Home /News /lifestyle /

Yoga Session: जोड़ों के दर्द में मिलेगा आराम, सूक्ष्म व्यायाम को योगाभ्यास में करें शामिल

Yoga Session: जोड़ों के दर्द में मिलेगा आराम, सूक्ष्म व्यायाम को योगाभ्यास में करें शामिल

योगाभ्यास न सिर्फ बीमारियों से बचाता है बल्कि आपको एक्टिव भी रखने का काम करता है. (image : News18)

योगाभ्यास न सिर्फ बीमारियों से बचाता है बल्कि आपको एक्टिव भी रखने का काम करता है. (image : News18)

Yoga Session With Savita Yadav: योगाभ्यास न सिर्फ बीमारियों से बचाता है बल्कि आपको एक्टिव भी रखने का काम करता है. हेल्दी और यंग (Healthy and Young) दिखने के लिए हर व्यक्ति को योगा करना चाहिए. आज हम आपको ऐसे ही कुछ योगासन बता रहें हैं जो बहुत ही आसान हैं, जिन्हें करने से आपके जोड़ों में हो रहे दर्द से आराम मिल सके. किसी भी योगासन की शुरुआत ध्यान के साथ करना चाहिए. इससे मन एकाग्र होता है और योगसन के अच्छे परिणाम देखने को मिलते हैं.

अधिक पढ़ें ...

Yoga Session With Savita Yadav: सर्दियों में अक्सर पुरानी चोट और जोड़ों में दर्द (Joint Pain) बड़ जाता है. जिसके कारण बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है. लेकिन आप अपनी नियमित दिनचर्या में योगाभ्यास (Daily Yoga) को शामिल करते हैं तो इनसे हमेशा के लिए छुटकारा पाया जा सकता है. योगाभ्यास न सिर्फ बीमारियों से बचाता है बल्कि आपको एक्टिव भी रखने का काम करता है. हेल्दी और यंग (Healthy and Young) दिखने के लिए हर व्यक्ति को योगा करना चाहिए. आज हम आपको ऐसे ही कुछ योगासन बता रहें हैं जो बहुत ही आसान हैं, जिन्हें करने से आपके जोड़ों में हो रहे दर्द से आराम मिल सके.

सबसे पहले ध्यान करें
किसी भी योगासन की शुरुआत ध्यान के साथ करना चाहिए. इससे मन एकाग्र होता है और योगसन के अच्छे परिणाम देखने को मिलते हैं. अपनी आती जाती सांसों पर ध्यान केंद्रित करें. उसके बाद ओम के साथ किसी भी मंत्र का उच्चारण करें.

ये योगासन आंखें खोलकर करना है. सीधे खड़े हो जाएं दोनों पैरों को पास में करलें अब स्वशन क्रिया के साथ आरंभ करेंगे. सामने देखते हुए अच्छे से सांसें लेना है.
उसके बाद ऊपर छत को देखते हुए ध्यान को चोटी वाले भाग पर लगा कर सांसे लेना है. इसमें आपको चक्कर की अनुभूति होती है, ऐसे में घबराना नहीं है. आसन वाली जगह पर बैठ जाएं.
3-4 फीट दूरी पर ज़मीन को देखते हुए आंखे झुका लें और फिर स्वशन क्रिया शुरू करें. इसको नियमित करने से आपको कफ की शिकायत नहीं होती साथ ही म्यूकस नहीं होता.

अब ग्रीवा से
सबसे पहले गरदन को ऊपर करते हुए सांस भरना है सिर नीचे करते हुए सांस को छोड़ना है. अपनी गरदन को जितना पीछे ले जा सकते हैं सुविधा अनुसार उतना ले जाएं. उसके बाद आप इ आसन में अपनी गरदन को बीच में लाएं और फिर दाएं बाएं घुमाएं.
कुछ पल रुके फिर अपनी गरदन को दांए कंधे और बाएं कंधे की तरफ झुकाएं.
इसके बाद सिर को बीच में लाएं और अब अपनी गरदन को क्लोक वाइज़ गोल घुमाएं, इस क्रिया को एंटी क्लोक वाइज़ भी करें.

स्कंद शक्ति के लिए

स्कंद में कंधों की क्रिया करेंगे. इसके लिए दोनों हाथों की मुट्ठियां बना कर साइड में रख लें. मूंह से हवा भरेंगे उसके बाद सिर थोड़ा नीचे करते हुए शोल्डलर को जल्दी जल्दी अप एंड डाउन करेंगे. उसके बाद धीरे-धीरे सांस छोड़ें.

कोहनी शक्ति के लिए
सीधे खड़े हो जाएं. अब अपने हाथों को सीधा करें और कोहनी से मोड़ते हुए 10 बार अप डाउन करें.

भुज शक्ति के लिए
उसके बाद भुज शक्ति के लिए सीधे खड़े हो जाएं अपने एक हाथ को ऊपर लेकर जाएं और फिर नीचे लाएं यह क्रिया दोनों हाथों से बारी बारी से 10-10 बार करना है. अब दोनों हाथों से करेंगे. सांस लेते हुए दोनों हाथों को ऊपर उठाएं सांस छोड़ते हुए दोनों हाथों को नीचे लाएं. इसे भी 10 बार करें.

दोनों हाथों को सामने रखें मुट्ठी बना कर दोनों को एक ही दिशा में 10 बार घुमाएं उसके बाद दूसरी दिशा में घुमाएं.

दोनों हाथों की उंगलियों को पूरा खोल लें अपने हाथों में खिंचाव महसूस करते हुए आगे ले जाएं और पीछे लाएं.
अब सांस भरते हुए दोनों हाथों को आगे की तरफ घुमाए फिर दूसरी दिशा में घुमाएं इस आसन को 10-10 बार करेंगे.

लंग्स के लिए
सांस भरते हुए अपने दोनों हाथों को ऊपर की तरफ उठाएं और उन्हें खींचे. ऐसा सांस भरते हुए ऊपर और सांस छोड़ते हुए नीचे लाएं. इसे भी 10 बार करना है

अब अपने दोनों हाथों सामने की तरफ फैलाएं और आपस में जोड़ें सांस भरते हुए हाथों को फैलाएं, सांस छोड़ते हुए हाथों को आपस में जोड़े. इस प्रक्रिया को दोहराएं.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle, Yoga

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर