• Home
  • »
  • News
  • »
  • lifestyle
  • »
  • Yoga Session: कपालभाति और उड्डीयान बंध आसन करने का सही तरीका सीखें

Yoga Session: कपालभाति और उड्डीयान बंध आसन करने का सही तरीका सीखें

योग प्रशिक्षिका सविता यादव

योग प्रशिक्षिका सविता यादव

Yoga: कपालभाति और उड्डीयान बंध आसन करने से शरीर स्वस्थ रहता है. हांलाकि, कोरोना मरीजों को इनका अभ्यास न करने की सलाह जी जाती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

Yoga Session With Savita Yadav: शरीर के हर अंग को दुरुस्त रखने के लिए व्यायाम बहुत जरूरी है. नियमित योग (Yoga) करना न सिर्फ शरीर के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है, बल्कि मेंटल हेल्थ (Mental Health) को भी ये ठीक रखने में अहम भूमिका निभाता है. आज योग प्रशिक्षिका सविता यादव ने न्यूज़18 के लाइव योगा सेशन में  कपालभाति और उड्डीयान बंध के जरिए खुद की सेहत का ख्याल रखना सिखाया. इन्हें करने से पहले थोड़ी देर श्वास-प्रश्वास का अभ्यास करें और ध्यान लगाएं व मन को शांत करें. इसके बाद पैरों को अच्छे से चलाएं. इसके बाद कपालभाति का अभ्यास करें. इसे करने का सही तरीका जानिए.
कपालभाति
योगा मैट पर बैठ कर अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें. इसके बाद अपने हाथों को घुटनों पर रखें और गहरी लंबी सांस लें. अब सांस छोड़ते हुए धीमी गति से पेट को अंदर की ओर खींचे. पेट को इस से अंदर की तरफ खींचना है कि वह रीढ़ की हड्डी को छू पाए. हांलाकि, इसे अपनी क्षमता अनुसार ही करें. अपनी नाभि को अंदर की ओर खींचे और कुछ सेकेंड में सांस छोड़ दें. एक राउंड खत्म होने के बाद, आराम करें और अपनी आंखों को बंद कर लें. 1-1 मिनट के 3 चक्र पूरे करें. इस अभ्यास को कोरोना के मरीज, स्लिप डिस्क और कमर दर्द से पीड़ित लोग न करें. साथ ही इस बात का ध्यान भी रखना है कि इसे मल त्यागने से पहले नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़ें- Yoga Session: किसी भी आसन को करने से पहले करें ये सूक्ष्म अभ्यास, बढ़ेगी फ्लेक्सिबिलिटी

उड्डीयान बंध

उड्डीयान बंध को सांस छोड़ कर और श्वास भर कर भी किया जा सकता है. इसके लिए Padmasana में बैठ जाएं. अब अपनी हथेलियों को घुटनों पर रखें. इसके बाद पेट को अंदर की ओर खींचें. अपनी सांस को धीरे-धीरे अंदर की और लेते हुए अपनी पसलियों को ऊपर की ओर उठाएं. अब अपनी सांस को रोक कर रखें. इसके लिए अपनी क्षमता अनुसार अपनी सांस को होल्ड करें. फिर धीरे से सांस छोड़ दें. ऐसे 3 चक्र पूरे करें.

इसे भी पढ़ें- Yoga Session: पैरों की मासपेशियों की ऐंठन को दूर करने के लिए करें ये आसान अभ्यास

ध्यान रहे कि योगाभ्यास अपनी क्षमता अनुसार ही करना है. इस दौरान श्वास-प्रश्वास और व्यायाम से जुड़े विशेष नियमों का पालन करना बहुत जरूरी है. इसी के साथ सही मात्रा में सही पोषण लेना भी आवश्यक है. आप सूक्ष्म व्यायाम के जरिए ही आसानी से अपनी सेहत का ख्याल रख सकते हैं. साथ ही बड़े आसनों के लिए अपने शरीर को तैयार भी कर सकते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज