लाइव टीवी

5 बीवियों के महंगे शौक पूरा करने के लिए 50 लड़कियों को बनाया शिकार, ऐसे करता था ठगी

Manoj Kumar Rathor | News18Hindi
Updated: October 16, 2019, 11:13 PM IST
5 बीवियों के महंगे शौक पूरा करने के लिए 50 लड़कियों को बनाया शिकार, ऐसे करता था ठगी
दिलशाद और उसके एक साथी को एसटीएफ गिरफ्तार कर चुकी है और बाकी लोगों से पूछताछ कर रही है. (Photo News18)

भोपाल (Bhopal) के एम्स (AIIMS) में नर्स (Nurse) के पद पर नौकरी दिलाने की बात कहकर आरोपी, युवतियों को फंसाता था. गैंग के एक सदस्य की पत्नी एम्स में सुपरिटेंडेंट के पद पर है. इसी का फायदा आरोपी ने उठाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 16, 2019, 11:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. जबलपुर (Jabalpur) के रहने वाले दिलशाद ने एक-दो नहीं 5 लड़कियों से निकाह किया. सभी से एक-एक, दो-दो बच्चे भी हुए. लेकिन जैसे-जैसे 5 बीवियों वाला परिवार बढ़ने लगा तो दिलशाद घर चलाने में असमर्थ हो गया. उधर 5 बीवियों के महंगे शौक के चलते उसके परिवार की गाड़ी पटरी से उतरती चली गई. एक वक्त ऐसा आया कि दिलशाद परिवार चलाने के लिए ठगी करने लगा. एसटीएफ (STF) द्वारा पकड़े जाने से पहले दिलशाद 50 युवतियों को ठग चुका है.

5 बीवियों पर हर महीने खर्च होते थे लाखों रुपये
दिलशाद ने एसटीएफ को बताया कि उसकी 5 बीवियों में चौथी बीवी जबलपुर में एक निजी अस्‍पताल चलाती है. बाकी की चार घर पर ही रहती हैं. बीवी और बच्चों के महंगे शौक पूरे करने के चक्कर में वह गलत काम करने लगा. फिर उसे एक आइडिया सूझा और उसने एक गैंग बनाई. गैंग की मदद से वह पढ़ी-लिखी युवतियों को नर्स बनाने का झांसा देने लगा. भोपाल के एम्स में नर्स के पद पर नौकरी दिलाने की बात कहकर वो युवतियों को फंसाता था. गैंग के एक सदस्य की पत्नी एम्स में सुपरिटेंडेंट के पद पर है. इसी का उसने फायदा उठाया.

50 से अधिक लड़कियों को ठगा

अभी तक एसटीएफ ने दिलशाद खान निवासी जबलपुर और आलोक कुमार बामने निवासी भोपाल को गिरफ्तार किया है. बाकी के आरोपियों से पूछताछ की जा रही है. भोपाल एसटीएफ पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि विशेष रणनीति बनाकर गिरोह को पकड़ने में सफलता मिली. गिरोह नर्स के पद पर भर्ती कराने के नाम पर अब तक 50 से अधिक लड़कियों से लाखों रुपये की ठगी कर चुका है. उन्होंने बताया कि एसटीएफ को लगातार शिकायत मिल रही थी कि एम्स में नर्स के पद पर भर्ती कराने का झांसा देकर युवतियों के साथ धोखाधड़ी की जा रही है. एसटीएफ के पास कई युवतियों ने ठगी की लिखित में शिकायत भी की थी.

ये भी पढ़ें-

सीएम योगी का दीवाली तोहफा, देश में बनने वाली तोप पर यूपी के इस जिले का लिखा जाएगा नाम
Loading...

अपने बारे में फैलाए जा रहे झूठ का अब ऐसे पर्दाफाश करेगी केजरीवाल सरकार

CM Yogi ने क्यों कहा, 'ट्रैफिक पुलिस जांच के नाम पर आतंक न फैलाए’

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए भोपाल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 16, 2019, 7:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...