होम /न्यूज /साहित्य /जन संस्कृति मंच राष्ट्रीय सम्मेलन: रायपुर में जुटेंगे देशभर के लेखक और कलाकार

जन संस्कृति मंच राष्ट्रीय सम्मेलन: रायपुर में जुटेंगे देशभर के लेखक और कलाकार

'जन संस्कृति मंच' का यह सम्मेलन आजादी और लोकतंत्र की संस्कृति जैसे महत्वपूर्ण विषय पर केन्द्रित है.

'जन संस्कृति मंच' का यह सम्मेलन आजादी और लोकतंत्र की संस्कृति जैसे महत्वपूर्ण विषय पर केन्द्रित है.

जन संस्कृति मंच के राष्ट्रीय सम्मेलन के पहले दिन तीन तीन सत्र होंगे. सम्मेलन में उद्घाटन वक्तव्य प्रसिद्ध मानवाधिकार का ...अधिक पढ़ें

लेखक-संस्कृतिकर्मियों के संगठन जन संस्कृति मंच का 16वां राष्ट्रीय सम्मेलन 8 और 9 अक्टूबर को रायपुर में आयोजित हो रहा है. दो दिवसीय सम्मेलन में देशभर से जाने-माने साहित्यकार, लेखक और संस्कृतिकर्मी भाग लेंगे.

‘जन संस्कृति मंच’ छत्तीसगढ के संयोजक सियाराम शर्मा ने बताया कि ‘जन संस्कृति मंच’ का यह सम्मेलन आजादी और लोकतंत्र की संस्कृति के लिए जैसे महत्वपूर्ण विषय पर केन्द्रित है. उन्होंने बताया कि आयोजन के पहले दिन देशभर के लेखक, संस्कृतिकर्मी और कलाकारों का एक मार्च बैरनबाजार स्थित आशीर्वाद भवन से प्रारम्भ होकर आंबेडकर चौक और फिर वहां से शंकर नगर स्थित भगत सिंह चौक तक जाएगा. इसके बाद सभी प्रतिनिधि जोरा स्थित पंजाब केसरी भवन पहुंचेंगे.

सम्मेलन के पहले दिन तीन तीन सत्र होंगे. सम्मेलन में उद्घाटन वक्तव्य प्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता हिमांशु कुमार देंगे. मुख्य अतिथि के रूप में जाने-माने कवि देवी प्रसाद मिश्र का वक्तव्य होगा. आदिवासी एक्टिविस्ट सोनी सोरी, प्रसिद्ध फिल्मकार मेघनाथ और ‘मैं एक कारसेवक था’ जैसी चर्चित पुस्तक के लेखक भंवर मेघवंशी और युवा एक्टिविस्ट नवकिरन नट्ट सम्मेलन को सम्बोधित करेंगी. इसी दिन वसु गंधर्व और अजुल्का द्वारा हिंदी कविताओं की सांगीतिक प्रस्तुति दी जाएगी. पटना के कोरस नाट्य दल द्वारा रजिया सज्जाद जहीर की कहानी और मात्सी शरण के निर्देशन में नमक नाटक का मंचन किया जाएगा. इसी सत्र में विभिन्न राज्यों से आ रहे जन गायक-नीतिश राय, बाबुनी मजूमदार (पश्चिम बंगाल), अनिल अंशुमन, प्रमोद यादव, सिंहासन यादव, कृष्ण कुमार निर्माही, संतोष झा, राजू रंजन (बिहार) और बृजेश यादव (उत्तर प्रदेश) जनगीत और लोक गीत प्रस्तुत करेंगे.

Jan Sanskriti Manch, JAN SANSKRITI MANCH News, Jharkhand Jan Sanskriti Manch, Jan Sanskriti Manch Sammelan Raipur, Hindi Sahitya News, Literature News, Sahitya News, जन संस्कृति मंच का राष्ट्रीय सम्मेलन, जन संस्कृति मंच रायपुर, साहित्य न्यूज, लिटरेचर न्यूज,

सम्मेलन के दूसरे दिन वरिष्ठ कवि लाल्टू, चर्चित उपन्यासकार रणेन्द्र, गुजराती लेखक भरत मेहता, कवि रूपम मिश्र, दीपक मित्रा, तेलंगाना के लेखक एनआर श्याम, उड़ीसा के राधाकांत सेठी अपनी बात रखेंगे. शाम को बिहार के बेगुसराय का नाट्य दल रंगनायक द लेफ्ट थियेटर की नाट्य प्रस्तुति ‘अमृतसर आ गया है’ के अलावा कविता पाठ और रायपुर के युवा साथियो के इंडियन रोलर बैंड का कार्यक्रम रखा गया है.

सम्मेलन में कई पुस्तकों और पत्रिकाओं का विमोचन भी होगा. जसम के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेंद्र कुमार, रांची से वरिष्ठ लेखक रविभूषण, कथाकार शिवमूर्ति, आलोचक प्रणय कृष्ण, कवि बल्ली सिंह चीमा, प्रख्यात रंगकर्मी जहूर आलम, उमा राग, शालिनी बाजपेयी, अनुपम सिंह, प्रीति प्रभा, बलभद्र, राजेश कमल, सुरेंद्र प्रसाद सुमन, दीपक सिन्हा, केके पांडेय मीना राय, समता राय, सोनी तिरिया सहित कई नामचीन लेखक-कवि-कलाकार शामिल हो रहे हैं.

आयोजन स्थल को लेखकों, कवियों, रंगकर्मियों की स्मृति में कलात्मक ढंग से सजाया जाएगा. मुक्तिबोध और प्रख्यात मजदूर नेता शंकर गुहा नियोगी की स्मृति में स्वागत द्वार बनाए जाएंगे. प्रख्यात रंगकर्मी हवीब तनवीर की स्मृति में सम्मेलन स्थल को हबीब तनवीर स्मृति परिसर, प्रसिद्ध कवि मंगलेश डबराल की स्मृति में सभागर का नाम मंगलेश डबराल सभागार, जन संस्कृति मंच के महासचिव रहे बृजबिहारी पांडेय व प्रसिद्ध आलोचक रामनिहाल गुंजन की स्मृति में सभा मंच का नाम बृजबिहारी पांडेय-रामनिहाल गुंजन स्मृति मंच रखा गया है.

Tags: Hindi Literature, Literature, Literature and Art

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें