Yoga Session: योग रखेगा तन और मन को स्वस्थ, रोज ऐसे करें अभ्यास

योग एक्सपर्ट सविता यादव के साथ करें योग

Yoga Session: योग और प्राणायाम ही वो विधा हैं जो शरीर को मजबूत कर अन्दुरुनी रूप से फायदा पहुंचाएंगी.

  • Share this:
Yoga Session: योग एक्सपर्ट सविता यादव ने आज के योग सेशन में कई ऐसे योग अभ्यासों के बारे में बताया और सिखाया जिनसे न केवल शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है बल्कि कमर दर्द, मोटापा, कंधे में दर्द और बदन में दर्द जैसी समस्याएं भी दूर होती हैं. कोरोना काल  (Corona time) में जब अधिकतर लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं तो ऐसे समय में योग और प्राणायाम ही वो विधा हैं जो शरीर को मजबूत कर अन्दुरुनी रूप से फायदा पहुंचाएंगी. आज त्रिकोणासन, सर्वांग पुष्टि आसन, मार्जारी आसन, डीप ब्रीदिंग औरभी कई अभ्यास दिखाए और सिखाए गए. योग करने से शरीर स्वस्थ रहता है और जीवन संतुलित बना रहता है. इसके लिए सबसे पहले अपनी बॉडी को रिलैक्स करें और उसके बाद योगासन का अभ्यास करें. कभी भी दर्द में योगासन करने की कोशिश न करें. इससे विपरीत परिणाम हो सकते हैं. वहीं आसनों को करने के बाद शरीर को आराम देने के लिए प्राणायाम जरूर करें. इससे शरीर की थकान दूर होती है.

त्रिकोणासन: त्रिकोणासन करने के लिए दोनों पैरों के बीच लगभग डेड़ फुट का फासला रखते हुए सीधे खड़े हो जाएं. दोनों हाथ कन्धों के बराबर पिछले भाग में खुले हुए हों. सांस अन्दर भरते हुए बायें हाथ को सामने लेते हुए बाएं पंजे के पास जमीन पर टिका दें, अथव हाथ को एड़ी के पास लगायें तथा हाथ को ऊपर की तरफ उठाकर गर्दन को दाईं तरफ घुमाते हुए दायें हाथ को देखें. फिर सांस छोड़ते हुए पूर्व स्थिति में आकर यही अभ्यास दूसरी तरफ भी दोहराएं. इस कमर के आसपास का हिस्सा लचीला बनता है. पिछले भाग की चर्बी कम होती है.



सर्वांग पुष्टि आसन: सर्वांग पुष्टि आसन के लिए मैट पर दोनों पैर फैलाकर सीधे खड़े हो जाएं. मुट्ठी इस तरह बंद करें कि अंगूठा दिखाई ना दे. अब दोनों हाथों को नीचे झुकाकर बाएं टखने के पास बायां हाथ नीचे और दायां हाथ कलाई के ऊपर रखें. सांस भरते हुए धीरे-धीरे दोनों हाथों से ऊपर की ओर बाएं कन्धे के बाजू से सिर तक ले जाएं और दाएं टखने की तरफ सांस छोड़े. दाहिना हाथ नीचे और बायां हाथ ऊपर रखें. दोबारा सांस लेकर दोनों हाथों के नीचे से ऊपर दाएं कन्धे तक लाते हुए सिर के ऊपर तक ले जाएं. अब बाईं ओर मुड़ते हुए दोनों हाथों को बाएं कन्धे से नीचे की ओर बाएं टखने तक लाएं. सांस छोड़े, हाथ को बदल-बदलकर बायां नीचे और दाहिना ऊपर रखें. इसे दो बार दोहराएं. हर अंग की चर्बी घटाने के लिए करें 'सर्वांग पुष्टि आसन' बेहतरीन है. लेकिन जो लोग लोअर बैक पेन की समस्या से परेशान हैं वे इस आसन को ना करें.

यह भी पढ़ें:  Yoga Session: बढ़ते बच्चों के लिए बेस्ट है ये एक्सरसाइज, बढ़ती है लंबाई 

वज्रासन: पैरों को जमीन पर फैलाकर बैठ जाएं और हाथों को शरीर के बगल रखें. दाहिने पैर को घुटने से मोड़ें और दाहिने कूल्हे के नीचे रखे. इसी तरह बाएं पैर को बाएं बटक के नीचे लाएं. एड़ी को ऐसे रखें कि पैर की बड़ी उंगलियां एक दूसरे पर न चढ़ें. दोनों हाथों को घुटनों पर रखें. ध्‍यान रहे कि रीढ़ की हड्डी बिलकुल सीधी हो. अब आंखें बंद कर लें. इस अवस्‍था में पांच से दस मिनट तक बैठें. वज्रासन से कमर दर्द में आराम मिलेगा.

मार्जारी आसन: मार्जरी आसन एक आगे की ओर झुकने और पीछे मुड़ने वाला योग आसन है. कैट वॉक दुनिया भर में प्रसिद्ध है, लेकिन हम योग आसन वर्ग में कैट पोज के बारे में चर्चा करते हैं. यह आसन आपके शरीर के लिए अनके प्रकार से लाभदायक है. यह आसन रीढ़ की हड्डी को एक अच्छा खिंचाव देता है. इसके साथ यह पीठ दर्द और गर्दन दर्द में राहत दिलाता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.