तीस हजार रुपए की रिश्‍वत लेते हुए पंचायत समन्वयक गिरफ्तार
Anuppur News in Hindi

तीस हजार रुपए की रिश्‍वत लेते हुए पंचायत समन्वयक गिरफ्तार
लोकायुक्त की टीम

लोकायुक्त की टीम ने शिकायत मिलने के बाद जनपद पंचायत जैतहरी के समन्वयक पुष्पेंद्र तिवारी को 30,000 रूपए रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ लिया. पंचायत समन्वयक का कहना है कि सीईओ के कहने पर रिश्वत की की मांग की थी.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के अनूपपुर जिले में लोकायुक्त की टीम ने शनिवार जनपद पंचायत जैतहरी के समन्वयक पुष्पेंद्र तिवारी को 30 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया. पंचायत समन्वयक का कहना है कि उसने सीईओ के कहने पर रिश्वत ली थी.

शिकायतकर्ता संतोष टण्डन ने बताया कि वे ग्राम पंचायत बरगवां के उपसरपंच हैं. उन्होंने पंचायत में 2 लाख 40 हजार रुपए की लागत से सड़क निर्माण का काम कराया था. निर्माण काम का बिल पास करने के एवज में सीईओ एसके वाजपेयी निर्माण कार्य की तीन प्रतिशत राशि रिश्वत के तौर पर मांग रहे थे. तय रिश्वत को सीईओ ने समन्वयक पुष्पेन्द्र तिवारी को देने की बात कही थी. मैंने पूरे मामले की शिकायत पहले ही लोकायुक्त टीम को की थी, जो शनिवार को तय समय पर पहुंची और पुष्पेन्द्र तिवारी को पकड़ लिया

लोकायुक्त डीएस पी देवेश पाठक ने बताया कि पुष्पेन्द्र तिवारी  रिश्वत के 30 हजार रुपए अपने बैग में रख रहे थे, तभी हमारी टीम ने उन्हें पकड़ लिया. यह कार्रवाई लोकायुक्त की 15 सदस्यीय टीम ने की है, जिसकी अगुआई डीएसपी देवेश पाठक, निरीक्षक हितेंद्र नाथ शर्मा ने की.



यह भी पढ़ें- एमपी में अफसर के ठिकानों पर लोकायुक्‍त का छापा, प्रॉपर्टी जानकर हैरान रह जाएंगे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading