लाइव टीवी

आगर-मालवा : आचार संहिता उल्लंघन मामले में नगर पालिका के 11 कर्मचारियों पर गिरी गाज

Rajneesh Sethi | News18 Madhya Pradesh
Updated: April 13, 2019, 7:17 AM IST
आगर-मालवा : आचार संहिता उल्लंघन मामले में नगर पालिका के 11 कर्मचारियों पर गिरी गाज
सांकेतिक तस्वीर

मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला कलेक्टर अजय गुप्ता ने 6 कर्मचारियों को पदमुक्त किया है और 5 को निलंबित कर दिया है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के आगर-मालवा में आचार संहिता उल्लंघन के मामले में नगर पालिका के ग्यारह कर्मचारियों पर गाज गिरी है. मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला कलेक्टर अजय गुप्ता ने  6 कर्मचारियों को पदमुक्त किया है और 5 को निलंबित कर दिया है. इन कर्मचारियों पर देवास संसदीय क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी महेंद्र सोलंकी की सभा मे मंच पर जा कर स्वागत करने का आरोप था. निलंबित होने वाले 5 कर्मचारी स्थाई है जबकि कार्यमुक्त होने वाले 6 कर्मचारी अस्थाई थे.

बता दें कि दो दिन पहले बुधवार को देवास-शाजापुर लोकसभा के भाजपा प्रत्याशी महेंद्र सोलंकी आगर- मालवा मे भाजपा कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करने पहुचे थे. कार्यक्रम में नगर पालिका के कर्मचारियों ने भाजपा की सदस्यता ली थी. इन कर्मचारियों ने भाजपा प्रत्याशी महेंद्र सोलंकी का मंच पर जाकर स्वागत किया था. जिसकी शिकायत जिला कलेक्टर को प्राप्त हुई थी.  मामले की जांच में प्रथम दृष्टया आचार सहिता का उल्लंघन मानते हुए 11 कर्मचारियों के खिलाफ  कार्रवाई की गई है.

बयान पर विवाद-

न्यायाधीश पद से इस्तीफा देकर राजनीति में आए देवास लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी प्रत्याशी महेंद्र सोलंकी अपने ही बयान पर फंस गए हैं. 'मध्य प्रदेश में अपनी सरकार क्यों नहीं बन सकी' वाले बयान पर कांग्रेसियों ने आपत्ति जताई है. कांग्रेस ने विरोध जताते हुए सोलंकी के कार्यकाल में दिए गए निर्णयों की जांच की मांग की है.

बीजेपी प्रत्याशी सोलंकी ने आगर में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि ‘साल 2018 में मैंने भाजपा के एक बड़े पदाधिकारी से फोन करके पूछा कि मध्य प्रदेश में अपनी सरकार क्यों नहीं बन सकी. इस पर उन्होंने कहा कि तुम्हारे जैसा युवा जिसे जमीन पर कार्य करना चाहिए वो एसी में बैठे हुए हैं. तुम जमीन पर आओ तो अपने आप सरकार बनेगी. बाद में उन्हीं भाई साहब का फोन आया कि चुनाव लड़ने की इच्छा है ?  मैंने सहर्ष स्वीकार किया और अब बीजेपी ने मुझे देवास लोकसभा से प्रत्यशी बनाया है''.

गौरतलब है कि महेंद्र सोलंकी 2018 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान न्यायधीश पद पर आसीन थे. ऐसे में भाजपा के पदाधिकारी से संपर्क कर, अपनी सरकार नहीं बनने पर पूछना, कई सवाल खड़े करता हैं.

ये भी पढ़ें- MP: रूठों को मनाना बीजेपी-कांग्रेस के लिए बना सिरदर्द, बागी बिगाड़ रहे हैं खेल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए आगर मालवा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 12, 2019, 6:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...