होम /न्यूज /साहित्य /शायर वसीम बरेलवी की सर्जरी रही सफल, सड़क हादसे में हुए थे घायल, बाएं हाथ में आए थे 2 फ्रैक्चर

शायर वसीम बरेलवी की सर्जरी रही सफल, सड़क हादसे में हुए थे घायल, बाएं हाथ में आए थे 2 फ्रैक्चर

पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने भी शायर वसीम बरेलवी से मुलाकात की है. (Photo: @AalokTweet)

पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने भी शायर वसीम बरेलवी से मुलाकात की है. (Photo: @AalokTweet)

Wasim Barelvi Accident: शायर अकील नोमानी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि प्रो. वसीम बरेलवी और वह बहरीन में मुशायरे में ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. मशहूर शायर प्रोफेसर वसीम बरेलवी (Waseem Barelvi) और अकील नोमानी (Aqeel Nomani) की सेहत अब ठीक है. वसीम बरेलवी की सर्जरी कामयाब रही है और रिकवरी हो रही है. अकील नोमानी भी अपने घर पर हैं, और पहले से काफी बेहतर हैं. दोनों कार एक्सीडेंट में जख्मी हो गए थे. वसीम बरेलवी के हाथ और सिर में चोट लगी थी, जबकि नोमानी को मामूली चोट आई थी. बरेली के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार और कैंट विधायक सुनील अग्रवाल ने अस्पताल में जाकर वसीम बरेलवी से मुलाकात की थी और उनका हालचाल जाना. संतोष गंगवार ने ट्वीट में लिखा, ‘मशहूर शायर प्रो० वसीम बरेलवी की सड़क दुर्घटना के बाद BLK – MAX अस्पताल दिल्ली, में ऑपरेशन के बाद उनकी कुशल-क्षेम लेकर अतिशीघ्र स्वस्थ होने की कामना की. उन्होंने बताया कि इतनी गंभीर सड़क दुर्घटना होने के बावजूद लोगों का प्यार व दुआओं का असर है कि वे बहुत जल्द स्वस्थ होकर घर लौटेंगे.’

मीरगंज निवासी शायर अकील नोमानी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि प्रो. वसीम बरेलवी और वह बहरीन में मुशायरे में शिरकत करने गए थे. 16 जनवरी को वे फ्लाइट से दिल्ली आए और कार बुक करके बरेली लौट रहे थे. शाम 4 बजे हापुड़ से गुजरते समय अचानक एक डंपर स्टार्ट होकर साइड से सड़क पर आ गया. कार का अगला हिस्सा डंपर में घुस गया और उन लोगों को जोर का झटका लगा. उन्होंने बताया कि वसीम बरेलवी के बाएं हाथ में काफी चोट आई थी. गनर और ड्राइवर एअरबैग खुलने से बच गए. मुझे भी चोट आई थी.

दूसरी बार शादी करने जा रहे हैं लेखक अमीश त्रिपाठी, कहा- ‘भगवान शिव की कृपा से जीवन में आई शिवानी’

वसीम बरेलवी के बाएं हाथ में दो फ्रैक्चर
बकौल अकील नोमानी स्थानीय लोग उन्हें, प्रोफेसर बरेलवी और अन्य घायलों को हापुड़ के सरकारी अस्पताल ले गए. वहां से निजी अस्पताल ले जाया गया. प्रो. वसीम बरेलवी के कई परिचित भी मौके पर पहुंच गए. वे उन्हें दिल्ली ले गए. 16 जनवरी को ही दिल्ली के बीएलके अस्पताल में ही उनका ऑपरेशन किया गया था. ऑपरेशन सफल रहा और उन्हें 18 जनवरी को हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गई थी.

सर्जरी करने वाली टीम में शामिल हड्डी एवं जोड़ रोग विशेषज्ञ डा. बृजेश्वर सिंह ने बताया कि बाएं कंधे से लेकर पूरे हाथ में फ्रैक्चर आया है. प्रोफेसर बरेलवी अपने दिल्ली आवास पर स्वास्थ लाभ ले रहे हैं. अकील ने बताया कि वह खुद घर पर आराम कर रहे हैं और अब ठीक हैं.

Tags: Literature, Literature and Art, Road Accidents

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें