COVID 19: लॉकडाउन के बाद घर लौट रहे मज़दूरों की ऐसे मदद कर रहा आगर मालवा प्रशासन

पिछले 2 दिनों में आगर मालवा प्रशासन 300 से ज्यादा मज़दूरों को घरों तक पहुंचा चुका है
पिछले 2 दिनों में आगर मालवा प्रशासन 300 से ज्यादा मज़दूरों को घरों तक पहुंचा चुका है

कोरोना वायरस संक्रमण (Corona Virus Infection) के दौर में अपने परिवार, रोटी और सुरक्षा की चिंता में मजदूर अपने घरों को लौट रहे हैं. ऐसे में आगर मालवा जिला प्रशासन ने इनकी मदद की है.

  • Share this:
आगर मालवा. मध्य प्रदेश के आगर मालवा (Agar Malwa) में जिला प्रशासन की अच्छी पहल देखने को मिली है. जिले में लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान अन्य प्रदेशों से लगातार पैदल राहगीर गुजर रहे हैं. अधिकांश राहगीर मध्य प्रदेश के आदिवासी इलाकों से हैं, जो अन्य प्रदेशों में मजदूरी के लिए गए थे. अचानक हुए लॉकडाउन के कारण यह लोग खाने पीने रहने की समस्या के कारण पलायन करने को मजबूर हो गए तो अपने परिवार और बच्चो के साथ पैदल ही अपने घरों की ओर निकल पड़े.

3 दिनों से चल रहे हैं, पैरों में पड़े छाले
3 दिनों से लगभग 100 की संख्या में भूखे प्यासे अपने परिवार के साथ कोटा से निकले इन मेहनतकश मजदूरों ने बताया कि दैनिक मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करते थे लेकिन अचानक से सारे काम बन्द होने से वहां रहने खाने की भारी समस्या होने लगी. इस दौरान वहां बीमारी का खतरा भी मंडराने लगा तो पैदल ही सैकड़ों किलोमीटर दूर अपने घर की ओर निकल पड़े. इस दल में छोटे बच्चों के साथ महिलाएं भी हैं. चलते चलते पांव में छाले भी पड़ गए पर मजबूरी में चलना जारी रखा.

300 से ज्यादा लोगों की मदद की
आगर मालवा जिले से गुजर रहे ऐसे मजबूर लोगो पर आगर प्रशासन की नजर पड़ी तो न केवल भूख से परेशान राहगीरों को रोककर पहले खाना खिलवाया गया फिर रात्रि विश्राम की उनकी व्यवस्था करवाई गई. इस दौरान पूरी सतर्कता बरतते हुए उनका मेडिकल परीक्षण भी कराया गया. सामान्य पाए जाने पर उन्हें सैनेटाइज भी किया गया. प्रशासन ने इन्हें इनके घरों तक पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्थाएं भी की. जिला प्रशासन पिछले 2 दिनों में ऐसे 300 से ज्यादा लोगों के भोजन की व्यवस्था कर उन्हें उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचा चुका है.



ये भी पढ़ें -
जबलपुर: आर्मी बेस वर्कशॉप में ब्लास्ट, एक जवान शहीद, तीन अन्य घायल
COVID-19: CM शिवराज भोपाल की सड़कों पर उतरे और लोगों को दी ये सलाहें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज