लाइव टीवी

राज्यसभा चुनाव: बीमार नेता प्रतिपक्ष और जेल में बंद विधायक को नहीं मिलेगा डाक मतपत्र

Arun Kumar Trivedi | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: June 6, 2016, 6:36 PM IST
राज्यसभा चुनाव: बीमार नेता प्रतिपक्ष और जेल में बंद विधायक को नहीं मिलेगा डाक मतपत्र
राज्यसभा चुनाव को लेकर मध्य प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के बाहर नेताओं का जमावड़ा.

मध्य प्रदेश में राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवार विवेक तन्खा के लिए एक-एक वोट जुटाने में लगी कांग्रेस को उस समय करारा झटका लगा, जब चुनाव आयोग ने उसके दो विधायकों को डाक मतपत्र जारी करने से इंकार कर दिया.

  • Share this:
मध्य प्रदेश में राज्यसभा चुनाव में उम्मीदवार विवेक तन्खा के लिए एक-एक वोट जुटाने में लगी कांग्रेस को उस समय करारा झटका लगा, जब चुनाव आयोग ने उसके दो विधायकों को डाक मतपत्र जारी करने से इंकार कर दिया.

चुनाव आयोग की मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सलीना सिंह ने कहा कि, बीमार व्यक्ति को डाक मतपत्र से वोट डालने का प्रावधान नहीं है. वहीं, बड़वानी जेल में बंद विधायक रमेश पटेल भी वोट डालने के हकदार नहीं हैं. यानी नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे और बड़वानी विधायक रमेश पटेल मतदान में हिस्सा नहीं ले सकेंगे, जो कांग्रेस के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है.

राज्यसभा चुनाव के घमासान के बीच विधानसभा ने राज्यसभा की तीसरी सीट के लिए मतदान को लेकर कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष सत्यदेव कटारे, बड़वानी विधायक रमेश पटेल और घोड़ाडोंगरी के विजयी प्रत्याशी को लेकर मार्गदर्शन मांगा था.

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय ने इसे चुनाव आयोग को भेजा था. आयोग ने जवाब में बताया कि स्वास्थ्य कारणों और जेल में बंद होने से डाक मतपत्र जारी करने का प्रावधान नहीं है.

चुनाव आयोग की सीईओ सलीना सिंह ने कहा कि बीमार व्यक्ति के लिए डाक मतपत्र का प्रावधान नहीं है. वहीं यदि व्यक्ति प्रिवेंटिव डिटेन्शन में है तो मताधिकार का प्रयोग कर सकता है, लेकिन रमेश पटेल के मामले में ऐसा नहीं है इसलिए वो भी वोट नहीं डाल पाएंगे.

चुनाव आयोग के मार्गदर्शन के बाद विधानसभा के प्रमुख सचिव और राज्यसभा चुनाव में रिटर्निग ऑफिसर भगवानदेव इसरानी ने कहा कि, अब कांग्रेस के दोनो विधायक मतदान में शामिल नहीं हो पाएंगे. वहीं, घोड़ाडोंगरी उपचुनाव जीते बीजेपी विधायक मंगल सिंह धुर्वे को मंगलवार को विधानसभा में शपथ दिलाई जाएगी जिससे वो अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे.

यदि कटारे और पटेल के वोट नहीं डले तो कांग्रेस के सदस्यों की संख्या 57 से घटकर 55 रह जाएगी. हालांकि, बसपा का समर्थन मिलने के बाद कांग्रेस सेफ जोन में है.इसके बावजूद कांग्रेस कोई जोखिम नहीं लेना चाहती है. इस वजह से सत्यदेव कटारे को लेकर कांग्रेस ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है, जिसकी सुनवाई 9 जून को होगी. वहीं, रमेश पटेल का वोट डलवाने के लिए जमानत कराने की तैयारी की जा रही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बड़वानी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 6, 2016, 6:36 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर