अपना शहर चुनें

States

कॉलेज में सिंधिया ने दिया भाषण, प्राचार्य को सरकार ने किया सस्पेंड

ज्योतिरादित्य सिंधिया
ज्योतिरादित्य सिंधिया

सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के छात्र-छात्राओं से संवाद करना उच्च शिक्षा विभाग को इतना नागवार गुजरा कि विभाग ने पूरे आयोजन को राजनैतिक करार देते हुए प्राचार्य को ही निलंबित कर दिया है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के अशोक नगर जिले के मुंगावली के गणेश शंकर विद्यार्थी कॉलेज में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के छात्र-छात्राओं से संवाद करना उच्च शिक्षा विभाग को इतना नागवार गुजरा कि विभाग ने पूरे आयोजन को राजनैतिक करार देते हुए प्राचार्य को ही निलंबित कर दिया है.

बुधवार देर शाम जारी आदेश में प्राचार्य बीएल अहिरवार के निलंबन आदेश में उन्हें अशोक नगर से शहडोल अटैच करते हुए उन पर कॉलेज में राजनैतिक दल के जमावड़े समेत राजनैतिक दल का चुनाव चिन्ह वाले आयोजन करने संबंधी आरोप लगाए गए हैं. हालांकि, प्राचार्य ने स्पष्ट किया है कि सिंधिया छात्र-छात्राओं के आमंत्रण पर करियर काउंसलिंग के लिए आए थे.

सिंधिया समर्थकों ने उच्च शिक्षा विभाग के इस फैसले को शिवराज सरकार की दमनकारी नीतियों का परिणाम बताया है. इस घटनाक्रम की जानकारी देते हुए कांग्रेस प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने बताया कि मंगलवार को स्थानीय सांसद होने के नाते सिंधिया मुंगावली के गणेशशंकर विद्यार्थी कॉलेज में पहुंचे थे. यहां छात्र-छात्राओं ने सिंधिया के जोरदार स्वागत के बाद आयोजित संवाद के दौरान फर्नीचर, जरूरी किताबें और पेयजन की व्यवस्था नहीं होने संबंधी शिकायत की थी. इसके बाद सिंधिया ने छात्र-छात्राओं की मांग पर फर्नीचर, पुस्तकों और पेयजल की व्यवस्था के लिए सांसद निधि से 3 लाख रुपए देने की घोषणा की थी.



मुंगावली के इस कार्यक्रम की शिकायत स्थानीय भाजपा नेताओं ने उच्चशिक्षा मंत्री जयभानसिंह पवैया से की थी. प्राचार्य अहिरवार के मुताबिक विभागीय मंत्री ने शिकायत की पुष्टि किए बिना ही उन्हें निलंबित कर शहडोल अटैच कर दिया. लिहाजा वे इस मामले में वस्तुस्थिति विभाग के समक्ष स्पष्ट करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज