रोंगटे खड़े करता और सिस्टम की पोल खोलता Video, देखें कैसे आगर में अधजले शवों को नोच रहे हैं श्वान

कोरोना प्रोटोकॉल के तहत परिवार वाले अंतिम संस्कार नहीं कर पा रहे हैं.

कोरोना प्रोटोकॉल के तहत परिवार वाले अंतिम संस्कार नहीं कर पा रहे हैं.

आगर. बुधवार को 3 शवों का दाह संस्कार किया गया था. इन शवों के दाह संस्कार में शायद लापरवाही की गई. क्योंकि शव पूरी तरह जल नहीं सके. इन अधजले शवों को आज सुबह से श्वान नोंचते रहे.

  • Share this:
आगर मालवा. आगर मालवा में सिस्टम को शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है. आगर के मुक्तिधाम पर कोरोना (Corona) प्रोटोकाल के तहत दाह संस्कार किये अधजले शवों (Deadbody) को श्वान नोंच रहे हैं. इसकी विचलित करने वाली तस्वीरें सामने आई हैं. कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े ने इसे गंभीर अमानवीय लापरवाही बताते हुए कार्रवाई की मांग की है. जिले के कोरोना प्रभारी मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि देखते हैं इसे.

आगर मालवा जिला मुख्यालय पर बड़े तालाब के पास मुक्तिधाम है. कोरोना के कारण मौतों का आंकड़ा बढ़ने पर इस घाट पर एकाएक अंतिम संस्कार के लिए पहुंचने वाली लाशों में भी इजाफा हो गया.

दाह संस्कार में लापरवाही

कोरोना संक्रमितों का दाह संस्कार प्रशासन की ओर से कोरोना प्रोटोकाल के तहत किया जा रहा है. बुधवार को भी 3 शवों का दाह संस्कार किया गया था. इन शवों के दाह संस्कार में शायद लापरवाही की गई. क्योंकि शव पूरी तरह जल नहीं सके. इन अधजले शवों को आज सुबह से श्वान नोंचते रहे. इसका वीडियो वायरल हुआ है. चूंकि कोरोना प्रोटोकाल के तहत मृतकों के परिवार दाह संस्कार नहीं कर पा रहे हैं इसलिए प्रशासन ही शवों का दाह संस्कार करवा रहा है.
Youtube Video

प्रभारी मंत्री से शिकायत

क्षेत्रीय कांग्रेस विधायक विपिन वानखेड़े ने इसे बेहद अमानवीय घटना बताया. उन्होंने इसे गंभीर लापरवाही बताते हुए सख्त कार्रवाई की मांग की है. इस बीच कोरोना समीक्षा बैठक में शामिल होने प्रदेश के शिक्षा और कोरोना प्रभारी मंत्री इंदर सिंह परमार आगर मालवा पहुंचे. उन्होंने इतना ही कहा कि देखते हैं मामले को.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज