Home /News /madhya-pradesh /

24 घंटे से तनों के बीच फंसा रहा नन्हा भालू, पास घूमती रही मां, फिर ऐसे किया रेस्क्यू, VIDEO

24 घंटे से तनों के बीच फंसा रहा नन्हा भालू, पास घूमती रही मां, फिर ऐसे किया रेस्क्यू, VIDEO

Baby Bear Rescue Video: बैतूल में सतपुड़ा टाइगर रिजर्व की टीम ने पेड़ के तनों में फंसे भालू के बच्चे को बचा लिया.

Baby Bear Rescue Video: बैतूल में सतपुड़ा टाइगर रिजर्व की टीम ने पेड़ के तनों में फंसे भालू के बच्चे को बचा लिया.

Baby bear rescue video: एमपी के बैतूल में सतपुड़ा टाइगर रिजर्व की टीम ने भालू के बच्चे को रेस्क्यू किया. नन्हा भालू 24 घंटे से परेशान हो रहा था, क्योंकि उसका पैर पेड़ के तनों में फंस गया था. टीम जब उसे निकालने गई तो देखा कि भालू की मां भी वहीं घूम रही है. बच्चे के पास जाते ही वह हमलावर हो जाती. इसलिए रेस्क्यू टीम ने पहले बाजा बजाया और फिर मशाल जलाई. शोर सुनकर मादा भालू बच्चे से काफी दूर चली गई. इसके बाद लंबा तार लाया गया. इस तार को पेड़ के तने से बांधा गया. टीम ने इसे खींचकर पेड़ का एक तना तोड़ दिया और भालू का बच्चा मुक्त हो गया.

अधिक पढ़ें ...

बैतूल. बैतूल में 24 घंटे से पेड़ के तनों के बीच फंसे भालू को सतपुड़ा टाइगर रिजर्व की टीम ने रेस्क्यू कर लिया. पैर फंसने से नन्हे भालू को भारी परेशानी हो रही थी. उसकी मां भी हालांकि पास ही मौजूद थी, लेकिन वह बच्चे को नहीं निकाल सकी. मामला मुलताई में सदाप्रसन्न घाट के जंगली इलाके का है. रेस्क्यू टीम को बच्चे को निकालने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी. इस रेस्क्यू का वीडियो सामने आते ही वायरल हो गया है.

वायरल वीडियो में स्पष्ट देखा जा सकता है कि सतपुड़ा टाइगर रिजर्व के कर्मचारी हाथों मे मशाल लिए भालू के बच्चे को निकालने की मशक्कत कर रहे हैं. मुलताई के स्थानीय बीट गार्ड परिक्षेत्र अधिकारियों ने बताया कि हमारी टीम जब सावरी बीट के कक्ष पीएफ-939 की पहाड़ी पर पहुंची तो देखा कि भालू का बच्चा पेड़ के तनों में फंसा हुआ है और झटपटा रहा है. हमने तुरंत उसे निकालने की सोची, लेकिन परेशानी ये थी कि उसकी मां वहीं घूम रही थी. अगर उस वक्त बच्चे को हाथ लगाते तो वह टीम पर हमला कर देती.

इस तरह किया रेस्क्यू

अधिकारी ने बताया कि जब मामला गंभीर लगने लगा तो एसटीआर टीम को बुलाया गया. टीम ने पहले मौके का मुआयना किया. जब कर्मचारियों ने देखा कि मां किसी भी परिस्थिति में बच्चे के पास से नहीं हटेगी तो फिर रेस्क्यू का दूसरा प्लान बनाया गया. प्लान के मुताबिक, उस जगह पर बाजा और मशाल लाई गई. बाजे की आवाज और आग से मादा भालू परेशान होकर भाग गई. इसके बाद कर्मचारी लंबा तार ले आए. इस तार को पेड़ के तने से बांधा गया. टीम ने इसे खींचकर पेड़ का एक तना तोड़ दिया और भालू का बच्चा मुक्त होकर पीछे की ओर लुढ़क गया.

Tags: Betul news, Mp news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर