Home /News /madhya-pradesh /

man married 3 girlfriends after 15 years of live in relationship 6 children attended unique wedding mpns

शख्स ने एक ही मंडप में लिए 3 दुल्हनों के साथ सात फेरे, खुद ही बताई अनोखी वजह

OMG: एमपी के अलीराजपुर में एक शख्स ने 15 साल बाद अपनी तीन प्रेमिकाओं के साथ शादी की. तीनों के 6 बच्चे भी शादी में शामिल हुए.

OMG: एमपी के अलीराजपुर में एक शख्स ने 15 साल बाद अपनी तीन प्रेमिकाओं के साथ शादी की. तीनों के 6 बच्चे भी शादी में शामिल हुए.

Man Marries 3 Partners At Same Time in Alirajpur: आदिवासी बहुल अलीराजपुर जिले के समर्थ मौर्या उर्फ समरथ (Samarth Maurya Wedding) की शादी सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बनी हुई है. अनोखी शादी नानपुर गांव के हुई. समरथ ने 15 साल के लिव-इन रिलेशन के बाद अपनी तीन प्रेमिकाओं नान बाई, मेला ओर सकरी के साथ एक ही मंडप में शादी कर ली. शादी देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा. हैरान करने वाली बात यह रही कि इस शादी में उनके 6 बच्चे भी शामिल हुए. समरथ कई साल पहले तीनों को अलग-अलग समय पर भगा लाया था. समरथ की 15 साल पहले माली हालत अच्‍छी नहीं थी. तीनों प्रेमिकाओं से शादी के बाद उसका समय बदला और आर्थिक स्थिति ठीक हो गई. इसलिए उसने तीनों से शादी करना ही उचित समझा. शादी का निमंत्रण कार्ड भी छपवाया और बाकायदा तीनों प्रेमिकाओं का नाम उसमें छापा गया.

अधिक पढ़ें ...

अलीराजपुर. मध्य प्रदेश के आदिवासी बहुल अलीराजपुर जिले के नानपुर गांव में अनोखी शादी हुई. इस शादी में एक दूल्हे ने एक ही मंडप में तीन दुल्हनों के साथ जीने-मरने की कसम खाई. ये अनोखी शादी नानपुर गांव के मोरी फलिए में हुई. दूल्हे समरथ ने दुल्‍हन नान बाई, मेला ओर सकरी के साथ एक ही मंडप में शादी की. इस अनोखे विवाह को देखने लोगों की भीड़ लग गई. समरथ को इन तीनों लड़कियों के साथ अलग-अलग समय पर प्‍यार हुआ. अब तीनों ने एक साथ उसके साथ आदिवासी रीति-रिवाज से शादी की.

जानकारी के मुताबिक, समरथ मौर्य तीनों लड़कियों को अलग-अलग समय पर भगाकर लाया था. ये शादी उसने 15 साल बाद की. खास बात तो यह भी है कि 3 प्रेमिकाओं से हुए 6 बच्‍चों की मौजूदगी में उसने यह शादी की. बता दें, कि आदिवासी परंपरा व मान्‍यता के अनुसार जब तक कोई व्‍यक्ति आदिवासी रीति-रिवाज के साथ शादी नहीं रचाता है तब तक उस परिवार के सदस्‍य को मांगलिक कार्य में शामिल होने की इजाजत नहीं होती. इसी के चलते समरथ ने अपनी 3 प्रेमिकाओं के साथ 15 साल बाद सात फेरे लिए हैं.

मौर्या ने बताया, “30 अप्रैल को मैंने रीति-रिवाजों के अनुसार शादी की है. जब तक शादी नहीं हो जाती, तब तक हमारी जाति-बिरादरी के सामाजिक फंक्शन में शामिल होने की अनुमति नहीं होती.”

समाज में लिव-इन में रहने की छूट

आदिवासी भिलाला समुदाय में लिव-इन में रहना और बच्चे पैदा करने की छूट है. लेकिन, ऐसे लोग समाज के किसी परिवार की खुशी में शामिल नहीं हो सकते. समरथ की 15 साल पहले माली हालत अच्‍छी नहीं थी. तीनों प्रेमिकाओं से शादी के बाद उसका समय बदला और आर्थिक स्थिति ठीक हो गई. इसलिए उसने तीनों से शादी करना ही उचित समझा. दूल्हे ने शादी का निमंत्रण कार्ड भी छपवाया और बाकायदा तीनों प्रेमिकाओं का नाम उसमें छापा गया.

लोगों ने कही ये बात

इस मौके पर लोगों ने बताया कि भारतीय संविधान का अनुच्‍छेद 342 आदिवासी  रीति-रिवाज ओर विश्ष्टि सामाजिक परंपराओं को संरक्षण देता है. इसलिए अनुच्‍छेद के मुताबिक नानपुरके समरथ की एक साथ तीन दुल्‍हनों के साथ शादी करना गैर कानूनी नहीं. लोगों ने कहा कि हर शख्स को वैसे ही स्वीकार करना चाहिए, जैसा वो है. इस शादी की खासियत है कि तीनों महिलाएं सबकुछ जानते हुए भी बड़े प्रेम से एक साथ रह रही हैं. उनके बच्चे भी आपस में प्रेम से रहते हैं.

Tags: Mp news, OMG News

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर