सोशल मीडिया में वायरल एक पोस्ट पर PHQ अलर्ट, बड़वानी SP से मांगी रिपोर्ट
Barwani News in Hindi

सोशल मीडिया में वायरल एक पोस्ट पर PHQ अलर्ट, बड़वानी SP से मांगी रिपोर्ट
बड़वानी एसपी

बड़वानी एसपी का कहना है फेसबुक पर जो आपत्तिजनक पोस्ट वायरल हुई है, उसका जल्द ही पता लगाया जाएगा. जो पत्र फेसबुक पर डाला गया है वो पुलिस की रुटीन प्रक्रिया है. विदेश से आने वाली हर जमात को की जानकारी देने के लिए ऐसा पत्र दिया जाता है.

  • Share this:
बड़वानी की एक मस्जिद में जमात के ठहरने की एक पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल हो रही थी.  पोस्ट में कहा गया था कि जमात नियम विरुद्ध ठहरी और उसकी गतिविधि संदिग्ध है. मामला गंभीर और अति संवेदनशील होने पर पुलिस मुख्यालय ने बड़वानी एसपी से विस्तृत रिपोर्ट  तलब की है. हालांकि इस बीच जमात के मैनेजर और बड़वानी पुलिस का कहना है कि सब कुछ नियम कायदे के तहत हुआ. पोस्ट के बारे में तहकीकात की जा रही है.

पोस्ट फेसबुक पर वायरल होने के बाद news18 ने इसकी पड़ताल की. बड़वानी में जमात का मैनेजमेंट देखने वाले अब्दुल हक से बात की तो उन्होंने पोस्ट में लिखी बातों का खंडन किया. उन्होंने बताया, इंडोनेशिया और थाईलैंड से आयी इस जमात ने वीजा और भारत सरकार की सभी शर्तें पूरी की थीं..जमात बड़वानी और गुजरात के अंजड़ के 7 दिन के दौरे पर थी. उसकी यात्रा की पूरी जानकारी और दस्तावेज थाने पर दिए गए थे. 7 दिन पूरे होते ही जमात को यहां से रवाना कर दिया गया.

ये भी पढ़ें-कमलनाथ सरकार का एक और वादा पूरा, तेंदुपत्ता संग्राहकों को मिलेगा ज़्यादा पैसा



अब्दुल हक़ ने बताया जमात की हर गतिविधि की जानकारी पुलिस को दे दी गई थी. उन्होंने कहा जमात किसी कानून का ना तो उल्लंघन किया. फेसबुक पर जो पोस्ट वायरल हुई है वो किसी शरारती तत्व की साज़िश है. तबलीगी जमात पर सरकार और प्रशासन ने किसी का प्रतिबंध नहीं लगाया गया है.
ये भी पढ़ें - PHOTOS: बुजुर्ग यात्रियों को लेकर चल पड़ी सीएम कमलनाथ की कुंभ स्पेशल ट्रेन

इस बारे में बड़वानी एसपी का कहना है फेसबुक पर जो आपत्तिजनक पोस्ट वायरल हुई है, उसका जल्द ही पता लगाया जाएगा. जो पत्र फेसबुक पर डाला गया है वो पुलिस की रुटीन प्रक्रिया है. विदेश से आने वाली हर जमात को नियम की जानकारी देने के लिए ऐसा पत्र दिया जाता है. तबलीगी जमात पर किसी प्रकार का प्रतिबंध नहीं था.

ये भी पढ़ें - शिवराज सिंह चौहान भी चले पीएम मोदी की राह, ये है उनका प्लान

सोशल मीडिया पर दो दिन से एक पोस्ट वायरल हो रही थी. उसमें कहा गया था कि बड़वानी की एक मस्जिद में एक ऐसी विदेशी जमात रुकी हुई है, जिस पर प्रतिबंध है. और वो वीजा नियमों के ख़िलाफ यहां रुकी है. यहां तक कहा गया कि मध्य प्रदेश में विदेशी इस्लामिक समूह की पुलिस ने संदिग्ध गतिविधि पकड़ी.ये विदेशी जमात एक मस्जिद में रुकी है और उस पर पुलिस को एतराज़ था. उसकी गतिविधियों को देखकर पुलिस ने उन्हें वीजा नियम बताए और फिर बड़वानी से भगा दिया.

15 लोगों की जमात में थाईलैंड और इंडोनेशिया के लोग शामिल थे. पोस्ट में आगे लिखा गया था कि जमात की बड़वानी में संदिग्ध गतिविधि को देखते हुए पुलिस ने उसे ज़िले से निकाल दिया. वो टूरिस्ट वीजा पर यहां आयी थी और मस्जिद में ठहरी है. ये भी आरोप लगाया गया कि विदेशी जमात लोकल इस्लामिक समूहों को फंडिंग कर रही है, जिसकी पुलिस जांच कर रही है.

LIVE कवरेज देखने के लिए क्लिक करें न्यूज18 मध्य प्रदेशछत्तीसगढ़ लाइव टीवी


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading