Yoga Session: बॉडी रहेगी फिट और टोंड करें इन एक्सरसाइज की प्रैक्टिस

सीखें योग एक्सपर्ट सविता यादव से

Yoga Session: योग करने से न केवल मनुष्य स्वस्थ (Healthy) रह सकता है बल्कि उसे हर प्रकार के तनाव (Stress) से भी मुक्ति मिलती है. योग सांसों और मन पर नियंत्रण पाने की क्रिया है.योग से सम्पूर्ण जीवन प्रभावित होता है और जीवन चक्र बेहतर चलता है....

  • Share this:
Yoga Session: आज के योग सेशन में तन - मन को सेहतमंद रखने वाले कई आसान दिखाए गए. योग एक्सपर्ट सविता यादव से आज हमने News18 Hindi के फेसबुक पेज पर योग करने के कई तरीके सीखे . लाइव योग सेशन (Live Yoga Session) में कई तरह के योग आसनों के बारे में बताया गया. योग शरीर से मन की यात्रा है. योग अभ्यास की प्रैक्टिस रोजाना करने से यह आदत में शामिल हो जाता है. योग करने से न केवल मनुष्य स्वस्थ (Healthy) रह सकता है बल्कि उसे हर प्रकार के तनाव (Stress) से भी मुक्ति मिलती है. योग सांसों और मन पर नियंत्रण पाने की क्रिया है.योग से सम्पूर्ण जीवन प्रभावित होता है और जीवन चक्र बेहतर चलता है....

मलासन: मल निकालते वक्त हम जिस अवस्था में बैठते हैं उसे मलासन कहते हैं. बैठने की यह स्थति पेट और पीठ के लिए बहुत ही लाभदायक रहती है. इसे करने के लिए सबसे पहले दोनों घुटनों को मोड़ते हुए मल त्याग करने वाली अवस्था में बैठ जाएं. फिर दाएं हाथ की कांख को दाएं और बाएं हाथ की कांख को बाएं घुटने पर टिकाते हुए दोनों हाथ को मिला दें (नमस्कार मुद्रा). उक्त स्थिति में कुछ देर तक रहने के बाद सामान्य स्थिति में आ जाएं.

मलासन के फायदे: मलासन से घुटनों, जोड़ों, पीठ और पेट का तनाव खत्म होता है और इनका दर्द कम होता है. इससे कब्ज और गैस की समस्या से भी मुक्ति मिलती है.



नौकासन: नौकासन जैसा कि नाम से ही स्पष्ट हैं इसमें शरीर को नाव के आकार में करना होता है. इस योग को करने से पेट और हिप्स पर काफी दबाव पड़ता है और वो टोंड होते हैं. साथ ही पेल्विक एरिया की मांसपेशियों में काफी कसावट और मजबूती आती है. इस योगासन को करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल लेट जाएं. अब अपने दोनों पैरों को एक साथ जोड़ लें और अपने दोनों हाथों को भी शरीर के साथ लगा लें. इसके बाद एक गहरी सांस लें और सांस छोड़ते हुए अपने दोनों हाथों को पैरों कि ओर खींचते हुए अपने पैरों के साथ अपनी छाती को उठाएं. अब एक लंबी और गहरी सांसे लेते हुए आसन को बनाए रखते हैं और फिर सांस छोड़ते हुए विश्राम करें.

नौकासन के फायदे: इस आसन को करने से आपका पाचन तंत्र मजबूत होता है. साथ ही यह पाचन संबंधित रोग जैसे कब्ज, एसिडिटी, गैस आदि से छुटकारा दिलाने में मदद करता है.

यह भी पढ़ें:  Yoga Session- रक्त संचार और ऑक्सीजन लेवल होगा अच्छा, करें ये एक्सरसाइज

मर्कट आसन: मर्कट आसन करने के लिए मैट पर लेट जाएंगे पैर का घुटना ऊपर की तरफ रखें दोनों हाथ बाहर की ओर खुलेंगे दोनों हाथ कंधे के समानांतर बिल्कुल सीधे रहेंगे अब अपने पैर को घुटने से आहिस्ता आहिस्ता ऊपर की ओर मोड़ें इसके बाद दोनों पैर के घुटने को दाहिनी तरफ फर्श से लगा देंगे या क्रिया 4 से 5 सेकंड तक ऐसे ही फर्श पर स्पर्श रखेंगे और चेहरा विपरीत दिशा में घुमा देंगे अब धीमे-धीमे दोनों पैर को ऊपर की ओर और चेहरा सामने की ओर लाएं. अब ठीक किसके विपरीत करेंगे.

मर्कट आसन के लाभ: मर्कट आसन से रीढ़ की हड्डी लचीली होगी साथ ही पीठ संबंधी सभी परेशानियों से छुटकारा मिलेगा. जांघे भी शेप में आएंगी साथ ही आपका शरीर भी फुर्तीला होगा.

मार्जरी आसन: मार्जरी आसन एक आगे की ओर झुकने और पीछे मुड़ने वाला योग आसन है. कैट वॉक दुनिया भर में प्रसिद्ध है, लेकिन हम योग आसन वर्ग में कैट पोज के बारे में चर्चा करते हैं. यह आसन आपके शरीर के लिए अनके प्रकार से लाभदायक है. यह आसन रीढ़ की हड्डी को एक अच्छा खिंचाव देता है. इसके साथ यह पीठ दर्द और गर्दन दर्द में राहत दिलाता है.