अपना शहर चुनें

States

सिंधिया को बुलाने पर कॉलेज प्रिंसिपल सस्पेंड, कांग्रेस ने कार्रवाई को बताया दलित विरोधी

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

मध्य प्रदेश के अशोक नगर जिले के मुंगावली में सरकारी कॉलेज में कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के संबोधन के बाद प्रिंसिपल को हटाने पर बवाल उठ खड़ा हुआ है.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के अशोक नगर जिले के मुंगावली में सरकारी कॉलेज में कांग्रेस सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के संबोधन के बाद प्रिंसिपल को हटाने पर बवाल उठ खड़ा हुआ है.

कांग्रेस ने सरकार की कार्रवाई को राजनैतिक द्वेष से प्रेरित बताया है. कांग्रेस ने प्रिंसिपल को हटाने पर सरकार को दलित विरोधी करार दिया है.

कांग्रेस के मुताबिक सांसद के प्रोटोकॉल के नाते सिंधिया शैक्षणिक संस्थाओं में जाने के लिए अधिकृत है और बीजेपी सरकार इसे कांग्रेस का प्रचार बताकर लोगों को गुमराह करने का काम कर रही है.



क्या है पूरा मामला
अशोक नगर जिले के मुंगावली के गणेश शंकर विद्यार्थी कॉलेज में सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के छात्र-छात्राओं से संवाद के बाद उच्च शिक्षा विभाग ने पूरे आयोजन को राजनैतिक करार देते हुए प्राचार्य को ही निलंबित कर दिया है.

बुधवार देर शाम जारी आदेश में प्राचार्य बीएल अहिरवार के निलंबन आदेश में उन्हें अशोक नगर से शहडोल अटैच करते हुए उन पर कॉलेज में राजनैतिक दल के जमावड़े समेत राजनैतिक दल का चुनाव चिन्ह वाले आयोजन करने संबंधी आरोप लगाए गए हैं. हालांकि, प्राचार्य ने स्पष्ट किया है कि सिंधिया छात्र-छात्राओं के आमंत्रण पर करियर काउंसलिंग के लिए आए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज