Lockdown: MP के बड़वानी में एक और मजदूर की मौत, झारखंड के रास्ते में तोड़ा दम
Barwani News in Hindi

Lockdown: MP के बड़वानी में एक और मजदूर की मौत, झारखंड के रास्ते में तोड़ा दम
बीते दिनों सहारनपुर में पंजाब के लुधियाना से पैदल ही यूपी के हरदोई जा रहे विपिन कुमार की भूख से मौत हो गई.

Lockdown: महाराष्ट्र से झारखंड के बगोदर जाते समय बड़वानी में तबीयत खराब होने से प्रवासी मजदूर की हुई मौत. वीडियो कॉल से परिजनों ने किया अंतिम दर्शन.

  • Share this:
पंकज शुक्ला

बड़वानी. मध्य प्रदेश में एक तरफ जहां कोरोना वायरस (COVID-19) ने कहर मचा रखा है, वहीं प्रवासी मजदूरों (Migrant Labour) की मौत के बढ़ते मामलों ने भी शासन-प्रशासन की चिंताएं बढ़ा दी हैं. प्रदेश के बड़वानी (Barwani) में आज एक और मजदूर की मौत हो गई. लॉकडाउन (Lockdown) के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग 3 पर जुलवानिया में शुक्रवार को एक मजदूर ने दम तोड़ दिया. मध्य प्रदेश पुलिस के मुताबिक 29 साल का झरीलाल यादव महाराष्ट्र से अपने घर झारखंड के लिए रवाना हुआ था. लेकिन बड़वानी पहुंचने के बाद अचानक उसकी तबीयत खराब हो गई. जब तक उसे अस्पताल पहुंचाया जाता, उसकी मौत हो गई. पिछले कुछ दिनों में बड़वानी जिले में ये आठवें मजदूर की मौत हुई है.

बड़वानी में ही हुआ अंतिम संस्कार



लॉकडाउन के बीच महाराष्ट्र से अपने घर झारखंड के बगोदर जा रहे झरीलाल यादव की मौत के बाद उसका अंतिम संस्कार बड़वानी में ही कर दिया गया. जुलवानिया थाना प्रभारी तारा मंडलोई ने बताया कि झरीलाल यादव बगोदर के कोडीडाही चौधरीबांध का रहने वाला था. बड़वानी पहुंचने के बाद जब उसकी तबीयत अचानक बिगड़ने लगी तो उसके सहयोगी उसे तुरंत एंबुलेंस से अस्पताल ले गए. लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई. अस्पताल पहुंचने के बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.
Lockdown: MP के बड़वानी में एक और मजदूर की मौत, झारखंड के रास्ते में तोड़ा दम | lockdown-on-the-way-to-jharkhand-another-labour-died-in-barwani-mpps
झारखंड के बगोदर का रहने वाला था झरीलाल यादव.


वीडियो कॉल से घरवालों ने किए अंतिम दर्शन

जुलवानिया पुलिस के मुताबिक मजदूर की मौत के बाद उसे झारखंड ले जाना संभव नहीं था. इसलिए बड़वानी में ही एक समाजसेवी संस्थान ने उसके अंतिम संस्कार के प्रबंध किए. लॉकडाउन की वजह से परिजन आ नहीं सकते थे, इसलिए वीडियो कॉल कर उन्हें अंतिम दर्शन कराया गया. थाना प्रभारी ने बताया कि जुलवानिया पुलिस ने मजदूर की मौत के मामले में मर्ग कायम कर लिया है. उन्होंने बताया कि पिछले कुछ दिनों में जिले में 8 मजदूरों की मौत हुई है.

बड़वानी में मजदूरों ने किया था प्रदर्शन

गौरतलब है कि मुंबई-आगरा हाईवे पर गुरुवार को प्रवासी मजदूरों ने जबर्दस्त प्रदर्शन किया था. महाराष्ट्र-मध्य प्रदेश की सीमा पर सेंधवा कस्बे के पास गुरुवार को सैकड़ों मजदूरों ने भोजन और घर पहुंचाने की मांग को लेकर पथराव किया था. इसके बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मजदूरों से शांति बनाए रखने की अपील करते हुए कहा था कि सभी प्रवासी मजदूरों के भोजन और परिवहन की व्यवस्था राज्य सरकार करेगी. उन्होंने कहा था कि प्रदेश सरकार एक-एक मजदूर को उनके गंतव्य तक पहुंचाएगी.

ये भी पढ़ें-

BJP की योजना पर भारी पड़ सकता है कमलनाथ का 'प्लान 22'!

कांग्रेस ने पूछा-प्रज्ञा ठाकुर कहां हैं!जवाब मिला-आपकी प्रताड़ना झेल रही हूं..
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज