इमली के इन 5 फायदों के बारे में नहीं जानते होंगे आप, इम्यूनिटी से लेकर दिल तक जुड़ा है कनेक्शन

इमली के इन 5 फायदों के बारे में नहीं जानते होंगे आप, इम्यूनिटी से लेकर दिल तक जुड़ा है कनेक्शन
इमली में बहुत अधिक मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है जो कि शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करती है.

इम्यूनिटी (Immunity) को बढ़ाने से लेकर डाइजेशन (Digestion) को अच्छा रखने और दिल को बीमारियों (Heart Diseases) को दूर रखने तक इमली (Tamarind) हेल्थ (Health) के लिए बहुत अच्छी होती है.

  • Share this:
इमली (Tamarind) को देखकर किसी के भी मुंह में पानी आ जाता है. मीठे और चटपटे स्वाद वाली इमली का इस्तेमाल दुनिया भर में चटनी, सॉस और यहां तक कि मिठाइयों के लिए भी किया जाता है. लेकिन क्या आपको पता है कि आपके भोजन को स्वाद देने के अलावा इमली से कई स्वास्थ्य लाभ भी मिलते हैं. इम्यूनिटी (Immunity) को बढ़ाने से लेकर डाइजेशन (Digestion) को अच्छा रखने और दिल को बीमारियों (Heart Diseases) को दूर रखने तक इमली हेल्थ (Health) के लिए बहुत अच्छी होती है. विटामिन सी, ई और बी के अलावा इमली में कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस, पोटेशियम, मैंगनीज और फाइबर भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है. साथ ही इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट्स भी मौजूद होते हैं. आइए आपको बताते हैं कि इमली किस तरह से आपके हेल्थ को फायदा पहुंचा सकती है.

डायबिटीज में प्रभावी
इमली के बीज के अर्क की प्रकृति एंटी-इंफ्लेमेटरी होती है और इसे ब्‍लड शुगर लेवल को स्थिर करने और डायबिटीज से पीड़ित लोगों में अग्नाशय के टिश्‍यु की क्षति को रोकने के लिए जाना जाता है. इमली में पाया जाने वाला एंजाइम अल्फा-एमिलेज ब्लड शुगर के लेवल को कम करने में मदद करता है.

इम्यूनिटी बूस्टर
इमली में बहुत अधिक मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है जो कि शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करती है. इमली एक इम्यूनिटी बूस्टर की तरह काम करती है. यह शरीर से वायरल इंफेक्शन को कोसो दूर रखती है. इसे खाने से चेहरे पर ग्लो और बालों में चमक नजर आती है.



वजन कम करने में मददगार
इमली फाइबर से भरपूर होती है और इसमें फैट की मात्रा बिल्‍कुल नहीं होती है. इमली को खाने से वजन कम करने में मदद मिलती है क्योंकि इसमें फ्लेवोनोइड्स और पॉलीफेनोल्स होते हैं. इसके अलावा, इमली हाइड्रॉक्सीसिट्रिक एसिड से भरपूर होती है जो एमिलेज को रोककर भूख को कम करती है. यह एक एंजाइम है जो कार्बोहाइड्रेट को फैट में परिवर्तित करने के लिए जिम्मेदार होता है.

डाइजेशन में मददगार
इमली का उपयोग प्राचीन काल से एक अच्छे पाचक के रूप में किया जाता रहा है क्योंकि इसमें टार्टरिक एसिड, मैलिक एसिड और पोटेशियम पाया जाता है. पेट की मसल्‍स को आराम देने की क्षमता के कारण इसका उपयोग लूज मोशन के उपचार के रूप में भी किया जाता है. इसका इस्तेमाल कब्ज को दूर करने के लिए भी किया जाता है. इमली के सेवन से पेट की बीमारियां दूर रहती हैं.

हेल्दी हार्ट
इमली दिल के लिए बहुत अच्छा होता है. इसमें मौजूद फ्लेवोनोइड्स, एलडीएल या बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करने और एचडीएल या गुड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को बढ़ाते हैं. इस प्रकार ब्‍लड में ट्राइग्लिसराइड्स (फैट का एक प्रकार) के निर्माण को रोकते हैं. इसमें पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है जो ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद करता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज