वहशी पोते ने पहले दादी का कत्ल किया फिर चांदी के कड़े लेकर भाग निकला, पकड़ा गया शातिर

आगर मालवा जिले में चांदी के कड़े के लिए दादी का कत्ल करने वाला आरोपी पुलिस की गिरफ्त में.
आगर मालवा जिले में चांदी के कड़े के लिए दादी का कत्ल करने वाला आरोपी पुलिस की गिरफ्त में.

आगर मालवा जिले के कानड़ थाना क्षेत्र में लूट के इरादे से महिला की हत्या करने के मामले का हुआ खुलासा. महिला के रिश्तेदार ने ही वारदात को दिया था अंजाम.

  • Share this:
आगर मालवा. चांदी के कड़े और चंद रुपयों के लिए एक पोते ने अपनी 75 साल की दादी की बेदर्दी से हत्या कर दी. आगर मालवा जिले में हुई इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी के शातिर दिमाग का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उसने पहले अपनी दादी को गला दबाकर मार डाला. बाद में दादी के पैरों से चांदी के कड़े लेकर भाग निकला. यही नहीं, वारदात के समय हुए शोर-शराबे को सुनकर जब घर के बाहर सो रहा उसके एक और रिश्तेदार की नींद खुल गई, तो आरोपी ने उसे भी जान से मार डालने की कोशिश की. आगर मालवा में 19 सितंबर को हुए इस खौफनाक हत्याकांड से पुलिस ने शनिवार को पर्दा उठाया, तो घटना के पीछे की कहानी सुनकर लोगों के रोंगटे खड़े हो गए.

तार-तार हुए रिश्ते
आगर मालवा पुलिस को बीते 19 सितंबर को सूचना मिली थी कि कानड़ थाना क्षेत्र में अज्ञात बदमाश ने 75 वर्षीय बुजुर्ग महिला की गला घोंटकर हत्या कर दी है. साथ ही महिला के देवर को भी गंभीर रूप से घायल कर दिया है. पुलिस के मुताबिक अज्ञात बदमाश वारदात के बाद महिला के पैरों में पहने हुए चांदी के कड़े और घर से कुछ नगदी लूटकर भाग निकला था. जिला मुख्यालय से महज 8 किलोमीटर की दूरी पर हुआ यह दर्दनाक हत्याकांड जिले में अपनी तरह का पहला मामला था. लिहाजा पुलिस ने इसकी गंभीरता से पड़ताल शुरू कर दी.

विशेष टीम ने की जांच
पुलिस ने मामले की जांच के लिए विशेष टीम गठित की. साथ ही मौका-ए-वारदात पर डॉग स्क्वॉयड को भी ले जाया गया. घटनास्थल के आसपास के लोगों से पूछताछ के बाद शक की सुई बुजुर्ग महिला के पोते सुरेश पर जा टिकी. सुरेश उज्जैन में डंपर चलाता है और बीते दिनों अपने घर आया हुआ था. हालांकि घटना के बाद से ही वह गांव से गायब था, जिससे पुलिस का शक और गहरा गया. पुलिस ने सुरेश को गिरफ्तार कर सख्ती से पूछताछ की, तो इस खौफनाक हत्याकांड की परतें खुलती चली गईं.



Grandson killed 75 years old woman in Agar Malwa
दादी को मारने के आरोपी पोते सुरेश के पास से पुलिस ने चांदी के कड़े और नगदी बरामद कर ली है.


आरोपी ने कबूला जुर्म और बताई कहानी
पुलिस की सख्ती के आगे हत्या के आरोपी सुरेश की घिग्घी बंध गई और उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया. सुरेश ने पुलिस को बताया कि वारदात की रात वह नशे में था और दादी के पैरों की चांदी के कड़े की लालच में उसने यह जुर्म किया. उसने बताया कि वह रात 9 बजे से ही घर में पलंग के पीछे छुपा हुआ था, इसलिए दादी उसे देख नहीं पाई. देर रात करीब 12 बजे जब घर के सभी लोग गहरी नींद में थे, तब सुरेश ने दादी के पैरों से कड़े निकालने का प्रयास किया. इस पर दादी जाग गई. दादी के शोर मचाने और चोरी पकड़े जाने के डर से सुरेश ने घर में रखी बकरी बांधने की रस्सी से बुजुर्ग महिला की गला घोंटकर हत्या कर दी. दादी को मारने के बाद वह उनके पैरों से चांदी के कड़े और अलमारी में रखे 12 हजार रुपए लेकर भागने लगा. इसी बीच बाहर में सो रहे महिला के देवर यानी सुरेश के दादा मन्नाजी भी जाग गए. इस पर सुरेश हड़बड़ा गया और उसने मन्नाजी के गले को पैर से दबाते हुए मारने का प्रयास किया. लेकिन इस बीच शोर हो जाने के डर से वह भाग निकला.

पुलिस ने शातिर को धर दबोचा
आगर मालवा पुलिस ने शनिवार को इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि आरोपी सुरेश हत्याकांड के बाद भी गांव के आसपास ही था. वह घर से भागकर खेत में बनी झोपड़ी में पहुंचा और आभूषण व नगदी छुपा दी. वारदात को लेकर किसी को भी उस पर शक न हो, इसलिए वह दादी के अंतिम संस्कार में भी मौजूद रहा. लेकिन पुलिस की जांच से शातिर सुरेश बच नहीं सका. पुलिस ने सुरेश को गिरफ्तार करने के बाद उसके पास मौजूद आभूषण और नगदी बरामद कर ली है.

(रिपोर्ट - रजनीश सेठी)

यह भी पढ़ें -

'हनी ट्रैप' मामले में नया खुलासा, टारगेट पर थे कमलनाथ सरकार के 28 विधायक

हनी ट्रैप केस में गिरफ्तार तीन आरोपियों को कोर्ट ने भेजा जेल

हनीट्रैप मामला : मोबाइल में 1 हजार गंदे वीडियो, बड़े नामों से भरी हार्डडिस्क
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज