लाइव टीवी

नर्मदा से अवैध रेत खनन मामले की जांच करने पहुंची 15 सदस्यीय टीम
Harda News in Hindi

praveen | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 12, 2017, 10:54 PM IST
नर्मदा से अवैध रेत खनन मामले की जांच करने पहुंची 15 सदस्यीय टीम
File Photo- ETV MP

मध्य प्रदेश के हरदा जिले में नर्मदा नदी के बीच अवैध सड़क बनाकर रेत खनन के मामले में जांच के लिए एक 15 सदस्यीय टीम ग्राम छीपानेर पहुंची है. टीम में शामिल संभाग के डिप्टी कमिश्नर संतोष वर्मा ने रेत खदानों का निरीक्षण किया.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के हरदा जिले में नर्मदा नदी के बीच अवैध सड़क बनाकर रेत खनन के मामले में जांच के लिए एक 15 सदस्यीय टीम ग्राम छीपानेर पहुंची है.

टीम में शामिल संभाग के डिप्टी कमिश्नर संतोष वर्मा ने रेत खदानों का निरीक्षण किया. इस मौके पर उनके साथ मौजूद खनिज और राजस्व विभाग की टीम ने सीमांकन की कार्रवाई शुरू की.

नर्मदा नदी में अवैध रेत उत्खनन के मामले में शासन द्वारा बनाई गयी जांच टीम के अधिकारी हरदा पहुंचे. रेत खदानों के मुआयना करने के बाद प्रथम रिपोर्ट बनाने की कार्रवाई शुरू की गयी.

दो दिन पहले रेत खदानों पर जाकर बीजेपी नेता कमल पटेल ने अवैध उत्खनन का मामला उठाया था. इस मौके पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने रेत के डम्पर भी रोके थे. आज हुई पूरी कार्रवाई के दौरान अधिकारी मीडिया से बात करने से बचते रहे.



जांच टीम में शामिल एसडीएम ने बताया की सीमांकन किया जा रहा और आंकलन के बाद ही पूरी रिपोर्ट आएगी और यह रिपोर्ट कलेक्टर को जल्द सौंपी जाएगी.

दूसरी ओर जिला प्रशासन के अधिकारियों के खिलाफ बीजेपी नेता और पूर्व मंत्री कमल पटेल ने मोर्चा खोल दिया है. कमल पटेल ने अधिकारियों पर खनिज माफिया को संरक्षण देकर शिवराज सरकार की छवि खराब करने का आरोप लगाया है.

पूर्व मंत्री ने मुख्यमंत्री से हरदा कलेक्टर, एसपी और खनिज अधिकारी को हटाने की मांग की है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 12, 2017, 10:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर