लाइव टीवी

MLA ग्यारसीलाल रावत के कार्यालय पर सेंधवा मंडी के कर्मचारियों का हंगामा, लगाया ये आरोप

News18 Madhya Pradesh
Updated: September 23, 2019, 11:53 PM IST
MLA ग्यारसीलाल रावत के कार्यालय पर सेंधवा मंडी के कर्मचारियों का हंगामा, लगाया ये आरोप
सेंधवा विधायक ग्यारसीलाल रावत के कार्यालय पर बवाल.

सेंधवा मंडी के कर्मचारी लामबंद होकर सेंधवा विधायक ग्यारसीलाल रावत (Sendhwa MLA Gyarsilal Rawat) के कार्यालय पहुंचे जहां सभी कर्मचारियों ने कार्यालय में मौजूद विजय पाठक (Vijay Pathak) को खूब खरी-खोटी सुनाई.

  • Share this:
बड़वानी. सेंधवा विधायक ग्यारसी लाल रावत (Sendhwa MLA Gyarsilal Rawat) के कार्यालय पर सेंधवा मंडी के कर्मचारियों (Sendhwa Mandi Employees) ने जमकर हंगामा किया. मंडी के कर्मचारियों ने यह आरोप लगाया कि विजय पाठक ( Vijay Pathak) अपने आप को विधायक प्रतिनिधि बताकर कार्यालयों में आकर आए दिन परेशान करता है और साथ ही स्थानांतरण-निलंबन की धमकी देता है. इस दौरान विधायक कार्यालय में मौजूद विजय पाठक से मंडी कर्मचारियों की जमकर बहस हुई और फिर आक्रोशित कर्मचारियों ने सेंधवा शहर थाने पर पहुंचकर विजय पाठक के खिलाफ मामला दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया है. हालांकि इस मामले में विधायक ग्यारसी लाल और विजय पाठक ने आरोपों को निराधार बताया है.

कर्मचारियों ने पाठक को सुनाई खरी-खोटी
सेंधवा मंडी के कर्मचारी लामबंद होकर सेंधवा विधायक ग्यारसी लाल रावत के कार्यालय पहुंचे जहां सभी कर्मचारियों ने कार्यालय में मौजूद विजय पाठक को खूब खरी-खोटी सुनाई. हालांकि उस वक्‍त विधायक मौजूद नहीं थे. जबकि कर्मचारियों ने आरोप लगाए की विजय पाठक के द्वारा मंडी कार्यालय में आकर आए दिन कर्मचारियों को प्रताड़ित किया जाता है. साथ ही उन्हें निलंबित और स्थानांतरण करने की भी धमकी दी जाती है. आज कर्मचारियों का आक्रोश फूट जाने की पीछे कारण यह रहा कि विजय पाठक ने मंडी पहुंचकर मंडी सचिव पर दबाव बनाकर अधिकांश कर्मचारियों के रजिस्टर पर अनुपस्थिति दर्ज करा दी. जबकि कर्मचारियों का कहना है कि मंडी के अधिकांश कर्मचारी फील्ड पर रहते हैं जिसके चलते नियत समय पर कार्यालय नहीं रहते हैं. ऐसे में अनुपस्थिति लगाना गलत है. यही नहीं, 23 सितंबर के साथ-साथ 24 सितंबर की भी अनुपस्थिति रजिस्टर में दर्ज करा दी गई, जिसके चलते अनीति के खिलाफ आक्रोश सातवें आसमान पर पहुंच गया.

आक्रोशित कर्मचारियों ने सेंधवा एसडीएम से भी बात करने का हवाला दिया


कर्मचारियों ने दिया एफआईआर का आवेदन
आक्रोशित कर्मचारियों ने सेंधवा एसडीएम से भी बात करने का हवाला दिया और कहा कि उन्होंने भी एफआईआर दर्ज कराने के लिए कहां है. इसके बाद सभी कर्मचारियों ने थाने पहुंचकर एफआईआर दर्ज करने के लिए थाने पर आवेदन दे दिया, जिसमें थाना प्रभारी के द्वारा 2 कर्मचारियों के बयान भी ले लिए हैं, जिसकी जांच के उपरांत आगे की कार्रवाई करने की बात कही है.

पाठक ने आरोपों को बताया निराधार
Loading...

इस मामले में विजय पाठक ने बताया कि सारे आरोप निराधार हैं. हालांकि उन्‍होंने इस बात को कबूल किया है कि वह मंडी में पहुंचे थे जहां कर्मचारी अनुपस्थित थे और मंडी सचिव के द्वारा ही अनुपस्थिति लगाई गई. जबकि विधायक ग्यारसी लाल रावत ने कार्यालय में आकर हंगामा करना गलत करार देते हुए कहा कि विजय पाठक उनके कार्यालय में काम करते हैं, लेकिन उनसे कोई शिकायत थी तो कर्मचारियों को उनसे खुद आकर मुलाकात करना थी.

(रिपोर्ट- पंकज शुक्ला, बड़वानी)

ये भी पढ़ें-

BJP के हल्‍ला बोल कार्यक्रम के दौरान टूटा मंच, पूर्व गृह मंत्री, MP और विधायक के नीचे गिरने से मची अफरातफरी

कमलनाथ सरकार ने बाढ़ पीड़ितों के लिए खोला पिटारा, 15 अक्‍टूबर तक सभी को मिलेगा मुआवजा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बड़वानी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 23, 2019, 11:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...