लाइव टीवी

सैलेड बनाते समय आप करते हैं ये गलती, पड़ सकते हैं लेने के देने

News18Hindi
Updated: January 22, 2020, 12:35 PM IST
सैलेड बनाते समय आप करते हैं ये गलती, पड़ सकते हैं लेने के देने
सैलेड असल में तभी काम करते हैं जब इन्हें सही तरीके से बनाया जाए वर्ना इनका असर नहीं होता है.

कुछ सैलेड अगर सही से नहीं बनाए जाते तो उनसे वजन बढ़ भी सकता है. इसका सबसे बड़ा कारण होता है कि इसमें हाई कैलोरी वाले इंग्रीडियंट्स मिले हुए होते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 22, 2020, 12:35 PM IST
  • Share this:
सैलेड या सलाद को हमेशा वेट लॉस से जोड़ा जाता है, लेकिन क्या ये सही में काम करता है? सैलेड असल में तभी काम करते हैं जब इन्हें सही तरीके से बनाया जाए वर्ना इनका असर नहीं होता है. कुछ सैलेड अगर सही से नहीं बनाए जाते तो उनसे वजन बढ़ भी सकता है. इसका सबसे बड़ा कारण होता है कि इसमें हाई कैलोरी वाले इंग्रीडियंट्स मिले हुए होते हैं. ऐसे में आप चाहेंगे कि भरपूर मात्रा में आपको सभी पोषक तत्व मिलें और साथ ही आपका वेट लॉस भी हो. आइए आपको बताते हैं सैलेड बनाने का सही तरीका.

इसे भी पढ़ेंः आलू के छिलके के बहुत हैं फायदें, ये 5 काम जान लेंगे तो कभी नहीं करेंगे फेंकने की गलती

ऑयल बेस्ड ड्रेसिंग चुनें
कई न्यूट्रियंट्स जैसे विटामिन A, D, E, और K बिना फैट के डायजेस्ट नहीं होते हैं. इसलिए थोड़ा सा फैट जरूरी होता है. आप अपने सैलेड की ड्रेसिंग ऑयल बेस्ड रख सकते हैं. आप चाहें तो सैलेड में 1 चम्मच ऑलिव ऑयल डालकर भी काम चला सकते हैं. इससे वेट लॉस ज्यादा आसानी से होगा.

हरी सब्जियों का रखें ध्यान
हर तरह की हरी सब्जी जरूरी है. रोज़ाना एक ही तरह का सैलेड खाना सही नहीं होता. किसी दिन ब्रॉकली, किसी दिन पालक तो किसी दिन मेथी को भी सैलेड में मिलाया जा सकता है. इसी के साथ, तुलसी या रोजमेरी जैसी कोई हर्ब्स भी आप सैलेड में डाल सकते हैं. इससे आपकी सैलेड हाई कैलोरी वाली बनेगी और साथ ही साथ इसमें कई सारे फ्लेवर भी होंगे. हरी सब्जियां एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती हैं और ये आपकी सेहत में सुधार लाएंगी.

प्रोटीन का इस्तेमालसैलेड खाते समय भी प्रोटीन का इस्तेमाल जरूरी है. ऐसे में आप चिकन से लेकर टोफू या स्प्राउट्स तक सब कुछ इसमें डाल सकते हैं. आप चाहें तो अपने लिए टोफू या पनीर भी प्रोटीन के रूप में चुन सकते हैं. ऐसे में आपका सैलेड हेल्दी और प्रोटीन से भरा होगा. हालांकि प्रोटीन डालते हुए ये ध्यान रखें कि कितना सामान डालना है नहीं तो आप जरूरत से ज्यादा कैलोरी ले लेंगे.

फ्रूट्स भी रखें डाइट में शामिल
भले ही आप सैलेड खा रहे हों, लेकिन आप हमेशा सब्जियों के साथ फ्रूट्स भी अपनी डाइट में शामिल जरूर करें. फ्रूट्स खाना बहुत अच्छा होता है और इससे आपको कई सारे विटामिन भी मिलते हैं. आप कई सैलेड रेसिपी ट्राई कर सकते हैं जिससे कि इसे खाने में बोरियत न आ जाए.

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में अदरक वाली चाय कर रही है बड़ा नुकसान, हो जाएं सावधान!

ब्रेड के टुकड़ों का न करें सेवन
आजकल तले हुए Croutons यानी ब्रेड के टुकड़े आसानी से उपलब्ध होते हैं जिन्हें आप अपने डाइट का हिस्सा बना लेते हैं. ये सूप में भी अक्सर डाले जाते हैं. सूप की रेसिपी में भी इसका इस्तेमाल होता है और ऐसा ही सैलेड में भी किया जाता है. व्हाइट ब्रेड क्रूटॉन्स से हमेशा ब्लड शुगर हाई होने का खतरा बना रहता है. इसके अलावा, इनमें कम न्यूट्रिएंट्स होते हैं और बहुत हाई ग्लासेमिक इंडेक्स होता है. ऐसे में आप अपने लिए अगर क्रंची सैलेड बनाना चाहते हैं तो कई सारे नट्स या सीड्स जोड़ सकते हैं.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लाइफ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 22, 2020, 12:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर