लाइव टीवी

बड़वानी में रैगिंग का मामला, छात्र ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या की कोशिश की

Pankaj Shukla | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: August 28, 2017, 5:02 PM IST
बड़वानी में रैगिंग का मामला, छात्र ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या की कोशिश की
सीनियरों के मारपीट करने से इस छात्र को एक कान से सुनाई नहीं देती.

मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले के निवाली छात्रावास में रैगिंग का सनसनीखेज मामला सामने आया है. रैगिंग से परेशान एक छात्र ने वापस हॉस्टल नहीं जाने की बात को लेकर कीटनाशक पीकर आत्महत्या का प्रयास किया, वहीं एक छात्र का कहना है कि सीनियर छात्रों द्वारा मारपीट के बाद उसके एक कान से उसे सुनाई तक नहीं दे रहा.

  • Share this:
मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले के निवाली छात्रावास में रैगिंग का सनसनीखेज मामला सामने आया है. रैगिंग से परेशान एक छात्र ने वापस हॉस्टल नहीं जाने की बात को लेकर कीटनाशक पीकर आत्महत्या का प्रयास किया, वहीं एक छात्र का कहना है कि सीनियर छात्रों द्वारा मारपीट के बाद उसके एक कान से उसे सुनाई तक नहीं दे रहा.

वहीं इस पूरे मामले में हॉस्टल से 8 छात्रों को सस्पेंड किया गया है और रैगिंग के मामले की शिकायत के बाद जांच की जा रही है.

बड़वानी निवाली के शासकीय उत्कृष्ट मैट्रिक बालक आदिवासी छात्रावास में सीनियर छात्रों द्वारा जूनियर छात्रों से रैगिंग का सनसनीखेज मामला सामने आया है. जूनियर छात्रों का कहना है की सीनियर छात्रों द्वारा उनसे मारपीट की जाती है और परेशान किया जाता है. रैगिंग से परेशान कक्षा नौवीं के छात्र विवेक वास्कले सेंधवा के समीप ग्राम जामनिया में अपने घर चला गया था. जब घरवालों द्वारा उसे हॉस्टल में वापस जाने की बात कही गई तो उसने शनिवार को कीटनाशक पीकर आत्महत्या का प्रयास किया.

बालक को शासकीय अस्पताल में उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है, लेकिन वह बालक सीनियरों द्वारा मारपीट नहीं करने पर ही हॉस्टल में जाने की बात कह रहा है.

वही इसी हॉस्टल में रहने वाले कक्षा नौवीं के एक छात्र जगदीश का कहना है कि सीनियरों ने उसे इतना मारा गया कि उसके एक कान से सुनाई देना तक बंद हो गया. हॉस्टल में पढ़ने वाले कई बच्चों का कहना है कि सीनियर छात्र उन्हें आए दिन परेशान करते हैं.

रैगिंग की बात को मानते हुए हॉस्टल अधीक्षक का कहना है कि एक तारीख को ऐसी घटना हुई थी. इस मामले को लेकर उच्च अधिकारियों को लिखित में अवगत करा दिया गया है, जिसके चलते एक जांच समिति बनाई गई. हाल फिलहाल मेें 8 बच्चों को सस्पेंड कर दिया गया है.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बड़वानी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 28, 2017, 5:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर