पैरेंटिंग को लेकर येल यूनिवर्सिटी ने लॉन्च किया नया ऐप, अब घर बैठे ऐसे कंट्रोल होंगे बच्चे

येल यूनिवर्सिटी कोरोना महामारी के बीच ऑनलाइन पैरेंटिंग कोर्स ऑफर कर रही है.
येल यूनिवर्सिटी कोरोना महामारी के बीच ऑनलाइन पैरेंटिंग कोर्स ऑफर कर रही है.

इस कोर्स (Course) में पैरेंटिंग (Parenting) से जुड़ी छोटी-छोटी चीजों पर क्लास (Class) दी जाएगी. कोर्स में पैरेंट्स को बच्चों की प्रशंसा करने से लेकर उनके साथ व्यवहार करने तक की शिक्षा पर जोर दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2020, 11:01 AM IST
  • Share this:
दुनियाभर में फैली कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के कारण अर्थव्यवस्था (Economy) से लेकर शिक्षा (Education) तक पर इसका बुरा असर पड़ा है. स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए फिलहाल शैक्षिक संस्थान (Educational Institutes) बंद करने के आदेश हैं. वहीं, येल यूनिवर्सिटी (Yale University) इस महामारी के बीच ऑनलाइन पैरेंटिंग कोर्स (Online Parenting Course) ऑफर कर रही है. इस ऑनलाइन कोर्स के जरिए यूनिवर्सिटी बच्चों को ध्यान में रखते हुए पैरेंट्स को प्रोग्राम कोर्स कराएगी. येल पैरेंटिंग सेंटर (Yale Parenting Center) के डायरेक्टर और मनोविज्ञान तथा बाल मनोविज्ञान के प्रोफेसर डॉ. ऐलन ई कैजडिन (Dr Alan E Kazdin) ने इस कोर्स को डिजाइन किया है. उन्होंने इस ऑनलाइन कोर्स का नाम 'एवरीडे पैरेंटिंग ' (Everyday Parenting) रखा है. इस ऑनलाइन कोर्स की मदद से पैरेंट्स अब कम उम्र और किशोरावस्था के बच्चों से उचित व्यवहार और उन्हें नेविगेट (Navigate) करने की बारीकियों को सीखेंगे.

इसे भी पढ़ेंः Home Schooling: जानें क्या है होम स्कूलिंग, बच्चों के लिए कैसे है फायदा और नुकसान

इस कोर्स में पैरेंटिंग से जुड़ी छोटी-छोटी चीजों पर क्लास दी जाएगी. कोर्स में पैरेंट्स को बच्चों की प्रशंसा करने से लेकर उनके साथ व्यवहार करने तक की शिक्षा पर जोर दिया जाएगा. प्रोफेसर कैजडिन ने एक उदाहरण देते हुए समझाया कि गलती पर बच्चों को दंडस्वरूप छोटी सी सजा देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि बच्चे को बार-बार पीटने, उनके साथ उचित रूप से पेश न आने पर उनके व्यवहार में नकारात्मक बदलाव और स्वभाव में चिड़चिड़ापन आ जाता है.



इसे भी पढ़ेंः हाइपर एक्टिव बच्चों को कैसे सिखाएं कोई भी काम, जानें कुछ खास ट्रिक्स
आपको बता दें कि इस ऑनलाइन पैरेंटिंग कोर्स में किशोरावस्था के बच्चों को भी नियंत्रण करना सिखाया जाएग, जिसमें यह बताया जाएगा कि उन्हें स्कूल में कैसा व्यवहार अपनाना है.येल यूनिवर्सिटी ने इस ऑनलाइन पैरेंटिंग कोर्स के लिए ऐप 'कोर्सेरा' (Coursera) लॉन्च किया गया है. यह एक मॉड्यूलर संरचना पर आधारित ऐप है. इसमें क्लास, वीडियो, रीडिंग्स और क्वीज शामिल है. इसे करने के बाद पैरेंट्स अपने बच्चों के साथ-साथ खुद में भी बड़े व्यवहारिक और स्वभाविक बदलाव को महसूस कर सकेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज