• Home
  • »
  • News
  • »
  • literature
  • »
  • भारत-भारती सम्मान शशिभूषण 'शीतांशु' को, उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान के पुरस्कारों का ऐलान

भारत-भारती सम्मान शशिभूषण 'शीतांशु' को, उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान के पुरस्कारों का ऐलान

उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान के सर्वोच्च भारती सम्मान के लिए शशिभूषण शीतांशु को चुना गया है.

उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान के सर्वोच्च भारती सम्मान के लिए शशिभूषण शीतांशु को चुना गया है.

भारत भारती सम्मान (Bharat Bharti Samman) से सम्मानित साहित्यकार को 8 लाख रुपये की राशि, प्रशस्ति पत्र और स्मृति चिह्न प्रदान किया जाता है.

  • Share this:

    उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान (Uttar Pradesh Hindi Sansthan) ने वर्ष 2020 के पुरस्कारों की घोषणा कर दी है. हिंदी संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. सदानन्द गुप्त की अध्यक्षता में हुई पुरस्कार समिति की बैठक में सर्वोच्च भारत भारती सम्मान के लिए पांडेय शशिभूषण शीतांशु (Pandey Shashi Bhushan Sitanshu) को चुना गया.

    भारत भारती सम्मान (Bharat Bharti Samman) उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान का सर्वोच्च सम्मान है. इस सम्मान से सम्मानित साहित्यकार को 8 लाख रुपये की राशि, प्रशस्ति पत्र और स्मृति चिह्न प्रदान किया जाता है.

    उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान ने लोहिया साहित्य सम्मान (Lohia Sahitya Samman) के लिए लखनऊ के डॉ. रामकठिन सिंह, हिंदी गौरव सम्मान के लिए गाजियाबाद के भगवान सिंह, महात्मा गांधी साहित्य सम्मान के लिए मुजफ्फरपुर (बिहार) के डॉ. महेंद्र मधुकर, पंडित दीनदयाल उपाध्याय साहित्य सम्मान के लिए भोपाल के डॉ. देवेंद्र दीपक, अवंतीबाई साहित्य सम्मान के लिए नोएडा के डॉ. सीतेश आलोक, राजर्षि पुरुषोत्तमदास टंडन सम्मान के लिए गुजरात प्रांतीय राष्ट्रभाषा प्रचार समिति के नाम का चयन हुआ. इन सभी सम्मनों की सम्मान राशि 5-5 लाख रुपये है.

    साहित्यभूषण सम्मान (Sahitya Bhushan Samman)
    साहित्य भूषण सम्मान के लिए 20 लेखकों का चयन हुआ है, इनमें बाराबंकी के मो. मूसा खान (अशान्त बाराबंकी), आगरा के डॉ. शशि गोयल, प्रयागराज के डॉ. अरविन्द कुमार राम, लखनऊ के दयानन्द जड़िया ‘अबोध’ और धीरेन्द्र वर्मा, लखनऊ के ही डॉ. मंजु शुक्ल, गोण्डा के शिवाकान्त मिश्र ‘विद्रोही’, आगरा के प्रो. हरिमोहन, बरेली के सुधीर विद्यार्थी, ठाणे (महाराष्ट्र) के डॉ. सुधाकर मिश्र, पिलखुवा के डॉ. चन्द्रपाल शर्मा, कानुपर के डॉ. ओम प्रकाश शुक्ल ‘अमिय’, रायबरेली के केशव प्रसाद वाजपेयी, सुल्तानपुर के डॉ. सुशील कुमार पाण्डेय ‘साहित्येन्दु’, नई दिल्ली के बीएल गौड़, जबलपुर से डॉ. त्रिभुवननाथ शुक्ल, गोण्डा से सतीश आर्य, बहराइज से रामकरन मिश्र सैलानी, भागलपुर से डॉ. तपेश्वरनाथ और कानपुर से हरीलाल ‘मिलन’शामिल हैं.

    सभी सम्मानित लेखकों को पुरस्कार स्वरूप ढाई-ढाई लाख रुपये की नकद राशि प्रदान की जाएगी.

    विविध पुरस्कार
    बैठक में लोक भूषण सम्मान वाराणसी के डॉ. जयप्रकाश मिश्र, कला भूषण सम्मान लखनऊ के सुशील कुमार सिंह, विद्या भूषण सम्मान गाजियाबाद के गिरीश्वर मिश्र, विज्ञान भूषण सम्मान राजस्थान जोधपुर के डॉ. दुर्गादत्त ओझा, पत्रकारिता भूषण सम्मान नई दिल्ली के रामबहादुर राय, प्रवासी भारतीय हिंदी भूषण सम्मान नीदरलैंड्स के पुष्पिता अवस्थी, हिंदी विदेश प्रसार सम्मान सिडनी की रेखा राजवंशी, बाल साहित्य भारती सम्मान मुरादाबाद के डॉ. राकेश चक्र और गुरुग्राम के घमंडी लाल अग्रवाल को देने का फैसला किया गया.

    ‘अगर मुझे कायरता और हिंसा के बीच में चुनाव करना हो तो मैं हिंसा को चुनूंगा’ – महात्मा गांधी

    मधुलिमये साहित्य सम्मान अमरकंटक के डॉ. दिलीप सिंह को, पं. श्रीनारायण चतुर्वेदी साहित्य सम्मान गाजियाबाद के सुभाष चंदर को, विधि भूषण सम्मान दिल्ली की सन्तोष खन्ना को दिया जाएगा.

    सौहार्द सम्मान
    अलग-अलग भाषाओं के लिए दिए जाने वाले सौहार्द सम्मान के लिए कुल 14 नामों का चयन हुआ.

    – असमिया भाषा के लिए रुनू शर्मा बरुवा (असम)
    – ओड़िआ भाषा के लिए डॉ. लक्ष्मीधर दाश (पुरी)
    – उर्दू के लिए अनीस अंसारी (लखनऊ)
    – कन्नड़ भाषा के लिए डॉ. धरणेन्द्र कुरकुरी (शिरसी- कर्नाटक)
    – कश्मीरी भाषा के लिए महाराज कृष्ण संतोषी (जम्मू)
    – गुजराती भाषा के लिए डॉ. जशभाई नारणभाई पटेल (गांधीनगर)
    – डोंगरी भाषा के लिए डॉ. भारत भूषण शर्मा (जम्मू)
    – तमिल के लिए डॉ. पी.आर. वासुदेवन ‘शेष’(चेन्नई)
    – तेलुगु के लिए डॉ. सुमन लता रुद्रावझला ( हैदराबाद)
    – पंजाबी के लिए राकेश प्रेम उर्फ राकेश मेहरा (अमृतसर)
    – मराठी भाषा के लिए डॉ. केशव सिंह ‘प्रथमवीर’ (पुणे)
    – मलयालम के लिए प्रो. डी. तंकप्पन नायर ( तिरुवनन्तपुरम्)
    – संस्कृत के लिए प्रो. हरिदत्त शर्मा (प्रयागराज)
    – सिंधी भाषा के लिए सुन्दरदास (कानुपर)

    सौहार्द सम्मान से सम्मानित विद्वानों को 2.50-2.50 लाख रुपये सम्मान राशि भेंट की जाएगी.

    कुंवर नारायण- ‘लड़ाई आज भी जारी है, लोग आज भी लड़ मर रहे हैं, ईश्वर साथी है’

    मदन मोहन मालवीय विश्वविद्यालयस्तरीय सम्मान आजमगढ़ की डॉ. गीता सिंह और लखनऊ के डॉ. रामकृष्ण को दिया जाएगा.

    उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान पुस्तक सम्मान
    – तुलसी पुरस्कार ‘कुरुवंशी महान’ (विनोद शंकर शुक्ल ‘विनोद’-लखनऊ)
    – जयशंकर प्रसाद पुरस्कार ‘सरयू-शतक’ (डॉ. सत्यदेव प्रसाद द्विवेदी ‘पथिक’-लखनऊ)
    – श्रीधर पाठक पुरस्कार ‘गौरय्या का ट्वीट’ (सुश्री मोनिका- बरेली)
    – निराला पुरस्कार ‘पल-पल निखरे रूप’ (डॉ. स्वदेश मल्होत्रा ‘रश्मि’- अयोध्या)
    – दुष्यंत कुमार पुरस्कार ‘हर क़िस्सा अधूरा है’ (राज कुमार सिंह- लखनऊ)
    – महावीर प्रसाद द्विवेदी पुरस्कार ‘मनवा रे…!’ (ज्योत्स्ना प्रवाह-वाराणसी)
    – भारतेन्दु हरिश्चन्द्र पुरस्कार ‘क्रान्तिपथ और कालापानी’ (ललित सिंह पोखरिया- लखनऊ)
    – प्रेमचन्द पुरस्कार ‘बल्लव’ (दिनेश प्रताप सिंह- प्रतापगढ़)
    – यशपाल पुरस्कार ‘बनारस का एक दिन एवं अन्य कहानियाँ’ (डॉ. प्रदीप कुमार ‘नैमिष’- लखनऊ)
    – रामचन्द्र शुक्ल पुरस्कार ‘प्रसाद के नाटक: सृजन का द्वन्द्व’ (विनोद कुमार द्विवेदी- लखनऊ)
    – सच्चिदानन्द हीरानन्द वात्स्यायन ‘अज्ञेय’ पुरस्कार ‘मेरे ईश’ (अशोक कुमार धमेंनियाँ ‘अशोक’-भोपाल)
    – पाण्डेय बेचन शर्मा ‘उग्र’ पुरस्कार ‘सरयूपार के युगपुरुष’ (डॉ. कृष्ण कुमार पाण्डेय- गोरखपुर)
    – हरिशंकर परसाई पुरस्कार ‘व्हाट्सअप के पढ़े-लिखे’ (डॉ. आलोक पुराणिक- गाजियाबाद)
    – मलिक मुहम्मद जायसी पुरस्कार ‘अवधी चरनवाँ कै धूर’ (शिवपूजन शुक्ल- गोण्डा)
    – जगन्नाथदास रत्नाकर पुरस्कार ‘ब्रजभाषा मोरछल’ (नवीन सी. चतुर्वेदी- मुम्बई)
    – राहुल सांकृत्यायन पुरस्कार ‘अरज निहोरा’ (प्रकाश उदय- वाराणसी)
    – मैथिलीशरण गुप्त पुरस्कार ‘बुन्देली काव्य कुंज’ (सुकदेव कुमार व्यास- झांसी)
    – सूर पुरस्कार बाल साहित्य ‘श्रीराम कथामृतम्’ (किरण सिंह- बलिया)
    – कबीर पुरस्कार ‘हिन्दी कविता का आधुनिक परिदृश्य एवं राष्ट्रीय चेतना’ (डॉ. राधेश्याम मौर्य- प्रतापगढ़)
    – सुब्रह्मण्य भारती पुरस्कार ‘मेघदूत’ (डॉ. चन्द्रभाल सुकुमार श्रीवास्तव- वाराणसी)
    – बाबूराव विष्णु पराड़कर पुरस्कार ‘सही भाषा सरल सम्पादन’ (आदर्श प्रकाश सिंह- लखनऊ)
    – सरस्वती पुरस्कार ‘नूतन कहानिया’ (मासिक) (सम्पा. सुरेंद्र अग्निहोत्री- लखनऊ)
    – भगवानदास पुरस्कार ‘गीता सुधा संगम’ (रघोत्तम शुक्ल एवं शारदा शुक्ला- लखनऊ)
    – हजारी प्रसाद द्विवेदी पुरस्कार ‘मन मानस में राम’ (प्रो. श्रीप्रकाश मणि त्रिपाठी-अमरकंटक, म.प्र.)
    – पं. रामनरेश त्रिपाठी पुरस्कार ‘कजली साहित्य का इतिहास’ (हीरालाल मिश्र ‘मधुकर’-वाराणसी)
    – गिरिजादेवी पुरस्कार ‘ठुमरी एवं कथक’ (विधि नागर- वाराणसी)
    – बाबू श्याम सुन्दरदास पुरस्कार ‘बौद्ध दर्शन एवं प्राचीन भारतीय शिक्षा पद्धति’ (डॉ. राजेश चन्द्र गुप्ता- गोरखपुर)
    – सम्पूर्णानन्द पुरस्कार प्रविधि ‘विज्ञान की नई दिशाएं’ (डॉ. दीपक कोहली- लखनऊ)
    – बीरबल साहनी पुरस्कार ‘पर्यावरण संरक्षण’ (योगेन्द्र शर्मा- लखनऊ)
    – पं. सत्यनारायण शास्त्राी पुरस्कार ‘मिर्गी रोग: दवा एवं दायित्व’ (डॉ. अतुल अग्रवाल- लखनऊ)
    – आचार्य नरेन्द्र देव पुरस्कार ‘इतिहास के आईने में आज़मगढ़’ (प्रताप गोपेन्द्र यादव- आजमगढ़)
    – डॉ. भीमराव अम्बेडकर पुरस्कार ‘भारतीय कानून में महिलाओं के अधिकार'(सत्या सिंह-लखनऊ)
    – बालकृष्ण शर्मा ‘नवीन’ ‘नित्य कात्यायनी’ (कृष्ण चन्द पाण्डेय-वर्धा, महाराष्ट्र)
    – महादेवी वर्मा पुरस्कार ‘आँगन का शजर’ (ममता किरण- दिल्ली)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज