपास प्रोडक्शन की तकनीकों के विकास को बढ़ावा देना और ज्यादा प्रोडक्शन करना है.
– कपास प्रोडक्शन से संबंधित सभी लोगों को एक साथ जोड़ना.
– कपास प्रोडक्शन या इससे संबंधित उद्योगों को ज्यादा से ज्यादा बढाना.
– नए-नए क्षेत्रों में निवेशकों की तलाश करना और रोजगार उपलब्ध कराना.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Lifestyle, Trending news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें