आगर मालवा में गोबर के गणेश से आशीर्वाद लेने के लिए उमड़ी भक्‍तों की भीड़
Agar-Malwa News in Hindi

आगर मालवा में गोबर के गणेश से आशीर्वाद लेने के लिए उमड़ी भक्‍तों की भीड़
गोबर से बनी श्रीगणेश की प्रतिमा.

आगर मालवा जिले में गोबर गणेश से आशीर्वाद लेने के लिए भक्‍तों की भीड़ उमड रही है. गोबर के अति प्राचीन ये श्रीगणेश श्रद्धालुओं के आकर्षण के केन्‍द्र बने हुए हैं.

  • Share this:
आगर मालवा जिले में गोबर गणेश से आशीर्वाद लेने के लिए भक्‍तों की भीड़ उमड रही है. गोबर के अति प्राचीन ये श्रीगणेश श्रद्धालुओं के आकर्षण के केन्‍द्र बने हुए हैं.

दस दिवसीय गणेश उत्‍सव के दौरान जिले के नलखेड़ा में गणेश दरवाजा स्थित प्राचीन गणेश मंदिर में  श्रीगणेश की पांच सौ वर्ष से अधिक पुरानी गोबर से बनी प्रतिमा का अनुपम शृंगार किया गया है.

भक्‍तों की मनोकामनाएं पूर्ण करने वाले भगवान श्रीगणेश के मनोहारी शृंगार के दर्शन का लाभ लेने नगर सहित आसपास के कई स्थानों से बड़ी संख्या में भक्तजन पहुंच रहे हैं.



राजा नल की नगरी नलखेड़ा में पांडवकालीन पीतांबरा सिद्धपीठ मां बगलामुखी का प्राचीन मंदिर होने से यह नगर देश सहित विदेशों में प्रसिद्धी प्राप्‍त कर रहा है.
वहीं नलखेड़ा नगर के मध्‍य बीच चौराहे पर गणेश दरवाजा स्थित गणेश मंदिर में अत्‍यंत ही प्राचीन 10 फीट ऊंची गणपतिजी की प्रतिमा विराजमान है, जो कि इन दिनों आकर्षण का केन्‍द्र बनी हुई है. नगर के मुख्‍य द्वार पर इस प्रतिमा की स्‍थापना किसने की, इसका उल्‍लेख तो कहीं नहीं मिलता है परन्‍तु पुरातत्‍ववेत्ताओं के अनुसार यह प्रतिमा 500 वर्ष से अधिक पुरानी होकर गोबर से निर्मित है.

गोबर के श्रीगणेश की इस विशाल प्रतिमा के साथ साथ आसपास रिद्धी सिद्धी की प्रतिमाएं भी विराजित हैं. साथ ही प्रतिमा के पैरों के समीप मुषक बना हुआ है तो ए‍क हाथ में लड्डु बना हुआ है. कमल के फुल पर विराजित यह प्रतिमा आकृषक शृंगार से और भी अनुपम दिखाई देती है.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading